ओलंपिक से पहले बाकू में होने वाला शूटिंग वर्ल्ड कप कैंसिल, खिलाड़ी अब सीधे टोक्यो में उतरेंगे

भारत के शूटिंग खिलाड़ियों ने दिल्ली में हुए वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन किया था. (AFP)

भारत के शूटिंग खिलाड़ियों ने दिल्ली में हुए वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन किया था. (AFP)

कोरोना (Covid-19) के कारण बाकू में जून-जुलाई में होने वाले शूटिंग वर्ल्ड कप (Shooting world cup) कैंसिल कर दिया गया है. यह ओलंपिक से पहले बड़ा इवेंट था. अब खिलाड़ी सीधे टोक्यो ओलंपिक में उतरेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 6:20 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोविड-19 (Covid-19) के बढ़ते मामलों के कारण टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) से ठीक पहले अजरबैजान के बाकू में प्रस्तावित आगामी आईएसएसएफ वर्ल्ड कप (Shooting world cup)  का आयोजन नहीं होगा. इस टूर्नामेंट का आयोजन 21 जून से 2 जुलाई तक होना था और इससे टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुके निशानेबाजों के लिए तैयारी का अच्छा मौका मिलता.

आईएसएसएफ से जारी बयान के मुताबिक अजरबेजान निशानेबाजी संघ (एएसएफ) ने सूचित किया है कि देश में कोविड -19 मामलों में बढ़ोतारी के कारण सरकार ने बाकू में आईएसएसएफ विश्व कप का आयोजन करने के लिए अनुचित और असुरक्षित माना है. उन्होंने बताया, ‘उपरोक्त सभी बातों को ध्यान में रखते हुए, हम आपको सूचित करने के लिए मजबूर हैं कि आईएसएसएफ विश्व कप बाकू 2021 नहीं होगा.’ उन्होंने कहा, ‘हमें इसके लिए खेद है, लेकिन इसका कोई अन्य समाधान नहीं है. प्रतिभागियों का स्वास्थ्य हम सभी के लिए मुख्य प्राथमिकता है.’

भारत के 15 निशानेबाज ओलंपिक में उतरेंगे

भारत टोक्यो खेलों में 15 सदस्यीय निशानेबाजी दल भेजेगा. ओलंपिक से पहले बाकू में संयुक्त विश्व कप निशानेबाजों के लिए आखिरी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता थी. लेकिन अब खिलाड़ी सीधे देश में तैयारी के बाद ओलंपिक में उतरेंगे. इस बार निशानेबाजी से सबसे ज्यादा मेडल की उम्मीद लगाई जा रही है. भारतीय खिलाड़ियाें ने वर्ल्ड कप से लेकर इंटरनेशनल इवेंट में शानदार प्रदर्शन किया है.
11 खेलों में हमारे खिलाड़ी क्वालिफाई कर चुके हैं

टोक्यो ओलंपिक के मुकाबले 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होने हैं. अब तक हमारे खिलाड़ियों ने 11 खेलों के लिए क्वालिफाई कर लिया है. इनमें आर्चरी, एथलेटिक्स, बॉक्सिंग, घुड़सवारी, तलवारबाजी, हॉकी, जिम्नास्टिक, सेलिंग, शूटंग, टेबल टेनिस और कुश्ती है. 2016 रियो ओलिंपिक में हमें सिर्फ दो मेडल मिले थे. पहलवान साक्षी मलिक ने कुश्ती में ब्रॉन्ज मेडल दिलाया था. दूसरी ओर बैडमिंटन में पीवी सिंधु को सिल्वर मेडल मिला था. लेकिन इस बार मेडल बढ़ने की उम्मीद है. शूटिंग के अलावा बाॅक्सिंग, रेसलिंग में भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज