लाइव टीवी

बिना बताए नेशनल कैंप छोड़ने पर ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक को नोटिस

News18Hindi
Updated: August 19, 2019, 7:58 PM IST
बिना बताए नेशनल कैंप छोड़ने पर ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक को नोटिस
रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने साक्षी मलिक को अनुशासनहीनता को लेकर नोटिस भेजा है. (फाइल फोटो)

कुश्ती कैंप (Wrestling Camp) में हिस्सा ले रही 45 महिला पहलवानों (Women Wrestler) में से 25 पहलवान बिना फेडरेशन को बताए लखनऊ (Lucknow) में साई सेंटर (Sai Center) में ट्रेनिंग के दौरान अनुपस्थित रहीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2019, 7:58 PM IST
  • Share this:

ओलंपिक पदक विजेता पहलवान साक्षी को रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) ने बिना जानकारी दिए नेशनल कैंप छोड़ने को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है. दरअसल, एक चौंका देने वाले घटनाक्रम के तहत कैंप में हिस्सा ले रही 45 महिला पहलवानों में से 25 पहलवान बिना फेडरेशन को बताए लखनऊ में साई सेंटर में ट्रेनिंग के दौरान अनुपस्थित रहीं. इन 25 महिला पहलवानों में वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई कर चुकीं ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक (62 किग्रा.), सीमा बिस्ला (50 किग्रा.) और किरण (76 किग्रा.) भी शामिल हैं. इन तीनों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है, जिसका जवाब बुधवार तक देना होगा.


इनके अलावा बाकी सभी अनुपस्थित रहीं महिला पहलवानों को अगले आदेश तक कैंप से निकाल दिया गया है. इसके अलावा इन्हें सोमवार को होने वाली चार नॉन ओलिंपिक कैटेगरी के वर्ल्ड चैंपियनशिप ट्रायल्स में हिस्सा लेने से भी रोक दिया गया है. डब्‍ल्यूएफआई के अनुसार, सहायक सचिव विनोद तोमर ने बताया कि हमने साक्षी, सीमा और किरण से बुधवार तक जवाब मांगा है. कैंप छोड़ने वाली बाकी अन्य महिला पहलवानों को बाहर कर दिया गया है. अगर बाद में जरूरत पड़ी तो उन्हें कैंप में वापस बुला लिया जाएगा. साक्षी मलिक ने 2012 लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक हासिल किया था.


विनोद तोमर के अनुसार, कैंप में बाकी महिला पहलवानों समेत जूनियर पहलवानों को ट्रेनिंग दी जा रही है. अब जबकि अनुशासनहीनता में महिला पहलवानों को बाहर निकाल दिया गया है तो वे तरह-तरह के बहाने बना रहीं हैं. कोई कह रहा है कि उसकी मां की तबीयत ठीक नहीं थी जबकि कोई कह रहा है कि उसने फलां आदमी को बता दिया था. यह बिल्कुल भी अस्वीकार्य है. जब उनसे पूछा गया कि क्या वह साक्षी, सीमा और किरण को वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेने से रोकेंगे तो उन्होंने कहा कि मैं इस बारे में कुछ नहीं कह सकता. फेडरेशन इस पर जल्द फैसला लेगी. हालांकि सूत्रों के अनुसार, तीनों पहलवानों को चेतावनी देकर छोड़ दिया जाएगा.




sakshi malik, sports news, wrestling, wfi notice, साक्षी मलिक, स्पोर्ट्स न्यूज, कुश्ती, पहलवान, ओलिंपिक, olympic
साक्षी मलिक ने 2012 लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक हासिल किया था. (फाइल फोटो)


डब्‍ल्यूएफआई अध्यक्ष ब्रिज भूषण शरण सिंह ने कहा कि हमें कैंप में सिर्फ गंभीर पहलवान ही चाहिए. हमने उन्हें बता दिया है कि जो पहलवान ट्रेनिंग को लेकर गंभीर हैं, वे ही कैंप में वापस लौटें. अगर उन्हें घर में कोई समस्या है तो फिर वे घर में ही बैठें. हम कुछ पहलवानों की वजह से कैंप पर इसका प्रभाव पड़ने नहीं दे सकते.


कैंप से निकाली गईं महिला पहलवान : 50 किग्रा. में इंदु चौधरी, प्रीति, शीतल तोमर, 53 किग्रा. में कीमती, रमन यादव, 55 किग्रा. में पिंकी, 57 किग्रा. पिंकी रानी, 59 किग्रा. में मंजू, अंकिता, रानी राणा, 62 किग्रा. रचना, पूजा, 65 किग्रा. में अनिता, गार्गी यादव, रितु मलिक, 68 किग्रा. में रजनी, नैना, कविता और 76 किग्रा. में ज्योति, सुदेश, पूजा और रानी.


प्रक्रिया शुरू, 22 अगस्त को होगा टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ का ऐलान


Loading...

Ashes Series: तूफानी गेंदबाजी के बाद पैरों पर खड़े नहीं हो पा रहे जोफ्रा आर्चर!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 7:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...