• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympics : शटलर पीवी सिंधु और बॉक्सर पूजा रानी हारीं, कमलप्रीत और महिला हॉकी टीम ने जगाई उम्मीदें

Tokyo Olympics : शटलर पीवी सिंधु और बॉक्सर पूजा रानी हारीं, कमलप्रीत और महिला हॉकी टीम ने जगाई उम्मीदें

शटलर पीवी सिंधु और बॉक्सर पूजा रानी को अपने-अपने मुकाबले में हार झेलनी पड़ी जबकि कमलप्रीत कौर ने डिस्कस थ्रो में पदक की उम्मीदें जगा दी हैं. (AP)

शटलर पीवी सिंधु और बॉक्सर पूजा रानी को अपने-अपने मुकाबले में हार झेलनी पड़ी जबकि कमलप्रीत कौर ने डिस्कस थ्रो में पदक की उम्मीदें जगा दी हैं. (AP)

स्टार शटलर और रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु (PV Sindhu) से टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में गोल्ड जीतने की उम्मीदें लगाई जा रही थीं लेकिन वह सेमीफाइनल में हार गईं. बॉक्सर अमित पंघाल (Amit Panghal) और पूजा रानी (Pooja Rani) का सफर भी थम गया. चक्का फेंक की महिला एथलीट कमलप्रीत कौर (Kamalpreet Kaur) और महिला हॉकी टीम ने कुछ उम्मीदें जगाईं.

  • Share this:

    टोक्यो. भारत के लिए शनिवार 31 जुलाई का दिन टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में ‘कहीं हार और कहीं जीत’ वाला रहा. बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) का टोक्यो में गोल्ड जीतने का सपना महिला एकल के सेमीफाइनल में हार से टूट गया जबकि बॉक्सिंग में पदक के प्रबल दावेदार अमित पंघाल (Amit Panghal) आगे नहीं बढ़ पाए. वहीं, पूजा रानी भी हारकर बाहर हो गईं. हालांकि, चक्का फेंक की महिला एथलीट कमलप्रीत कौर (Kamalpreet Kaur) ने फाइनल में जगह बनाकर भारतीय खेमे में कुछ उम्मीद जगाई. वहीं, महिला हॉकी टीम ने भी क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की कर ली.

    भारतीय महिला हॉकी टीम ने वंदना कटारिया (Vandana Katariya) की हैट्रिक से दक्षिण अफ्रीका को 4-3 से हराकर 41 वर्षों में पहली बार क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. निशानेबाजी और तीरंदाजी में भारतीयों के निशाने सटीक नहीं लगे तो गोल्फ में किसी चमत्कार के दम पर ही अनिर्बान लाहिड़ी ‘पोडियम’ तक पहुंच पाएंगे. भारत के नाम पर अभी एक रजत पदक दर्ज है और वह पदक तालिका में 57वें स्थान पर है.

    इसे भी पढ़ें, मुक्केबाज पूजा रानी टोक्यो ओलंपिक से हुईं बाहर, चीनी खिलाड़ी ने 5-0 से हराया

    भारत को दिन का सबसे बड़ा झटका सिंधु की हार से लगा जिन्हें स्वर्ण पदक का प्रबल दावेदार माना जा रहा था. रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट ने चीनी ताइपे की विश्व की नंबर-1 खिलाड़ी ताई जु यिंग को पहले गेम में कड़ी चुनौती पेश की लेकिन आखिर में उन्हें 40 मिनट तक चले मैच में 18-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा. सिंधु के पास अब ओलंपिक में दो व्यक्तिगत पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनने का मौका है. वह रविवार को ब्रॉन्ज मेडल के लिए चीन की ही बिंगजाओ से भिड़ेंगी जिन्हें हमवतन चेन यू फेई ने पहले सेमीफाइनल में 21-16, 13-21, 21-12 से हराया था.

    भारतीय मुक्केबाजी के लिए दिन निराशाजनक रहा. दुनिया के नंबर-1 मुक्केबाज अमित पंघाल (52 किग्रा) के बाद पूजा रानी (75 किग्रा) भी अपनी प्रतिद्वंद्वी से हारकर बाहर हो गईं. भारत की पदक उम्मीद पंघाल प्री क्वार्टर फाइनल में सुबह रियो ओलंपिक के रजत पदक विजेता कोलंबिया के युबेरजेन मार्तिनेज से 1-4 से हार गए. शीर्ष वरीयता प्राप्त पंघाल का यह पहला ओलंपिक था और उन्हें पहले दौर में बाई मिली थी. बाद में पूजा क्वार्टरफाइनल में सर्वसम्मत फैसले में चीन की लि कियान से 0-5 से हार गईं. कियान पूर्व विश्व चैंपियन और रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता हैं.

    इसे भी पढ़ें, पीवी सिंधु की हार से भारत को बड़ा झटका, गोल्ड जीतने की उम्मीद टूटी

    एथलेटिक्स में हालांकि देश को कुछ अच्छी खबर मिली. कमलप्रीत ने महिलाओं के चक्का फेंक क्वालीफिकेशन दौर में दूसरे स्थान पर रहकर फाइनल में जगह बना ली लेकिन अनुभवी सीमा पूनिया चूक गईं. कमलप्रीत ने अपने तीसरे प्रयास में 64 मीटर का थ्रो फेंका जो क्वालीफिकेशन मार्क भी था. क्वालीफिकेशन में शीर्ष रहने वाली अमेरिका की वालारी आलमैन के अलावा वह 64 मीटर या अधिक का थ्रो फेंकने वाली अकेली खिलाड़ी रहीं. इस स्पर्धा का फाइनल दो अगस्त को होगा. दोनों पूल में 31 खिलाड़ियों में से 64 मीटर का मार्क पार करने वाले या शीर्ष 12 ने क्वालीफाई किया.

    सीमा पूनिया पूल-ए में 60.57 के थ्रो के साथ छठे स्थान पर और कुल 16वें स्थान पर रहीं. सीमा का पहला प्रयास अवैध रहा. दूसरे प्रयास में उन्होंने 60 . 57 और तीसरे में 58 . 93 मीटर का थ्रो फेंका. वहीं, पुरुषों की लंबी कूद में श्रीशंकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में नाकाम रहे और ओवरऑल 25वें स्थान पर रहते हुए फाइनल की दौड़ से बाहर हो गए. श्रीशंकर ने अपने पहले प्रयास में 7.69 मीटर की छलांग लगाई लेकिन वह दूसरे और तीसरे प्रयास में इससे बेहतर नहीं कर सके.

    महिला हॉकी में वंदना ने ऐतिहासिक प्रदर्शन किया. उन्होंने हैट्रिक लगाई जिसके दम पर भारत ने ‘करो या मरो’ के मुकाबले में निचली रैंकिंग वाली दक्षिण अफ्रीका टीम को 4-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. वंदना ने चौथे, 17वें और 49वें मिनट में गोल किये. वह ओलंपिक के इतिहास में हैट्रिक लगाने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गईं. नेहा गोयल ने 32वें मिनट में एक गोल दागा. भारत ने ग्रुप चरण में पहले तीन मैच हारने के बाद आखिरी दो मैचों में जीत दर्ज की. शाम को ब्रिटेन की आयरलैंड पर 2-0 जीत से भारत की अंतिम आठ में जगह पक्की हुई. भारत क्वार्टर फाइनल में 2 अगस्त को ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगा.

    इसे भी पढ़ें, भारतीय महिला हॉकी टीम ने क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह, ऑस्ट्रेलिया से होगी भिड़ंत

    तीरंदाजी में भारत की आखिरी उम्मीद अतनु दास (Atanu Das) पुरुषों के व्यक्तिगत वर्ग के प्री क्वार्टर फाइनल में जापान के ताकाहारू फुरूकावा से 4-6 से हार गए. दास पांचवें सेट में एक बार भी 10 स्कोर नहीं कर सके. दुनिया की नंबर-1 तीरंदाज दीपिका कुमारी के क्वार्टर फाइनल में हारने के बाद भारत की उम्मीदें दास पर ही टिकी थीं.

    निशानेबाजी में अंजुम मोदगिल और तेजस्विनी सावंत महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन में क्रमश: 15वें और 33वें स्थान के साथ फाइनल्स में जगह बनाने में नाकाम रहीं. असाका निशानेबाजी परिसर में विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता अंजुम ने ‘54 इनर 10 (10 अंकों के 54 निशाने)’ के साथ 1167 अंक बनाये जबकि अनुभवी तेजस्विनी ने स्टैंडिंग, नीलिंग और प्रोन पोजीशन की तीन सीरीज में 1154 अंक ही बना सकी.

    गोल्फ में लाहिड़ी ने तीसरे दौर में तीन अंडर 68 का कार्ड खेला. उन्होंने सुबह अपना दूसरा दौर पूरा किया और एक ओवर 72 का स्कोर बनाया था. तीसरे दौर के बाद उनका कुल स्कोर छह अंडर 207 रहा. वह संयुक्त 28वें स्थान पर चल रहे हैं. वहीं एक अन्य भारतीय उदयन माने ने 70 का कार्ड खेला जिससे वह दो ओवर 215 के कार्ड से संयुक्त 55वें स्थान पर चल रहे हैं.

    पाल नौकायन (सेलिंग) में पुरुषों की स्किफ 49अर स्पर्धा में केसी गणपति और वरूण ठक्कर की जोड़ी तीन रेस में क्रमश: 16वें, नौवें और 14वें स्थान पर रही. भारतीय जोड़ी 154 अंकों के साथ 19 जोड़ियों में ओवरऑल 17वें स्थान पर है. पहली बार ओलंपिक खेलों में चुनौती पेश कर रहे भारतीय घुड़सवार फवाद मिर्जा इवेंटिंग स्पर्धा में ड्रेसेज दौर के पूरे होने के बाद तालिका में वह संयुक्त रूप से नौवें स्थान पर हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज