लाइव टीवी

दिवाली से पहले खेल मंत्रालय ने दिया बड़ा तोहफा, अब आप भी इस तरीके से फ्री में उठा सकते हैं SAI का लाभ

News18Hindi
Updated: October 14, 2019, 8:40 AM IST
दिवाली से पहले खेल मंत्रालय ने दिया बड़ा तोहफा, अब आप भी इस तरीके से फ्री में उठा सकते हैं SAI का लाभ
अब कोई भी कोच अपने खिलाड़ियों को साई के स्टेडियम में ट्रेनिंग दे सकता है (सांकेतिक तस्वीर)

जो पेशेवर खिलाड़ी नहीं हैं, वो भी बिना कोई चार्ज दिए SAI की सुविधाओं का फायदा उठा सकते हैं. वहीं बाहर के कोच भी अपने खिलाड़ियाें को इनके स्टेडियम में ट्रेनिंग दे सकते हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2019, 8:40 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में खेल और फिट इंडिया मूवमेंट (Fit India Movement) को बढ़ावा देने के लिए खेल मंत्रालय (Ministry of sports) में बड़ा कदम उठाया है. मंत्रालय ने फैसला लिया है कि अब से नेशनल और स्टेट स्पोर्ट्स फेडरेशन अपने स्पोर्ट्स इवेंट और लीग्स बिना किसी फीस के स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) के स्टेडियम में करवा सकती है. साथ ही वहां की सुविधाओं का भी इस्तेमाल कर सकती है. इसके लिए किसी को कोई चार्ज नहीं देना होगा. पहले चरण में दिल्ली का जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम, इंदिरा गांधी स्टेडियम, मेजर ध्यानचंद स्टेडियम और करणी सिंह शूटिंग रेज  को स्टेट और नेशनल फेडरेशन के लिए खोला जाएगा, ताकि फेडरेशन वहां अपने टूर्नामेंट करवा सके.

यही नहीं इसके अलावा खेल मंत्रालय ने खिलाड़ियों को ध्यान में रखते हुए जो सबसे बड़ा कदम उठाया है, वो ये है कि अब स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) से बाहर के कोच भी अपने खिलाड़ियों को SAI की सुविधाओं को इस्तेमाल करके ट्रेनिंग दे सकते हैं और अब इसके लिए भी उन्हें कोई चार्ज नहीं देना होगा. ट्रेनिंग की सुविधा के लिए बुकिंग एक नवंबर से ऑनलाइन शुरू होगी. भले ही सरकार SAI से बाहर के कोच से कोई चार्ज नहीं लेगी, लेकिन कोच अपने खिलाड़ियों से उचित ट्रेनिंग फीस ले सकते हैं.

Sports ministry,Sports Authority of India, Kiren Rijiju, sports news, खेल मंत्रालय
खेल मंत्री कीरेन रिजीजू ने कहा कि यह फिट इंडिया मूवमेंट को बढ़ावा देने के लिए है


 इसके अलावा जो युवा पेशेवर तरीके से किसी खेल की ट्रेनिंग नहीं ले रहे हैं, वह भी इन स्टेडियम में सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं का फायदा उठा सकते हैं. इसके लिए उन्हें SAI की ओर से जारी होने वाला फोटो पहचान पत्र बनवाना होगा. जिसके लिए उन्हें नाममात्र चार्ज देना होगा. खेल मंत्री किरेन रिजीजू (Kiren Rijiju) ने कहा कि यह कदम फिट इंडिया मूवमेंट  (Fit India Movement)  को बढ़ावा देने के लिए उठाया गया है. उन्होंने कहा कि देश में बच्चों, फिटनेस पसंद और खेल प्रेमियों के लिए पर्याप्त मैदान नहीं हैं. इसी लिए खेल मंत्रालय (Ministry of sports) ने ये कदम उठाया है. उन्होंने कहा कि उन्होंने नेशनल स्पाेर्ट्स फेडरेशन से मीटिंग की और सभी इस फैसले से काफी खुश हैं. यहां तक कि कुछ ने तो आने वाले माह में अपने लीग और टूर्नामेंट की मेजबानी की योजना भी पेश कर दी है.


 

लक्ष्य सेन ने जीता डच ओपन, पहली बार BWF वर्ल्ड टूर्नामेंट जीते

मैरीकॉम की कैटेगरी में उतरी मंजू रानी, डेब्यू में ही सिल्वर मेडल पर किया कब्जा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 8:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...