कोरोना के खौफ के बीच विश्‍व टीम स्क्‍वॉश चैंपियनशिप से हटी टीम इंडिया

कोरोना के खौफ के बीच विश्‍व टीम स्क्‍वॉश चैंपियनशिप से हटी टीम इंडिया
महिला विश्व टीम स्क्‍वॉश चैंपियनशिप से हटने का फैसला शीर्ष खिलाड़ियों से परामर्श के बाद लिया गया. (फाइल फोटो )

भारत ने 15 से 20 दिसंबर तक मलेशिया में होने वाली महिला विश्व टीम स्क्‍वॉश चैंपियनशिप से सोमवार को हटने का फैसला किया.

  • Share this:
चेन्नई. भारत ने कोविड-19 महामारी के कारण ‘तैयारी की कमी’ और यात्रा की ‘अनिश्चतताओं’ के कारण 15 से 20 दिसंबर तक मलेशिया में होने वाली महिला विश्व टीम स्क्‍वॉश चैंपियनशिप से सोमवार को हटने का फैसला किया. एसआरएफआई (भारतीय स्क्‍वॉश रैकेट महासंघ) के महासचिव और पूर्व राष्ट्रीय कोच साइरस पोंचा ने बताया कि यह फैसला शीर्ष खिलाड़ियों से परामर्श के बाद लिया गया.

शीर्ष खिलाड़ियों से चर्चा के बाद लिया फैसला
उन्होंने यहां जारी मीडिया विज्ञप्ति में कहा कि राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों के लिए एथलीटों और कर्मचारियों की सुरक्षित यात्रा के लिए दिशानिर्देशों (युवा मामलों एवं खेल मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण) की अनिश्चितताओं के अलावा तैयारियों के लिए कम समय को देखने के बाद हमने शीर्ष खिलाड़ियों से परामर्श कर के चैम्पियनशिप से हटने का फैसला किया है. विश्व स्क्‍वॉश महासंघ (डब्ल्यूएसएफ) और एसएफआरआई इस वैश्विक स्वास्थ्य संकट से उत्पन्न परिदृश्य पर लगातार नजर बनाए हुए हैं.

सुरक्षा को दी जाएगी प्राथमिकता
विज्ञप्ति में कहा गया कि एसएफआरआई ने टूर्नामेंट पंजीकरण की समयसीमा को 15 अगस्त से आगे बढ़ाने की मांग की थी, लेकिन डब्ल्यूएसएफ ने उसके अनुरोध को स्वीकार नहीं किया.



यह भी पढ़ें: 

Raksha Bandhan 2020: धोनी, कोहली की ताकत हैं उनकी बहनें, पर्दे के पीछे रहकर भाई को मंजिल तक पहुंचाया

वेस्‍टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्‍ट से बाहर होने के बाद टूट गए थे स्‍टुअर्ट ब्रॉड, उठाने वाले थे जिंदगी का बड़ा कदम

उन्होंने कहा कि एसआरएफआई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए खेल मंत्रालय और साइ की दिशानिर्देशों की प्रतीक्षा कर रहा है, जिसमें खिलाड़ियों और सहयोगी सदस्यों की सुरक्षा को शीर्ष प्राथमिकता दी जाएगी. देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. स्‍क्‍वॉश के शीर्ष केन्द्र मुंबई, दिल्ली और चेन्नई में इसका असर और अधिक है जिससे अभ्यास शुरू करने में और परेशानी हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज