Home /News /sports /

हॉकी खिलाड़ी श्रीजेश को NRI बिजनसमैन से मिला एक करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार

हॉकी खिलाड़ी श्रीजेश को NRI बिजनसमैन से मिला एक करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार

Tokyo Olympics: श्रीजेश ने भारतीय हॉकी टीम को टोक्यो ओलंपिक में  कांस्य पदक दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी.  (Instagram)

Tokyo Olympics: श्रीजेश ने भारतीय हॉकी टीम को टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. (Instagram)

आठ बार की ओलंपिक चैंपियन और दुनिया की तीसरे नंबर की भारतीय हॉकी टीम एक समय 1-3 से पिछड़ रही थी, लेकिन दबाव से उबरकर आठ मिनट में चार गोल दागकर जीत दर्ज करने में सफल रही. आखिरी पलों में ज्यों ही गोलकीपर पी आर श्रीजेश ने तीन बार की चैंपियन जर्मनी को मिली पेनल्टी को रोका.

अधिक पढ़ें ...

    कोच्चि. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम (Indian Hockey Team) के गोलकीपर पी आर श्रीजेश (PR Sreejesh) को प्रवासी भारतीय व्यवसायी द्वारा घोषित एक करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया गया. पूर्व भारतीय हॉकी गोलकीपर मैनुअल फ्रेडरिक ने यहां एक कार्यक्रम में मौजूदा भारतीय हॉकी टीम के गोलकीपर को यह पुरस्कार दिया. फ्रेडरिक म्यूनिख ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे. संयुक्त अरब अमीरात में स्थित वीपीएस हेल्थकेयर के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक डॉ. शमशीर वयालिल ने इस नकद पुरस्कार की घोषणा की थी.

    ओलंपियन श्रीजेश ने शमशीर द्वारा पूर्व हॉकी गोलकीपर फ्रेडरिक के लिए 10 लाख रुपये के नकद पुरस्कार का खुलासा किया. फ्रेडरिक बेंगलुरु से श्रीजेश को सम्मानित करने पहुंचे थे और इससे हैरान हो गए. उन्होंने कहा कि शमशीर जैसे लोगों को देखना अच्छा है, जो खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए आगे आएं.

    उन्होंने कहा, ”इससे निश्चित रूप से केरल के खेल सितारों की अगली पीढ़ी प्रेरित होगी. बता दें कि टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ब्रॉन्ज पदक जीतकर मॉस्को से शुरू हुआ 41 साल का इंतजार खत्म किया. पुरुष हॉकी टीम ने पिछड़ने के बाद जबर्दस्त वापसी करते हुए रोमांच की पराकाष्ठा पर पहुंचे प्ले-ऑफ मैच में जर्मनी को 5-4 से हराकर ओलंपिक में कांसे का तमगा जीता.

    आठ बार की ओलंपिक चैंपियन और दुनिया की तीसरे नंबर की भारतीय हॉकी टीम एक समय 1-3 से पिछड़ रही थी, लेकिन दबाव से उबरकर आठ मिनट में चार गोल दागकर जीत दर्ज करने में सफल रही. आखिरी पलों में ज्यों ही गोलकीपर पी आर श्रीजेश ने तीन बार की चैंपियन जर्मनी को मिली पेनल्टी को रोका, भारतीय खिलाड़ियों के साथ टीवी पर इस ऐतिहासिक मुकाबले को देख रहे करोड़ों भारतीयों की भी आंखें नम हो गई. हॉकी के गौरवशाली इतिहास को नए सिरे से दोहराने के लिए मील का पत्थर साबित होने वाली इस जीत ने पूरे देश को भावुक कर दिया.

    Tags: PR Sreejesh, Tokyo Olympics, Tokyo Olympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर