Home /News /sports /

Tokyo Olympics: लवलीना ने किक बॉक्सिंग से की करियर की शुरुआत, 2012 से बॉक्सिंग को अपनाया

Tokyo Olympics: लवलीना ने किक बॉक्सिंग से की करियर की शुरुआत, 2012 से बॉक्सिंग को अपनाया

Tokyo Olympics: लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) वर्ल्ड चैंपियनशिप में दो मेडल जीत चुकी हैं. (AP)

Tokyo Olympics: लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) वर्ल्ड चैंपियनशिप में दो मेडल जीत चुकी हैं. (AP)

Tokyo Olympics: लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) ने ओलंपिक में भारत का दूसरा मेडल पक्का कर दिया है. 23 साल की लवलीना पहली बार ओलंपिक में उतर रही हैं. वे वर्ल्ड चैंपियनशिप में दो मेडल जीत चुकी हैं. अब तक सिर्फ दो महिला बॉक्सर ही ओलंपिक में मेडल जीत सकी हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) ने आखिरकार दूसरे मेडल के इंतजार को खत्म कर दिया. महिला बॉक्सर लवलीना ने शुक्रवार को भारत का दूसरा मेडल पक्का कर दिया. वे वेल्टरवेट कैटेगरी (64-69 किग्रा) के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं. पहली बार ओलंपिक में उतर रहीं लवलीना ने ताइवान की निएन चिन चेन को क्वार्टर फाइनल में 4-1 से हराया. हालांकि बहुत कम लोगों को पता है कि असम की लवलीना ने करियर की शुरुआत बतौर किक बॉक्सर की थी.

    लवलीना बोरगोहेन की बड़ी दो जुड़वा बहनें नेशनल लेवल की किक बॉक्सर हैं. इस कारण वे भी किक बॉक्सिंग करती थीं. लेकिन स्कूल में साई के ट्रायल के दौरान कोच पदुम बोरो ने लवलीना को देखा और 2012 से उनकी बॉक्सिंग की ट्रेनिंग शुरू हो गई. इसके बाद लवलीना ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और आज उन्हाेंने खुद का नाम इतिहास में दर्ज करा लिया है.

    कॉमनवेल्थ गेम्स में बड़ा ब्रेक मिला

    लवलीना बोरगोहेन के करियर के बड़े ब्रेक की बात करें यह 2018 का कॉमनवेल्थ गेम्स रहा. हालांकि उनके सेलेक्शन को लेकर विवाद हुआ और वे क्वार्टर फाइनल में हार गईं. लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी. इसी साल उन्होंने वेल्टरवेटर कैटेगरी में इंडिया ओपन में गोल्ड मेडल जीता. इससे पहले वे 2017 में एशियन चैंपियनशिप ब्रॉन्ज मेडल जीत चुकी थीं.

    Tokyo Olympics, Boxing: लवलीना बोरगोहेन ने पक्का किया भारत का दूसरा मेडल, सेमीफाइनल में पहुंचीं

    पहले ही वर्ल्ड चैंपियनशिप इवेंट में जीता मेडल

    लवलीना बोरगोहेन को 2018 में वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए पहली बार भारतीय टीम में जगह मिली. नई दिल्ली हुए इवेंट में उन्होंने अपने सलेक्शन को सही साबित करते हुए ब्रॉन्ज मेडल जीता. वे 2019 में भी वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीतने में सफल रहीं. वे ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाली असम की पहली महिला खिलाड़ी हैं. अब ओलंपिक में मेडल जीतकर वे कई खिलाड़ियों के लिए प्रेरणा बनेंगी. बॉक्सिंग की बात की जाए तो एमसी मैरीकॉम के बाद बतौर महिला लवलीना मेडल जीतने वाली सिर्फ दूसरी एथलीट बनेंगी.

    Tags: Lovlina Borgohain, Olympics, Olympics 2020, Tokyo 2020, Tokyo Olympics, Tokyo Olympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर