लाइव टीवी

टोक्यो ओलिंपिक रद्द होने से भारतीय खिलाड़ियों ने ली राहत की सांस, खेल मंत्री ने किया फैसले का स्वागत

News18Hindi
Updated: March 25, 2020, 9:17 AM IST
टोक्यो ओलिंपिक रद्द होने से भारतीय खिलाड़ियों ने ली राहत की सांस, खेल मंत्री ने किया फैसले का स्वागत
टोक्यो ओलिंपिक एक साल तक के लिए टाल दिया गया है

हर चार साल में होने वाले ओलिंपिक खेल टोक्यो (Tokyo) में 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच आयोजित किये जाने थे लेकिन अब उन्हें स्थगित कर दिया गया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2020, 9:17 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण टोक्यो ओलिंपिक को स्थगित करने के अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति (आईओसी) के फैसले का स्वागत किया और कहा कि खिलाड़ियों के स्वास्थ्य के लिहाज से यह जरूरी था.

रिजिजू ने ट्वीट किया, ‘मैं वैश्विक महामारी के चलते टोक्यो 2020 को स्थगित करने के आईओसी के फैसले का स्वागत करता हूं. यह दुनिया भर के खिलाड़ियों की भलाई के लिये जरूरी था.’ उन्होंने कहा, ‘मैं सभी खिलाड़ियों से अपील करता हूं कि वे अपना दिल छोटा न करें. हम बेहतर अवसर पैदा करेंगे ताकि भारत 2021 में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करे.’

हर चार साल में होने वाले ओलिंपिक खेल टोक्यो में 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच आयोजित किये जाने थे लेकिन जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Shinjo Abe) और अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति (आईओसी) अध्यक्ष थामस बाक के बीच टेलीफोन पर बातचीत के बाद इन्हें अगले साल गर्मियों तक स्थगित कर दिया गया.

खिलाड़ी भी ओलिंपिक स्थगित होने के पक्ष में



लंदन ओलिंपिक की कांस्य पदक विजेता मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम (MC Marykom) ने पीटीआई से कहा, ‘अभी स्थिति अच्छी नहीं है. जिंदगी हमें पहले आती है, हर चीज के लिये इंतजार किया जा सकता है. खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोपरि है, जिसने भी फैसला किया, उन्होंने इस पर गौर किया. मेरा मानना है कि यह सभी के लिये अच्छा है.’

लंदन ओलिंपिक की एक अन्य कांस्य पदक विजेता सायना नेहवाल ने भी इसी तरह के विचार व्यक्त किये. उन्होंने कहा, ‘खुशी है कि इन्हें स्थगित कर दिया गया हालांकि हम कुछ खिलाड़ी क्वालीफाई नहीं कर पाये थे. हम यह जानने के इच्छुक हैं कि आगे क्वालीफिकेशन की प्रक्रिया कैसे होगी.’

अभ्यास के लिए खिलाड़ियों को मिलेगा अब और समय
भारत की तरफ से पदक के प्रबल दावेदार माने जा रहे पहलवान बजरंग पूनिया (Bajrang Punia) ने कहा, ‘यह अच्छा फैसला है क्योंकि हर कोई परेशान है. खिलाड़ियों का स्वास्थ्य सर्वोपरि है. कोई भी ढंग से अभ्यास नहीं कर पा रहा था. यह केवल भारत से जुड़ा मामला नहीं है यह पूरे विश्व की बात है.हमें सबसे पहले इस महामारी से लोगों को बचाना होगा.’

पूर्व विश्व चैंपियन भारोत्तोलक मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) का भी मानना है कि यह खिलाड़ियों के लिये अच्छा फैसला है.मउन्होंने कहा, ‘जो कुछ भी हुआ वह अच्छे के लिये हुआ. अब हमें तैयारी के लिये ज्यादा समय मिल जाएगा. यह मेरे प्रदर्शन के लिये अच्छा है. मैं अभ्यास जारी रखूंगी.’

टॉयलेट साफ कर रहा है 54 शतक लगाने वाला बल्लेबाज, टीम इंडिया को जिताए हैं कई मैच!

जापान के पीएम ने IOC से कहा- एक साल के लिए स्थगित किये जाएं टोक्यो ओलिंपिक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 7:57 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर