लाइव टीवी

लद्दाख और जम्मु कश्मीर करेंगे पहले शीतकालीन खेलो इंडिया की मेजबानी, किरण रिजिजू ने की घोषणा

News18Hindi
Updated: February 13, 2020, 3:16 PM IST
लद्दाख और जम्मु कश्मीर करेंगे पहले शीतकालीन खेलो इंडिया की मेजबानी, किरण रिजिजू ने की घोषणा
खेल मंत्री ने खेलो इंडिया गेम्स का ऐलान कर दिया है

इस साल भारतीय सरकार पहली बार शीतकालीन खेलो इंडिया गेम्स (Winter Khelo India Games) का आयोजन करने जा रही है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2020, 3:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. खेल मंत्री किरण रिजिजू (Kiren Rijiju) ने गुरुवार को घोषणा की कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख (Ladakh) इस महीने पहले खेलो इंडिया शीतकालीन (Khelo India Winter Games) खेलों की मेजबानी करेगा जबकि मार्च में इस तरह की प्रतियोगिता जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में होगी.

खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों की दोनों प्रतियोगिताओं का खर्चा खेल मंत्रालय उठाएगा. पहली प्रतियोगिता लद्दाख में फरवरी के तीसरे हफ्ते जबकि दूसरी प्रतियोगिता जम्मू कश्मीर में मार्च के पहले हफ्ते में होगी.

शीतकालीन खेलो इंडिया में भाग लेंगे 1700 खिलाड़ी
खेलो इंडिया लद्दाख (Ladakh) शीतकालीन खेलों में आईस हॉकी चैंपियनशिप, फिगर स्केटिंग और स्पीड स्केटिंग स्पर्धाएं होंगी और इस प्रतियोगिता का आयोजन ब्लॉक, जिला और केंद्र शासित स्तर पर किया जाएगा. इन खेलों में लगभग 1700 खिलाड़ियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है.

khelo india, kiren rijiju, sports news
खेलो इंडिया इस साल की शुरुआत में असम में आयोजित किए गए थे


खेलो इंडिया जम्मू कश्मीर शीतकालीन खेल गुलमर्ग के कोंगडोरी में लड़के और लड़कियों के लिए चार आयु वर्ग में होंगे. इन खेलों में 19 से 21, 17 से 18, 15 से 16 और 13 से 14 साल के आयु वर्ग के खिलाड़ी अल्पाइन स्कीइंग, क्रास कंट्री स्कीइंग, स्नो बोर्डिंग और स्नोशूइंग स्पर्धाओं में हिस्सा लेंगे.

जम्मू कश्मीर खेल परिषद और जम्मू कश्मीर शीतकालीन खेल संघ द्वारा आयोजित इन खेलों में विभिन्न राज्यों और संगठनों की 15 टीमों के लगभग 841 खिलाड़ियों और अधिकारियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है.
वर्ष 2019-20 में खेलो इंडिया के लिये सालाना आवंटन 578 करोड़ रूपये था जो इस वर्ष के लिये बढाकर 890.42 करोड़ रूपये कर दिया गया. वर्ष 2018 में अंडर-17 स्कूल और अंडर- 21 कालेज छात्रों के लिये शुरू किये गए इन खेलों का तीसरा सत्र हाल ही में गुवाहाटी में संपन्न हुआ.
खेलो इंडिया पहली बार साल 2018 में आयोजित हुए थे जब राज्यवर्धन सिंह राठौड़ खेल मंत्री थे


एक साल में हो रहे हैं तीसरे खेलो इंडिया गेम्स
इस मौके पर रिजिजू ने कहा, ‘युवाओं की उर्जा को सही स्थान पर लगाने के लिए खेलों से अच्छा कोई विकल्प नहीं है. हमने आईस हॉकी, फिगर स्केटिंग, स्पीड स्केटिंग जैसे खेलों को शामिल किया है जो ओलिंपिक का हिस्सा हैं. समय के साथ हम इन खेलों में चैंपियन तैयार करने में सफल रहेंगे.’ उन्होंने कहा, ‘मुझे एक और खेलो इंडिया खेलों को शुरू करने की घोषणा करने की खुशी है. यह एक साल में तीसरे खेलो इंडिया खेल होंगे और हमने स्वदेशी खेलों के लिए भी एक प्रतियोगिता के आयोजन की योजना बनाई है.’

यशस्वी ने वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने का वादा निभाया, पर कोच का गिफ्ट लेने से किया इनकार, ये है वजह

विराट की कप्तानी पर सवाल, IPL फ्रेंचाइजी के मालिक ने कहा-ऋषभ पंत को बैंच पर बैठाने के लिए क्यों ले गए न्यूजीलैंड?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 3:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर