• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympics: महिला हॉकी टीम को करना होगा कमाल, पहले दो मुकाबलों में मिली है हार

Tokyo Olympics: महिला हॉकी टीम को करना होगा कमाल, पहले दो मुकाबलों में मिली है हार

Tokyo Olympics: भारतीय महिला टीम को दोनों मैच में हार मिली है. (AP)

Tokyo Olympics: भारतीय महिला टीम को दोनों मैच में हार मिली है. (AP)

Tokyo Olympics: भारतीय महिला हॉकी टीम को पहले दो मैच में हार मिली है. क्वार्टर फाइनल की उम्मीद बनाए रखने के लिए टीम को बुधवार को ब्रिटेन के खिलाफ होने वाले मुकाबले में जीत दर्ज करनी होगी.

  • Share this:
    टोक्यो. अब तक निराशाजनक प्रदर्शन करने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम को यदि टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) के अगले मैच में बुधवार को यहां मौजूदा चैंपियन ब्रिटेन को हराना है, तो उसे मौके बनाने होंगे और उन्हें अच्छी तरह से भुनाना होगा. विश्व में नंबर एक नीदरलैंड से 1-5 की करारी हार झेलने के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने पूल ए के अपने अगले मैच में तीसरे नंबर के जर्मनी के खिलाफ अपने खेल में कुछ सुधार किया, लेकिन फिर भी उन्हें 0-2 से हार झेलनी पड़ी.

    भारत ने जर्मनी के खिलाफ गोल करने के मौके बनाए, लेकिन अग्रिम पंक्ति में पैनापन नहीं दिखा. एक अवसर पर वंदना कटारिया का शॉट गोलपोस्ट से भी टकराया था. टीम को सबसे अधिक नुकसान पेनल्टी स्ट्रोक पर गोल नहीं कर पाने से हुआ था. जर्मनी के खिलाफ प्रदर्शन से रानी रामपाल की अगुवाई वाली टीम की थोड़ी उम्मीदें बंधी होंगी, क्योंकि उसने आखिर तक अपने प्रतिद्वंद्वी को कड़ी चुनौती दी.

    टीम इंडिया सबसे निचले पायदान पर

    पहले दोनों मैच गंवाने से भारतीय महिला छह टीमों के पूल एक में सबसे निचले स्थान पर है. नीदरलैंड शीर्ष पर है. उसके बाद जर्मनी, ब्रिटेन, आयरलैंड और दक्षिण अफ्रीका का नंबर आता है. आयरलैंड ने दो मैचों में एक जीत दर्ज की है. भारत और दक्षिण अफ्रीका ने दोनों मैच गंवाए हैं, लेकिन अफ्रीकी टीम गोल अंतर में आगे है. अभी प्रत्येक टीम के तीन-तीन मैच बचे हैं. प्रत्येक पूल से चार टीमें क्वार्टर फाइनल में जगह बनाएंगी.

    टीम के प्रदर्शन में सुधार हुआ

    भारतीय कोच सोर्ड मारिन ने भी माना कि टीम में सुधार हुआ है, लेकिन उन्होंने कहा कि यदि टीम को क्वार्टर फाइनल में जगह बनानी है तो इसे जारी रखना होगा. उन्होंने कहा, ‘हमने जर्मनी के खिलाफ अपने पिछले मैच की तुलना में अच्छा प्रदर्शन किया. प्रत्येक मैच से खेल में सुधार हुआ और हम इसी पर ध्यान दे रहे हैं.’ मारिन ने कहा, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हम पेनल्टी स्ट्रोक चूक गए, लेकिन मुझे खुशी है कि हमने गोल करने के कई मौके बनाए, जो कि सकारात्मक संकेत है. हमने जर्मनी को दबाव में रखा.’

    ब्रिटेन को जर्मनी से मिली है हार

    विश्व में 11वें नंबर का भारत अब भी क्वार्टर फाइनल में जगह बना सकता है, लेकिन इसके लिए उसे सातवें नंबर के आयरलैंड और 16वें नंबर के दक्षिण अफ्रीका को हराना होगा. भारतीय टीम यदि अपनी क्षमता से खेलती है और मौकों को भुनाती है तो वह विश्व में पांचवें नंबर के ब्रिटेन को भी हरा सकती है, जिसका प्रदर्शन अभी तक मौजूदा चैंपियन जैसा नहीं रहा. उसने दो मैचों में एक जीता है तो एक में उसे हार मिली. ब्रिटेन की टीम जर्मनी से 1-2 से हार गई थी, लेकिन उसने दक्षिण अफ्रीका को 4-1 से पराजित किया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज