लाइव टीवी

मोदी सरकार का सचिन तेंदुलकर और विश्वनाथन आनंद को करारा झटका, इस हाई-प्रोफाइल समिति से किया बाहर

News18Hindi
Updated: January 21, 2020, 5:25 PM IST
मोदी सरकार का सचिन तेंदुलकर और विश्वनाथन आनंद को करारा झटका, इस हाई-प्रोफाइल समिति से किया बाहर
सचिन तेंदुलकर और विश्वनाथन आनंद को इस समिति में तत्कालीन खेल मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने शामिल किया था. (फाइल फोटो)

केंद्र सरकार (Central Government) की सलाहकार समिति (Advisory Panel) ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ स्पोर्ट्स में नए सदस्यों के तौर पर क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) और क्रिस श्रीकांत (Kris Srikkanth) को शामिल किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 21, 2020, 5:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और पांच बार के वर्ल्ड चैंपियन ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद (vishwanathan anand) को केंद्र सरकार (Central Government) से तगड़ा झटका लगा है. अपने-अपने खेलों के इन दोनों दिग्गजों को केंद्र सरकार की सलाहकार समिति (Advisory Panel) ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ स्पोर्ट्स (All India Council Of Sports) (एआईसीएस) से बाहर कर दिया गया है. इस समिति को खेलों के विकास संबंधी मामलों में सरकार की मदद करने के उद्देश्य से बनाया गया था.

एआईसीएस खेल मंत्रालय की सलाहकार संस्था है जिसका गठन 2015 में तत्कालीन खेल मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने किया था. इसका कार्यकाल तीन साल बढ़ा दिया गया है और अनुभवी खेल प्रशासक विजय कुमार मल्होत्रा इसके अध्यक्ष बने रहेंगे. परिषद में जिन अन्य प्रमुख खिलाड़ियों को शामिल किया गया है उनमें पूर्व निशानेबाज अंजलि भागवत, फुटबाॅलर रेनेडी सिंह और पर्वतारोही बछेंद्री पाल भी शामिल हैं. भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को भी परिषद में शामिल किया गया है. पिछले पैनल में शामिल लिंबा राम और पीटी उषा को कोच के तौर पर परिषद में बनाए रखा गया है.

cricket news, sports news, sachin tendulkar, Vishwanathan Anand, chess, government advisory panel, क्रिकेट न्यूज, सचिन तेंदुलकर, चेस, शतरंज, विश्वनाथन आनंद, सरकारी सलाहकार समिति, गवर्नमेंट एडवायजरी पैनल
विश्वनाथन आनंद की गिनती दुनिया के सर्वश्रेष्ठ चेस खिलाड़ियों में की जाती है. (फाइल फोटो)


इन दिग्गजों को किया टीम से बाहर



पिछली परिषद से जिन अन्य खिलाड़ियों को हटाया गया है उनमें भारोत्तोलक एन कुंजारानी देवी, फुटबाॅलर आईएम विजयन और बाईचुंग भूटिया, राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद और स्टार इंडिया के सीईओ उदय शंकर शामिल हैं जिन्हें खेल विशेषज्ञ के रूप में परिषद में रखा गया था। माना जा रहा है कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और विश्वनाथन आनंद (vishwanathan anand) को इसलिए समिति से बाहर किया गया है क्योंकि वह समिति की एक या दो ही बैठकों में शामिल हुए थे. जहां तक पुलेला गोपीचंद की बात है तो इसी साल होने वाले टोक्यो ओलिंपिक को देखते हुए वह भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों के साथ व्यस्त रहेंगे, इसलिए समिति की बैठक में शामिल होने के लिए उनके पास वक्त का अभाव होगा.

cricket news, sports news, sachin tendulkar, Vishwanathan Anand, chess, government advisory panel, क्रिकेट न्यूज, सचिन तेंदुलकर, चेस, शतरंज, विश्वनाथन आनंद, सरकारी सलाहकार समिति, गवर्नमेंट एडवायजरी पैनल
हरभजन सिंह लंबे समय से टीम इंडिया से बाहर हैं. उन्हें भी इस समिति में शामिल किया गया है. (फाइल फोटो)


एआईसीए के अध्यक्ष मल्होत्रा ने कहा, ‘मंत्रालय ने कुछ नामों को हटाने का फैसला किया जो सक्रिय नहीं थे और कुछ नए नाम जोड़े. मुझे अभी आदेश मिला है और आने वाले दिनों में मंत्रालय के अधिकारियों से चर्चा करूंगा.’ भारतीय भारोत्तोलन महासंघ के अध्यक्ष बी पी बैश्य ओर भारतीय कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह परिषद में राष्ट्री खेल महासंघों (एनएसएफ) को प्रतिनिधित्व करेंगे.

डायबिटीज से जूझ रहे न्यूजीलैंड के दिग्गज ने टीम इंडिया पर दिया ये बड़ा बयान

न्यूजीलैंड दौरे से पहले विराट को बड़ा झटका, शिखर धवन टी20 व वनडे सीरीज से बाहर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 5:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर