Asian Olympic Qualifier: सिमरनजीत और साक्षी चौधरी क्वार्टरफाइनल में पहुंची, टोक्यो ओलिंपिक में जगह बनाने से एक जीत दूर

Asian Olympic Qualifier: सिमरनजीत और साक्षी चौधरी क्वार्टरफाइनल में पहुंची, टोक्यो ओलिंपिक में जगह बनाने से एक जीत दूर
साक्षी चौधरी और सिमरनजीत क्वार्टरफाइनल में

टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले मुक्केबाज टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympic) के लिए क्वालिफाई कर जाएंगे.

  • Share this:
जॉर्डन. भारतीय मुक्केबाज सिमरनजीत कौर (Simranjeet Kaur) (60 किग्रा) और पूर्व जूनियर विश्व चैम्पियन साक्षी चौधरी (Sakshi Choudhary) (57 किग्रा) ने बुधवार को एशियन ओलिंपिक क्वालिफायर्स में क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की की. इससे दोनों एशिया ओसनिया क्षेत्र क्वालिफायर से ओलिंपिक स्थान हासिल करने से महज एक जीत दूर हैं. विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता सिमरनजीत (Simranjeet Kaur) ने कजाखस्तान की रिम्मा वोलोसेंको को 5-0 से शिकस्त दी जबकि साक्षी ने एशियाई रजत पदक विजेता और चौथी वरीयता प्राप्त निलावन टेकसुएप को हराया.

सिमरनजीत का सामना अब मंगोलया की दूसरी वरीय नुमुन मोंखोर से होगा जिन्होंने पिछले साल एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था. दो बार की युवा विश्व चैंपियन और 19 साल की भारतीय खिलाड़ी साक्षी ने एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता थाईलैंड की खिलाड़ी को 4-1 के खंडित फैसले से हराया.

साक्षी ने कड़े मुकाबले में हासिल की जीत
साक्षी और निलावाने ने पहले राउंड में बराबरी की शुरुआत की. साक्षी ने अपने बाएं जैब और बेहतरीन फुटवर्क से थाईलैंड की मुक्केबाज को दूर ही रखा. वह भी हालांकि अपने दाएं और बाएं जैब के संयोजन से साक्षी पर अच्छे प्रहार कर रही थीं. पहले राउंड में तो साक्षी हावी रहीं, लेकिन दूसरे हाफ में थाईलैंड की मुक्केबाज ने एकतरफा वापसी की.
दूसरे हाफ में थाईलैंड की मुक्केबाज आक्रामक शुरुआत की और पास जाकर साक्षी को सीधे पंचों के साथ दाएं और बाएं जैब का इस्तेमाल करते हुए साक्षी को परेशान कर दिया. निलावने ने लगातार यही किया और साक्षी इस राउंड में उनके पंचों का जवाब नहीं दे पाईं. इस राउंड में साक्षी के पास थाईलैंड की मुक्केबाज का कोई जवाब नहीं था. तीसरे राउंड में साक्षी वापसी करने में सफल रहीं और इसी कारण मैच उनके कब्जे में रहा. अंतिम आठ में उनका सामना कोरिया की इम एइजी से नौ मार्च को होगा. टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले मुक्केबाज टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर जाएंगे.



सिमरनजीत भी विरोधी पर पड़ी भारी
साक्षी ने बाउट के बाद कहा, ‘मैंने जबावी हमला करने की रणनीति अपनायी और मुझे लगता है कि उसके पास इसका कोई तोड़ नहीं था. मेरे कोचों ने मुझे रणनीति पर बने रहने को कहा था और मैंने ऐसा ही किया.’ भारतीय खिलाड़ी ने पहले दौर से आक्रामक खेल खेला और वोलोसंको को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया. पहले राउंड में जो खेल सिमरनजीत ने खेला वहीं खेल दूसरे राउंड में कजाकिस्तान की खिलाड़ी ने खेला. तीसरे राउंड में हालांकि सिमरनजीत फिर अपनी विपक्षी पर भारी रहीं.

चेतेश्वर पुजारा और ऋद्धिमान साहा को मिलेगी टीम में जगह, रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी नहीं खेलेंगे!

'मौत' को मात देने वाले खिलाड़ी ने मचाया 'कोहराम', 18 गेंद में 5 विकेट लेकर दिलाई टीम को जीत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज