‌सिंधु ने रचा इतिहास...मगर कोच गोपीचंद भारतीय बैडमिंटन के भविष्य को लेकर चिंतित

भाषा
Updated: August 28, 2019, 1:47 PM IST
‌सिंधु ने रचा इतिहास...मगर कोच गोपीचंद भारतीय बैडमिंटन के भविष्य को लेकर चिंतित
पुलेला गोपीचंद ने पीवी सिंधु, किदांबी श्रीकांत, सायना नेहवाल जैसे वर्ल्ड क्लास खिलाड़ियों को तैयार किया है

कोच पुलेला गोपीचंद (Pullela Gopichand) का मानना है कि देश ने कोचों में पर्याप्त निवेश नहीं किया है.

  • Share this:
भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (PV Sindhu) को वर्ल्ड चैंपियन बनाने के बावजूद कोच पुलेला गोपीचंद (Pullela Gopichand) भारत के भविष्य को लेकर चिंतित हैं. उनका मानना है कि देश ने कोचों में पर्याप्त निवेश नहीं किया है. सिंधु के साथ प्रेस कॉफ्रेंस में मौजूद गोपीचंद ने कहा कि यह स्वीकार करना होगा कि जिस तेजी से प्रतिभाएं सामने आ रही हैं, उन्‍हें संभालने के लिए पर्याप्त कोच नहीं हैं.

द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता गोपीचंद को सिंधु ही नहीं बल्कि सायना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत सहित कई खिलाड़ियों को निखारने का श्रेय भी जाता है. उन्होंने कहा कि हम स्तरीय कोच तैयार नहीं कर पा रहे हैं और यह ट्रेनिंग कार्यक्रम नहीं है. यह हमारे आसपास के माहौल से जुड़ा मामला है. इसलिए हमें इस खाई को पाटने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरूरत है.

रणनीति बनाने के लिए अधिक कोचों की जरूरत

गोपीचंद का मानना है कि तेजी से सामने आ रही प्रतिभाओं को संभालने के लिए अधिक कोचों की जरूरत है


गोपीचंद ने कहा कि टीम के साथ साउथ कोरिया के किम जी ह्युन जैसे कुछ विदेशी कोच हैं, लेकिन सामने आ रही प्रतिभा को संभलाने के लिए अधिक कोचों की जरूरत है. गोपीचंद ने कहा कि अनुभवी इंटरनेशनल खिलाड़ियों के खिलाफ मैचों की रणनीति बनाने के लिए अधिक कोचों की जरूरत है. उन्होंने कहा कि हमने इसे हासिल नहीं किया है. उम्मीद करता हूं कि जब इस पीढ़ी के लोग जाएंगे तो हमें असल में ये लोग मिलेंगे. अगर ये लोग दोबारा कोचिंग से जुड़ते हैं तो हमें उतने कोच मिल जाएंगे जितने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि व्यस्त कार्यक्रम के कारण भी अधिक कोचों और फिजियोथेरेपिस्ट की जरूरत है.

पीवी सिंधु ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में जापान की नोजोमी ओकुहारा को मात देकर गोल्ड मेडल जीता था और वो ऐसा करने वाली पहली भारतीय  खिलाड़ी भी बन गई.

नडाल और ओसाका अगले दौर में, ये बड़े खिलाड़ी हुए बाहर
Loading...

बच्चों की फीस तक नहीं दे पा रहा शूटर, लौटाएगा अर्जुन अवार्ड!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 1:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...