सानिया मिर्जा की गुहार के बाद बेटे के वीजा पर विचार कर रही है सरकार

बेटे इजहान के साथ सानिया मिर्जा (फोटो क्रेडिट: Sania Mirza इंस्‍टाग्राम )

बेटे इजहान के साथ सानिया मिर्जा (फोटो क्रेडिट: Sania Mirza इंस्‍टाग्राम )

टोक्‍यो ओलिंपिक की तैयारियों में व्‍यस्‍त भारतीय दिग्‍गज टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा (Sania Mirza) ने कहा कि वह अपने दो साल के बेटे को छोड़कर खेलने नहीं जाएंगी

  • Share this:

नई दिल्‍ली. भारतीय दिग्‍गज टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा (sania mirza) के दो साल के बेटे इजहान मिर्जा मलिक के वीजा पर ब्रिटिश सरकार विचार कर रही है. दरअसल सानिया को महीनेभर के लिए ब्रिटेन की यात्रा करनी है, मगर उन्‍होंने साफ साफ कह दिया है कि वह अपने बेटे को छोड़कर यात्रा नहीं करेगी. इसके बाद खेल मंत्रालय ने सानिया मिर्जा के बेटे के वीजा अनुरोध के लिए ब्रिटेन सरकार से संपर्क किया था. इंडियन एक्‍सप्रेस की खबर के अनुसार इसके एक दिन बाद ब्रिटिश हाई कमिशन के प्रवक्‍ता ने जानकारी दी कि यह मामला विचाराधीन है.

दरअसल देश में कोरोना की दूसरी लहर के बढ़ते खतरे को देखते हुए ब्रिटेन की सरकार ने भारत को ट्रेवल की रेड लिस्‍ट में रख दिया था. भारत से ब्रिटेन जाने वाली सभी यात्रियों को सख्‍त क्‍वारंटीन और काफी अधिक टेस्‍ट से गुजरना पड़ता है. बुधवार को खेल मंत्रालय ने सानिया के बेटे और उनकी केयरटेकर के वीजा के लिए विदेश मंत्रालय से हस्‍तक्षेप करने की मांग की थी.

यह भी पढ़ें : 

ऋद्धिमान साहा का बड़ा बयान, कहा- एमएस धोनी के रहते हुए नहीं मिले ज्‍यादा मौके
दीपक चाहर बोले-माही भाई ने मुझे पावरप्ले गेंदबाज बनाया, उनकी कप्तानी में खेलना मेरा सपना था

मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा कि खेल मंत्रालय की टार्गेट ओलिंपिक पोडियम का हिस्‍सा सानिया ने मंत्रालय से संपर्क करके अपने बेटे और उनकी केयरटेकर के वीजा के लिए मदद मांगी. उन्‍होंने कहा कि वह अपने दो साल के बेटे को छोड़कर महीनेभर के लिए ब्रिटेन नहीं जाएंगी. टोक्‍यो ओलिंपिक से पहले उम्‍मीद की जा रही है कि सानिया जून में इंग्‍लैंड में ग्रास कोर्ट टूर्नामेंट खेलेंगी. जिसका आगाज नॉटिंघम ओपन से होगा. इसके बाद विबंलडन के अलावा बर्मिंघम ओपन और ईस्टबोर्न ओपन भी खेलेंगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज