कैंसर से जूझ रही हैं ये भारतीय निशानेबाज, हॉस्पिटल के बिस्‍तर से इंटरनेशनल चैंपियनशिप में लिया हिस्‍सा

कैंसर से जूझ रही हैं ये भारतीय निशानेबाज, हॉस्पिटल के बिस्‍तर से इंटरनेशनल चैंपियनशिप में लिया हिस्‍सा
यह युवा निशोनबाज कोलकाता के अस्पताल में कैसर का इलाज करा रही है (सांकेतिक फोटो)

यह युवा निशानेबाज कीमोथेरेपी से गुजर रही है और वो ह काफी समय से निशानेबाजी नहीं कर पा रही हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण जहां देश में खेल के मैदान सूने पड़े हुए हैं, वहीं भारतीय निशानेबाज इंटरनेशनल शूटिंग टूर्नामेंट में हिस्‍सा ले रहे हैं. भले ही ये इंटरनेशनल टूर्नामेंट ऑनलाइन चल रही हो. मगर इस टूर्नामेंट ने कैंसर से जूझ रही भारत की नेशनल स्‍तर की निशानेबाज के चेहरे पर मुस्‍कान ला दी. जो मुश्किल के इस समय में कोलकाता के अस्पताल में कैसर का इलाज करा रही है. इस खिलाड़ी ने अस्पताल के अपने बिस्तर से जूम ऐप के जरिए दूसरी अंतरराष्ट्रीय ऑनलाइन निशानेबाजी चैम्पियनशिप में भाग लिया. उन्होंने इस पहल पर खुशी भी जताई और मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन का हिस्सा भी बनी. उन्होंने कहा कि वें इस मंच पर आकर बहुत खुश हैं. वह शूटिंग को काफी याद कर रही थी.

लंबे समय से शूटिंग से दूर
कीमोथेरेपी से गुजर रही इस युवा निशानेबाज ने कहा आप सब के साथ होना शानदार है. आप सब को देखकर काफी खुशी हुई. इस पहल का श्रेय भारत के पूर्व निशानेबाज शिमोन शरीफ को जाता है जिन्होंने ओलिंपियन जॉयदीप करमाकर के साथ इस निशानेबाज का स्वागत किया. जॉयदीप और शरीफ दोनों इस टूर्नामेंट के लिए कमेंट्री टीम का हिस्सा थे. टूर्नामेंट का मकसद कोविड-19 महामारी से बचाव चल रहे लॉकडाउन के बीच निशानेबाजों के बीच प्रतिस्पर्धा बनाए रखने का था. लंदन ओलिंपिक  में मामूली अंतर से पदक चूकने वाले जॉयदीप ने कहा कि वह काफी समय से निशानेबाजी नहीं कर पा रही हैं. हमारे लिए यह बड़ी बात है कि वह अस्पताल के बिस्तर से हमारे साथ ऑनलाइन प्रतियोगिता में शामिल हुई. यह निश्चित रूप से हमारे लिए अच्‍छा पल है.

ऐसे किया जा रहा है आयोजन
इस प्रतियोगिता के लिए बस एक ‘इलेक्ट्रॉनिक टार्गेट सेटअप’ और इंटरनेट कनेक्शन वाला मोबाइल फोन चाहिए. भारत से इस प्रतियोगिता में मनु भाकर, संजीव राजपूत और दिव्यांश सिंह पंवार हिस्सा ले रहे हैं. इस प्रतियोगिता में करीब 50 निशानेबाज हिस्सा ले रहे हैं , जिसमें दिल्ली में 2019 विश्व कप की दो स्वर्ण पदक विजेता वेरोनिका मेजर (हंगरी), निकोलस फ्रागा कोरेडोइरा (स्पेन), स्कॉटलैंड की एमिलिया फॉकनर, इसोबेल मैकटागार्ट और लुसी इवांस शामिल हैं. कोरोना वायरस के कारण अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी खेल महासंघ ने इस साल अपने सभी टूर्नामेंट रद्द कर दिए हैं जिसमें विश्व कप भी शामिल हैं. शरीफ ने कहा कि इस बार केवल शीर्ष निशानेबाज ही भाग लेंगे, बाद में हम सभी के लिए टूर्नामेंट आयोजित करेंगे, जिसमें पुरस्कार राशि भी होगी.



शोएब अख्तर ने आज ही फेंकी थी सबसे तेज गेंद, ICC ने कर दिया था मानने से इनकार

'खेलने का मौका न मिलने के कारण समय की बर्बादी है फिटनेस ट्रेनिंग'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading