टॉप खिलाड़ियों को नहीं दे सकता अपना सारा समय - गोपीचंद

नेशनल बैडमिंटन कोच गोपीचंद पीवी सिंधु और सायना नेहवाल जैसे खिलाड़ियों के साथ अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में साथ नहीं जा रहे हैं

News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 11:31 PM IST
टॉप खिलाड़ियों को नहीं दे सकता अपना सारा समय - गोपीचंद
नेशनल कोच गोपीचंद और पीवी सिंधु (ap)
News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 11:31 PM IST
हाल के कुछ दिनों में भारत के नेशनल बैडमिंटन कोच पुलैला गोपीचंद टॉप शटलरर्स के साथ टूर्नामेंट में साथ नहीं दिखाई दे रहे थे. अब गोपीचंद ने इसकी वजह साफ करते हुए बताया कि वह इस खेल को नए स्टार देने की कोशिश में लगे हुए हैं.

गोपीचंद इस साल पीवी सिंधु के साथ टूर्नामेंट के दौरान दौरे नहीं कर रहे हैं और ना ही वह अगले साल ऐसा करने वाले हैं. इसकी वजह बताते हुए गोपीचंद ने कहा, 'अगर मैं सिर्फ खिलाड़ियों के साथ ट्रेवल करता रहूंगा तो आने वाले बैज का क्या होगा. ऐसी स्थिति में भारत को दूसरी सिंधु नहीं मिल पाएगी. हमें और कोच की आवश्यकता है मैं अकेला सबकुछ नहीं कर सकता. मुझे मदद और समर्थन की जरूरत है.'

पीवी सिंधु, सायना नेहवाल और पुलैला गोपीचंद (pti)
पीवी सिंधु, सायना नेहवाल और पुलैला गोपीचंद (pti)


पिछले महीने रिपोर्ट आई थी कि सिंधू और गोपीचंद के बीच रिश्ते पहले जैसे नहीं रहे और कुछ अनबन चल रही है. गोपीचंद ने इन खबरों को बकवास करार दिया था. गोपीचंद ने कहा, 'हर कोई चाहता है कि उस पर ध्यान दिया जाए और कोर्ट पर वह मेरा अधिक समय चाहते हैं जो कि संभव नहीं है. मुझसे कहा जाता है कि आप नहीं थे इसलिए मैं हार गया/गई अगर आप साथ में होते तो मैं जीत जाता/जाती. मैं 2008-09 से हर साल जो कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स और ओलिंपिक वर्ष होता है तब यात्रा पर जाता रहा हूं और अन्य वर्षों में दौरे पर नहीं जाता. इसलिए इस साल मैं किसी दौरे पर नहीं जा रहा हूं, लेकिन 2020 में मैं दौरे पर जाऊंगा.'

ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट विजेता सिंधू, लंदन ओलिंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट सायना नेहवाल और किंदाबी श्रीकांत सहित भारत के सभी टॉप शटलर खिलाड़ियों को गोपीचंद की देखरेख में ही सफलता मिली है, लेकिन अब उनके पास शीर्ष खिलाड़ियों को देने के लिए पर्याप्त समय नहीं है.

2022 FIFA WC Qualifiers: भारत को मिला मुश्किल ड्रॉ, मेजबान कतर के साथ ओमान भी ग्रुप में
First published: July 17, 2019, 11:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...