भारत को खेल महाशक्ति बनाने के लिये ओलंपिक खेलों पर ध्यान देने की जरूरत: खेल मंत्री

पिछले दिनों किरण रिजिजू ने खिलाड़ियों से सीधे बात करने के लिए खेल मंत्रालय का अलग से टि्वटर अकाउंट बनाया है.

भाषा
Updated: July 26, 2019, 10:42 PM IST
भारत को खेल महाशक्ति बनाने के लिये ओलंपिक खेलों पर ध्यान देने की जरूरत: खेल मंत्री
खेल मंत्री किरण रिजिजू.
भाषा
Updated: July 26, 2019, 10:42 PM IST
खेल मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को कहा कि भारत को खेल महाशक्ति बनाने के लिये देश के खिलाड़ियों को बड़ी प्रतियोगिताओं में अधिक पदक जीतने होंगे और युवाओं को ओलंपिक खेलों को अपनाने के लिये प्रेरित करना होगा. रिजिजू ने चेन्नई में तीन से छह अगस्त के बीच होने वाली स्पेशल ओलंपिक अंतरराष्ट्रीय फुटबाल चैंपियनशिप 2019 की मशाल हासिल करने के बाद पत्रकारों से कहा, ‘हमारा देश बहुत बड़ा है और हमें ओलंपिक में किसी भी स्पर्धा में पीछे नहीं रहना चाहिए. हमें शीर्ष पर रहना होगा. भारत जैसे विकासशील देश को ओलंपिक खेलों पर ध्यान देना होगा.’

उन्होंने कहा कि खेल मंत्री होने के नाते उनका मुख्य ध्यान अगले साल होने वाले तोक्यो ओलंपिक में अधिक से अधिक भागीदारी और पदक सुनिश्चित करना है. रिजिजू ने कहा, ‘मैंने संसद में कहा कि तोक्यो ओलंपिक के लिये हमारी तैयारियां अच्छी चल रही हैं. मैं खुद इस पर निगरानी रख रहा हूं. हम प्रत्येक महासंघ के साथ समन्वय कर रहे हैं. मैं ओलंपिक में अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने के लिये टॉप्स में शामिल खिलाड़ियों से भी बात कर रहा हूं.’

उन्होंने कहा, ‘एक बार क्वालीफाई करने के बाद हमारा लक्ष्य पदक जीतना होगा. रियो ओलंपिक में हमने एक रजत और कांस्य पदक ही जीता. इसके बाद माननीय प्रधानमंत्री ने कार्यबल गठित किया जिसकी सिफारिशें हमें मिल गई हैं.’

बता दें कि पिछले दिनों किरण रिजिजू ने खिलाड़ियों से सीधे बात करने के लिए खेल मंत्रालय का अलग से टि्वटर अकाउंट बनाया है.

नेशनल ट्रॉयल्स में बजरंग पुनिया की जीत पर विवाद

बेकार इलेक्ट्रॉनिक सामानों से तैयार होंगे ओलंपिक के मेडल्स!
First published: July 26, 2019, 10:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...