चेस ओलिंपियाड जीतने पर प्रधानमंत्री मोदी-सचिन तेंदुलकर ने दी बधाई, भारतीय खिलाड़ियों की जमकर की तारीफ

चेस ओलिंपियाड जीतने पर प्रधानमंत्री मोदी-सचिन तेंदुलकर ने दी बधाई, भारतीय खिलाड़ियों की जमकर की तारीफ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फाइल फोटो (PIB)

मुकाबले में पहले रूस (Russia) को विजेता घोषित किया गया था लेकिन भारत (India) ने इसके खिलाफ अपील क्योंकि फाइनल में निहाल सरीन और दिव्या देशमुख ने सर्वर के साथ कनेक्शन नहीं बन पाया था

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2020, 8:34 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. रविवार को फाइनल में इंटरनेट और सर्वर की खराबी के बाद भारत (India)  रूस को संयुक्त विजेता घोषित किया गया. कोविड-19 के कारण पहली बार शतरंज ओलंपियाड का ऑनलाइन आयोजन किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 2020 ऑनलाइन शतरंज ओलंपियाड में रूस के साथ संयुक्त चैंपियन बने भारतीय खिलाड़ियों को बधाई देते हुए कहा कि उनकी सफलता अन्य खिलाड़ियों को प्रेरित करेगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्वीट करके दी बधाई
प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘हमारे शतरंज खिलाड़ियों को फिडे ऑनलाइन शतरंज ओलंपियाड जीतने पर बधाई. उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण सराहनीय है. उनकी सफलता निश्चित तौर पर अन्य शतरंज खिलाड़ियों को प्रेरित करेगी. मैं रूसी टीम को भी बधाई देता हूं. ’


वहीं भारतीय दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'भारतीय खेल के लिए कितना शानदार हफ्ता रहा है. हमने शुक्रवार को खेल दिवस मनाया और अब हमारी चेस टीम चैंपियन बन गई है. आनंद औऱ पूरी टीम को बधाई.'



राहुल गांधी ने भी दी बधाई
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारतीय शतरंज टीम को रविवार को शतरंज ओलंपियाड के फाइनल के लिये शुभकामनायें जी थी  और कहा था कि करोड़ों लोग उनकी जीत की कामना कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत के लिये यह गर्व की बात है कि टीम पहली बार शतरंज ओलंपियाड के फाइनल में पहुंची है. राहुल ने ट्वीट किया, ‘ऑनलाइन शतरंज ओलंपियाड के लिये भारतीय टीम को शुभकामनाये. पहली बार फाइनल्स में पहुंचना गर्व की बात है. जीत हासिल कीजिये. करोड़ों लोग इसकी कामना कर रहे हैं.’

पहले रूस को विजेता घोषित किया गया क्योंकि फाइनल में भारत के दो खिलाड़ियों निहाल सरीन और दिव्या देशमुख ने सर्वर के साथ कनेक्शन नहीं बन पाने से समय गंवाया. भारत ने इस विवादास्पद फैसले पर विरोध व्यक्त किया जिसके बाद इसकी समीक्षा की गयी. अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ (फिडे) के लिये यह पहला अवसर था जबकि उसने कोविड-19 महामारी के कारण ओलंपियाड का ऑनलाइन आयोजन किया. फिडे के आधिकारिक बयान में उसके अध्यक्ष आर्काडी डोवोरकोविच ने कहा कि वैश्विक स्तर पर इंटरनेट की खराबी से भारत सहित कई देश प्रभावित है तथा करीबी जांच के बाद ही यह फैसला किया गया.



सुरेश रैना ने खराब होटल रूम की वजह से छोड़ा आईपीएल, धोनी से भी हुआ विवाद!

मॉर्गन और मलान के तूफान में उड़े पाकिस्तानी गेंदबाज, नहीं बचा पाए 195 रनों का विशाल स्कोर

विश्वनाथन आनंद ने दी बधाई
फाइनल के बाद भारत के दिग्गज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद (Viswanathan Anand) ने ट्वीट किया, 'हम चैंपियन है. रूस को बधाई. ' फाइनल का पहला दौर 3-3 से बराबर रहा था. पहली छह बाजियां बराबरी पर छूटी थी. रूस ने दूसरा दौर 4.5-1.5 से जीता. उसकी तरफ से आंद्रेई एस्पिेंको ने सरीन को जबकि पोलिना शुवालोवा ने देशमुख पर जीत दर्ज की. इससे विवाद हो गया क्योंकि भारतीयों ने दावा किया खराब कनेक्शन के कारण उन्हें हार मिली.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading