• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympic: पीवी सिंधु के पास सुशील कुमार के बड़े रिकॉर्ड की बराबरी का मौका, बना सकती हैं इतिहास

Tokyo Olympic: पीवी सिंधु के पास सुशील कुमार के बड़े रिकॉर्ड की बराबरी का मौका, बना सकती हैं इतिहास

Tokyo Olympic: पीवी सिंधु ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीता था. (PV Sindhu/Instagram)

Tokyo Olympic: पीवी सिंधु (PV Sindhu) ओलंपिक में (Tokyo Olympic) क्वालिफाई करने वाली एकमात्र महिला बैडमिंट खिलाड़ी हैं. उन्होंने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीता था. इस बार भी उनसे मेडल की उम्मीद की जा रही है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) को लेकर तैयारी लगभग पूरी है. भारत के 124 खिलाड़ियों ने 18 खेलों में क्वालिफाई किया है. ओलंपिक के मुकाबले 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होने हैं. हालांकि एक बार फिर टोक्यो में कोरोना के केस बढ़ रहे हैं. पिछले साल कोरोना के चलते ही ओलंपिक को एक साल के लिए स्थगित कर दिया गया था. 200 से अधिक देश के 11 हजार से अधिक खिलाड़ी इस खेल महासमर में अपना दमखम दिखाएंगे.

    बैडमिंटन की बात की जाए तो सिंगल्स में पीवी सिंधु और साई प्रणीत जबकि पुरुष डबल्स में चिराग शेट्‌टी और सात्विक साईराज की जोड़ी उतरेगी. साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत क्वालिफाई नहीं कर सके. हालांकि सबसे ज्यादा नजर पीवी सिंधु पर रहेगी. उन्होंने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीता था. वे खेल में सिल्वर मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी बनीं. 2012 लंदन ओलंपिक में साइना नेहवाल ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था. ओलंपिक इतिहास में बैडमिटंन में सिर्फ दो ही मेडल मिले हैं.

    सिंधु ने मेडल जीता तो बनाएंगी नया रिकॉर्ड

    पीवी सिंधु को टोक्यो ओलंपिक के लिए भी मेडल का बड़ा दावेदार माना जा रहा है. हालांकि पिछले कुछ समय से उनका फॉर्म अच्छा नहीं है. लेकिन वे अगर मेडल जीतने में कामयाब होती हैं तो नॉर्मन पिचार्ड और सुशील कुमार के विशेष रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगी. व्यक्तिगत खेलों में ये ही दो खिलाड़ी भारत की ओर से एक से अधिक मेडल जीत चुके हैं. पिचार्ड ने 1900 में एथलेटिक्स में दो सिल्वर मेडल जीते थे. वहीं  सुशील कुमार ने कुश्ती में 2008 में ब्रॉन्ज और 2012 में सिल्वर मेडल जीता था. सिंधु ने अगर मेडल जीता तो वे दो मेडल जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनेंगी.

    इस साल 12 में से 7 मुकाबले जीते

    पीवी सिंधु की मौजूदा वर्ल्ड रैंकिंग 7 है. इस साल उन्होंने 12 मुकाबले खेले हैं. 7 में जीत दर्ज की है जबकि 5 में हार मिली थी. वे स्विस ओपन रनरअप रहीं. फाइनल में उन्हें स्पेन की कैरोलिना मारिन ने 21-12, 21-5 से हराया. हालांकि मारिन चोट के कारण ओलंपिक से हट चुकी हैं. 2016 ओलंपिक के फाइनल में भी उन्हें मारिन से ही शिकस्त मिली थी. उनके ओवरऑल सिंगल्स के रिकॉर्ड की बात की जाए तो उन्होंने 344 मुकाबले जीते हैं, जबकि 148 में हार मिली है. 2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप में उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था. उनसे टोक्यो ओलंपिक में भी ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है.

    55 महिला खिलाड़ी टोक्यो में उतरेंगी

    124 भारतीय खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक में उतरेंगे. इसमें से 55 महिला खिलाड़ी हैं. यानी लगभग 44 फीसदी खिलाड़ी महिला हैं. 2016 रियो ओलंपिक में दोनों मेडल महिला खिलाड़ियों ने ही दिलाए थे. ऐसे में इस बार भी महिला खिलाड़ियों से मेडल की उम्मीद की जा रही है. खासकर एमसी मैरीकाॅम, मनु भाकर, दीपिका कुमारी जैसी खिलाड़ी प्रमुख हैं. आर्चर दीपिका ने हाल ही में वर्ल्ड कप में गोल्डन हैट्रिक लगाई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज