बीजेपी सांसद राज्‍यवर्धन राठौड़ के बेटे का शूटिंग में कमाल, 3 गोल्‍ड सहित 4 मेडल जीते

बीजेपी सांसद राज्‍यवर्धन राठौड़ के बेटे का शूटिंग में कमाल, 3 गोल्‍ड सहित 4 मेडल जीते
मानवादित्‍य राठौड़.

राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़ (Rajyavardhan Singh Rathore) निशानेबाजी में चैंपियन प्‍लेयर रहे हैं. उन्‍होंने 2004 एथेंस ओलिंपिक में डबल ट्रेप इवेंट में सिल्‍वर मेडल जीता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2019, 5:17 PM IST
  • Share this:
पूर्व मंत्री और बीजेपी सांसद राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़ (Rajyavardhan Singh Rathore) के बेटे मानवादित्‍य सिंह राठौड़ (Manvaditya Singh Rathore) ने निशानेबाजी में पिता के नक्‍शेकदम पर चलते हुए सोने पर निशाना लगाया है. उन्‍होंने 18वीं राजस्‍थान स्‍टेट ओपन शूटिंग चैंपियनशिप (Rajasthan State Open Shooting Champioship) में अलग-अलग कैटेगरी में 3 गोल्‍ड मेडल सहित कुल 4 पदक जीते. उन्‍होंने ट्रैप जूनियर, डबल ट्रैप सीनियर और जूनियर में गोल्‍ड जीते. वहीं सीनियर ट्रैप में वे गोल्‍ड जीतने वाले अधिराज सिंह राठौड़ के बराबर रहे लेकिन काउंटबैक नियम के चलते उन्‍हें रजत पदक मिला. यह प्रतियोगिता जयपुर की जगतपुरा शूटिंग रेंज में आयोजित हुई.

राज्‍यवर्धन ने एथेंस ओलिंपिक में जीता था सिल्‍वर
राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़ भी निशानेबाजी में चैंपियन रहे हैं. उन्‍होंने 2004 एथेंस ओलिंपिक में डबल ट्रेप इवेंट में सिल्‍वर मेडल जीता था. उस समय तक यह ओलिंपिक में किसी भी भारतीय का व्‍यक्तिगत तौर पर सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन था. बाद में 2008 में अभिनव बिंद्रा ने गोल्‍ड मेडल जीता था.

राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़ अभी जयपुर ग्रामीण से सांसद हैं. वे दूसरी बार संसद पहुंचे हैं. नरेंद्र मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में वह केंद्रीय मंत्री थे.



खेलो इंडिया में भी गोल्‍ड जीत चुके हैं मानवादित्‍य
इससे पहले मानवादित्‍य ने साल की शुरुआत में खेलो इंडिया में भी गोल्‍ड मेडल जीता था. उन्‍होंने अंडर-21 ट्रैप निशानेबाजी में गोल्ड पर निशाना लगाया था. उस समय उन्‍होंने अपनी तैयारी के बारे में बताया था, 'आपके पास दो ऑप्‍शन होते हैं या तो लड़ो या भाग जाओ. जब आप ट्रेनिंग में पूरी जान लगाते हैं तब आपकी अंतरात्‍मा आपको हार नहीं मानने देती.'

मानवादित्‍य राठौड़.


TOPS में शामिल हैं मानवादित्‍य
उन्‍हें भारतीय खेल प्राधिकरण की ओलिंपिक खेलों के लिए टार्गेट ओलिंपिक पॉडियम स्‍कीम में भी शामिल किया गया है. वे अपनी तैयारी का श्रेय पिता राज्‍यवर्धन राठौड़ को देते हैं. मानवादित्‍य देश के साथ ही विदेश में भी ट्रेनिंग करते हैं और अलग-अलग प्रतियोगिताओं में भी हिस्‍सा लेते रहे हैं.

तूफानी गेंदबाजी के बाद पैरों पर खड़े नहीं हो पा रहे आर्चर!

आर्चर को लेकर अख्तर के ट्वीट पर युवी ने दिया ये मजेदार जवाब
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज