टोक्यो में कोरोना वायरस के चलते बेघर हुए हजारों लोग, ओलिंपिक खेल गांव में मांग रहे शरण

टोक्यो में कोरोना वायरस के चलते बेघर हुए हजारों लोग, ओलिंपिक खेल गांव में मांग रहे शरण
टोक्यो ओलिंपिक को कोरोना संकट के कारण एक साल के लिए टाल दिया गया है.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते प्रकोप के चलते टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympic) को अगले साल के लिए टाल दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2020, 1:40 PM IST
  • Share this:
टोक्यो. दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस (Coronavirus) का असर खेलों के महाकुंभ पर भी पड़ा है, जिसकी वजह से टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics) एक साल के लिए टाल दिए गए हैं. इन खेलों का आयोजन 24 जुलाई से 9 अगस्त के बीच किया जाना था, लेकिन अब इनका आयोजन अगले साल 23 जुलाई से 8 अगस्त के बीच किया जाएगा. हालांकि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने साफ कहा था कि उनका देश ओलिंपिक आयोजन के लिए पूरी तरह तैयार है. बावजूद इसके कोरोना वायरस के चलते अच्छा यही होगा कि इन खेलों को टाल दिया जाए. इसके बाद ओलिंपिक अगले साल कराने का फैसला लिया गया.

ऐसे में जबकि टोक्यो ने ओलिंपिक खेलों की मेजबानी की पूरी तैयारी कर ली थी तब अब ओलिंपिक खेल गांव को इस्तेमाल बेघरों को शरण देने के लिए करने देने की मांग उठने लगी है. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते टोक्यो में हजारों लोग बेघर हो गए हैं.

आनलाइन याचिका में की शरण देने की मांग
यही वजह है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण बेघर हुए लोगों की नुमाइंदगी करने वाले एक समूह ने खेलगांव (Athletes Village) का इस्तेमाल निराश्रितों के आश्रय स्थल के रूप में करने का अनुरोध किया है. टोक्यो ओलिंपिक के आयोजकों और स्थानीय प्रशासन के नाम लिखी आनलाइन याचिका में खेलगांव के विशाल परिसर के इस्तेमाल की अनुमति मांगी गई है. इस याचिका पर हजारों लोगों के हस्ताक्षर हैं.
ओलिंपिक टलने से खाली है खेलगांव


टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics) के लिए तैयार किए गए खेलगांव (Athletes Village) में खेलों के महाकुंभ में भाग लेने वाले 11000 खिलाड़ियों और 4400 पैरा खिलाड़ियों को रुकना था. खेलगांव पूरी तरह से तैयार है लेकिन खाली है क्योंकि कोरोना महामारी के कारण खेल 23 जुलाई 2021 तक टाल दिए गए हैं. मोयाइ सपोर्ट सेंटर के अध्यक्ष रेन ओहनिशि ने कहा, ‘हमें नहीं पता कि यह हालात कब तक रहेंगे. हमें अपनी सोच बदलनी होगी और उन लोगों की मदद के लिए आगे आना होगा, जिनके सिर पर छत नहीं है.’

1000 से ज्यादा लोग बेघर
हालांकि टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics) के आयोजकों ने कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया और स्थानीय प्रशासन ने भी याचिका पर कोई जवाब नहीं दिया है. आयोजकों ने कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि याचिका कब जमा की जाएगी. टोक्यो में 1000 से ज्यादा लोग बेघर हो चुके हैं और 4000 के करीब ‘नेट कैफे’ में रह रहे हैं. इन्हें रात गुजारने के लिए छोटे-छोटे कक्ष और नेट सुविधा दी गई है.

युजवेंद्र चहल ने अनुष्का शर्मा से कर डाली ऐसी मांग, कहा-भाभी अगली बार...

ICC ने कुरेदा चेतन शर्मा का जख्म, जो जावेद मियांदाद ने 34 साल पहले दिया था
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading