श्रीहरि ने निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, ओलंपिक ‘ए’ कट के करीब पहुंचे

नटराजन ने हीट्स में 54.10 सेंकेड का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया (Srihari Natrajan/Instagram)

नटराजन ने हीट्स में 54.10 सेंकेड का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया (Srihari Natrajan/Instagram)

शीर्ष भारतीय तैराक श्रीहरि नटराजन 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धा में गुरुवार को ओलंपिक ‘ए’ क्वॉलिफाइंग स्तर हासिल करने के बेहद करीब पहुंचे, लेकिन उज्बेकिस्तान ओपन चैंपियनशिप में सिर्फ 0.22 सेकेंड से पीछे रह गए.

  • Share this:
मुंबई. शीर्ष भारतीय तैराक श्रीहरि नटराजन 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धा में गुरुवार को ओलंपिक ‘ए’ क्वॉलिफाइंग स्तर हासिल करने के बेहद करीब पहुंचे, लेकिन उज्बेकिस्तान ओपन चैंपियनशिप में सिर्फ 0.22 सेकेंड से पीछे रह गए. 20 साल के नटराजन ने फिना जूनियर विश्व चैंपियनशिप 2019 में टोक्यो खेलों का ‘बी’ क्वॉलिफाइंग स्तर हासिल किया था. उन्होंने गुरुवार को हीट्स में 54.10 सेंकेड का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और फिर फाइनल में इसमें सुधार करते हुए 54.07 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक जीता.

इस स्पर्धा के पुरुष वर्ग में ओलंपिक ‘ए’ क्वॉलिफाइंग समय 53.85 सेकेंड है. ‘बी’ स्तर हासिल करने से तैराक को उसी स्थिति में प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का आमंत्रण मिलेगा अगर पूरे कोटा स्थान नहीं भर पाएंगे. ‘ए’ स्तर से तैराक का टोक्यो ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेना सुनिश्चित हो जाएगा.

भारत के किसी तैराक ने अब तक ‘ए’ स्तर हासिल नहीं किया है. माना पटेल ने महिला 100 मीटर बैकस्ट्रोक में एक मिनट 04.47 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक जीता. भारत की ही सुवाना भास्कर एक मिनट 06.17 सेकेंड के समय के साथ रजत पदक हासिल किया.

साजन प्रकाश ने 400 मीटर पुरुष फ्रीस्टाइल में तीन मिनट 56.03 सेकेंड के समय के साथ प्रतियोगिता का तीसरा स्वर्ण पदक जीता. शिवानी कटारिया ने महिला 400 मीटर फ्रीस्टाइल में स्वर्ण पदक जीता जबकि चाहत अरोड़ा ने महिला 100 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक में सोने का तमगा हासिल किया. लिखित एसपी और धनुष एस ने पुरुष वर्ग में क्रमश: रजत और कांस्य पदक जीते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज