अपना शहर चुनें

States

एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह और गोल्फर ज्योति रंधावा बचपन में कर बैठे प्यार, फिर तोड़ दी 13 साल की शादी, जानिए पूरी कहानी

गोल्फर ज्योति रंधावा और एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह
गोल्फर ज्योति रंधावा और एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह

ज्योति रंधावा (Jyoti Randhawa) भारतीय गोल्फर हैं वहीं चित्रांगदा सिंह बॉलीवुड एक्ट्रेस हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2020, 6:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. खेल जगत औऱ बॉलीवुड भारत (India) के दो ऐसे क्षेत्र हैं जिन्हें फैंस का सबसे ज्यादा प्यार हासिल होता है. देश में इन क्षेत्रों से जुड़े लोगों को ही असली स्टार माना जाता है. ऐसे में जब इन दो क्षेत्रों के लोग एक होते हैं तो पावर कपल बन जाते हैं. इस कड़ी में नवाब पटौदी-शर्मिला टेगौर, विराट कोहली और अनुष्का शर्मा जैसी कई प्रेम कहानियां हैं जो लोगों के लिए प्यार की परिभाषा बन गईं. हालांकि कुछ ऐसे भी हैं जिनकी शुरुआत तो परिकथा जैसी हुई लेकिन अंत वैसा नहीं हुआ. ऐसी कहानी है गोल्फर ज्योति रंधावा (Jyoti Randhawa) और एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह. दोनों के बीच प्यार की शुरुआत बचपन से हुई और फिर यह अपने मुकाम यानि शादी तक पहुंचा लेकिन चल नहीं पाया.

ज्योति का बचपन का प्यार थीं चित्रांगदा
ज्योति रंधावा (Jyoti Randhawa) और चित्रांगदा एक दूसरे को बचपन से जानते थे. दोनों के पिता भारतीय सेना की एक ही रेजीमेंट में थे. एक इंटरव्यू के दौरान ज्योति ने दोनों की पहली मुलाकात का जिक्र किया था. ज्योति के मुताबिक वह पहली बार चित्रांगदा (Chitrangada Singh) से अपने घर पर मिले थे. ज्योति ने बताया कि तब चित्रांगदा आठवीं कक्षा में थीं वहीं वह 12वीं में थे. यहां से दोनों की दोस्ती की शुरुआत हुई जो धीरे-धीरे प्यार में बदल गई. इसके बाद चित्रांगदा (Chitrangada Singh) दिल्ली चली आईं. हालांकि कुछ समय बाद ही ज्योति के पिता की तैनाती भी दिल्ली हो गई. दिल्ली में दोनों इसके बाद 5 साल तक रिलेशनशिप में रहे और 2001 में शादी की.

चित्रांगदा को बॉलीवुड में मिला काम
इस बीच, गोल्फ (Golf) की दुनिया में ज्योति (Jyoti Randhawa) ने अपान नाम बना लिया. उन्होंने साल 1998 से 2009 के बीच आठ बार एशियन टूर खिताब जीते. इसी दौरान वह वर्ल्ड गोल्ड रैंकिंग में टॉप 100 में पहुंचने में भी कामयाब रहे. वहीं दूसरी ओर चित्रांगदा का करियर भी शुरू हो गया. शादी से पहले ही चित्रांगदा (Chitrangada Singh) ने मॉडलिंग की शुरुआत कर दी थी. इसके बाद उन्हें गुलजार के 'सनसेट' नाम के वीडियो सॉन्ग में काम करने का मौका मिला.



चित्रांगदा के मुंबई जाने से बढ़ीं दूरियां
वीडियो सॉन्ग में बॉलीवुड निर्देशक सुधीर कुमार का ध्यान चित्रांगदा पर गया तो उन्होंने उन्हें एक फिल्म के लिए साइन कर लिया. साल 2003 में चित्रांगदा ने फिल्म 'हजारों ख्वाहिशें ऐसी' के साथ डेब्यू किया. इसके बाद से वह ज्यादातर समय मुंबई (Mumbai) में रहने लगीं. यहीं से दोनों के बीच दूरियां आने लगी.

2014 में दोनों हो गए अलग
ज्योति ने उस समय के बारे में बात करते हुए कहा, 'हमारा साथ न होना मुझे शुरू से ही परेशान करता था क्योंकि चित्रांगदा काम के चलते मुंबई में थीं और मैं दिल्ली में. जितना संभव हो उतना तालमेल बैठाने की कोशिश कर रहे थे. मैं चित्रांगदा को बहुत मिस करता था. उनके बिना घर खाली लगता था.' साल 2013 में दोनों के बीच दूरियों की खबरें आने लगी. आखिरकार साल 2014 में दोनों ने तलाक ले लिया. दोनों का बेटा जोरावर अपनी मां के साथ रहता है.

हरभजन सिंह के बचाव में आई पत्नी गीता बसरा- कहा अफरीदी मेरे पति के अच्छे दोस्त

डेल स्टेन ने राहुल द्रविड़ नहीं, इस भारतीय खिलाड़ी को बताया दीवार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज