लाइव टीवी

क्या वाकई उसैन बोल्ट से तेज है इस भारतीय की रफ्तार? ये है पूरी सच्चाई

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 4:58 PM IST
क्या वाकई उसैन बोल्ट से तेज है इस भारतीय की रफ्तार? ये है पूरी सच्चाई
उसैन बाेल्ट के नाम 9.58 सेकंड में 100 मीटर की रेस पूरी करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है.

कर्नाटक के रहने वाले 28 साल के श्रीनिवास गौड़ा (Srinivasa Gowda) ने 100 मीटर की रेस 9.55 सेकंड में पूरी की

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 4:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट (Usain Bolt) के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ना हर एक एथलीट का सपना है. मगर आज भी कोई उनके रिकॉर्ड के आस पास नहीं पहुंच पाया. हालांकि उनके रिकॉर्ड  को कई बार चुनौती भी मिली. भारत के एक धावक ने भी उनके रिकॉर्ड को अपनी रफ्तार से चुनौती दी है, ‌जिससे वह रातोंरात देशभर में छा गए. दरअसल कर्नाटक के एक गांव के रहने वाले और कंबाला जॉकी 28 साल के श्रीनिवास गौड़ा ने इतिहास रच दिया. वह तटीय क्षेत्र के पांरपरिक खेल में सबसे तेज दौड़ने वाले धावक बन गए हैं. उन्हाेंने 30 साल पुराना रिकॉर्ड  तोड़ा. हालांकि उनके इस रिकॉर्ड की तुलना उसैन बोल्ट के 100 मीटर के वर्ल्ड ‌रिकॉर्ड से भी की जा रही है. बाेल्ट के नाम 9.58 सेकंड में 100 मीटर की दौड़ पूरी करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है.

Usain Bolt, Usain Bolt record, Srinivasa Gowda, Kambala jockey, sports news, श्रीनिवास, कंबाला जॉकी, उसैन बोल्ट, स्पोर्ट्स न्यूज
कंबाला रेस के दौरान श्रीनिवास गौड़ा (फोटो क्रेडिट-twitter)


बोल्ट से कितने तेज!
दरअसल श्रीनिवास ने पारंपरिक भैसों की रेस में 13.62 सेकंड में 142.50 मीटर की रेस पूरी की  और यह समय उन्हें तटीय  क्षेत्रों के पारंपरिक खेल के इतिहास में सबसे तेज धावक बनाने के लिए काफी था.  जैसे ही श्रीनिवास ने यह रेस पूरी की, लोगों ने अपनी गणना के निकाल लिया कि 100 मीटर में उनकी स्पीड क्या होगी और लोगों  की गणना के अनुसार उन्होंने 100 मीटर की रेस 9.55 सेकंड में पूरी की, जो बोल्ट के रिकॉर्ड समय से .03 सेकंड कम था.






क्या सच में बोल्ट से भी तेज हैं श्रीनिवास

  • इसमें कोई शक नहीं है कि श्रीनिवास ने अपने खेल में शानदार प्रदर्शन किया. उनका यह प्रदर्शन तारीफ के  काबिल है. मगर क्या सच में वह बोल्ट से भी तेज हैं. हालांकि बोल्ट और उन‌के रिकॉर्ड की सीधे तौर पर तुलना नहीं की जा रही, क्योंकि कंबाला जॉकी (Kambala Jockey)  भैसों के  एक जोड़े के साथ दौड़ते हैं और उनकी रफ्तार भैसों की रफ्तार के कारण भी तेज हो जाती है.

  • वहीं यह रेस कीचड़ से भरे ट्रैक पर हुई, जहां रफ्तार बढ़ने का सवाल ही नहीं उठता. बल्कि कीचड़ और पानी से भरे ट्रैक धावकों के रास्ते में बाधा उत्पन्न करते हैं. इसी वजह से उनकी रफ्तार पर भी सवाल उठते हैं.

  • कर्नाटक के इस धावक ने 142.50 मीटर की रेस पूरी की और उसी स्‍पीड के हिसाब से  लोगों ने गणना करके 100 मीटर का समय निकाल लिया. हालांकि उनकी गणना का क्या पैमाना था. क्या उनके पास कोई इलेक्ट्रॉनिक टाइमर था या नहीं, इसके बारे में अभी तक कोई खुलासा नहीं हुआ है.

  • श्रीनिवास की उम्र 28 साल के करीब हो गई है और छह साल पहले उन्होंने कंबाला दौड़ के लिए तैयारी शुरू की थी. उनकी उम्र को देखा जाए तो उन्‍हें इसका अनुभव भी अच्छा होगा, मगर इससे पहले कभी भी उनका नाम रफ्तार के लिए चर्चा में नहीं आया.


Usain Bolt, Usain Bolt record, Srinivasa Gowda, Kambala jockey, sports news, श्रीनिवास, कंबाला जॉकी, उसैन बोल्ट, स्पोर्ट्स न्यूज
अपने भैसों के साथ श्रीनिवास गौड़ा (फोटो क्रेडिट-twitter)


क्या है कंबाला दौड़
करीब सैकड़ों साल से कर्नाटक (Karnataka ) के तटीय क्षेत्र में कीचड़ से सने ट्रैक पर यह दौड़ होती है. जिसमें भैसों के एक जोड़े के साथ दौड़ना होता है. इस दौड़ का आयोजन धान की दूसरी फसल काटने के बाद किया जाता है. हालांकि अब यह दौड़ काफी आधुनिक हो गई है. अब इसमें वीडियो रेफरल की भी सुविधा होती है.
कुछ समय पहले मध्यप्रदेश के रामेश्वर गुर्जर भी इसी वजह से सुर्खियों में थे. उन्होंने नंगे पांव 11 सेकंड में 100 मीटर की रेस पूरी थी. जिसके बाद उन्हें मध्यप्रदेश का उसैन बोल्ट माना जाने लगा था. उन्होंने यह कमाल मिट्टी में दौड़ते हुए किया था. जबकि मिट्टी और ट्रैक पर दौड़ने में काफी फर्क होता है. उनकी काबिलियत को देखते हुए जब उन्हें अच्छे प्रशिक्षण के लिए अकादमी के ट्रायल के लिए बुलाया गया तो वह ट्रैक पर दौड़ते हुए सबसे आखिरी स्‍थान पर रहे थे.

 

Olympics: हॉकी में भारत का था आखिरी गोल्ड और आखिरी मेडल

दुती चंद ने दिखाई प्यार की ताकत, अपने समलैंगिक रिश्ते का किया खुलासा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 4:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर