• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Olympics: भारतीय एथलीट टोक्यो में कर सकते हैं कमाल, एथलेटिक्स में दिला सकते हैं देश को पहला मेडल

Olympics: भारतीय एथलीट टोक्यो में कर सकते हैं कमाल, एथलेटिक्स में दिला सकते हैं देश को पहला मेडल

Tokyo Olympics: नीरज चोपड़ा ने इसी साल मार्च में नेशनल रिकॉर्ड बनाया है. (Neeraj Chopra Instagram)

Tokyo Olympics: नीरज चोपड़ा ने इसी साल मार्च में नेशनल रिकॉर्ड बनाया है. (Neeraj Chopra Instagram)

Tokyo Olympics: ओलंपिक के मुकाबले 23 जुलाई से शुरू होने हैं. एथलेटिक्स में भारत के 26 खिलाड़ियाें ने क्वालिफाई किया है. इसमें 17 पुरुष और 9 महिला खिलाड़ी शामिल हैं. ओलंपिक के इतिहास में अब तक कोई भारतीय खिलाड़ी एथलेटिक्स में मेडल नहीं जीत सका है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में रिकॉर्ड 125 भारतीय खिलाड़ी उतर रहे हैं. यह ओलंपिक खेलों में सबसे बड़ा भारतीय दल है. 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होने वाले गेम्स में भारतीय खिलाड़ी 18 खेलों में दमखम दिखाएंगे. ओलंपिक यानी खेलों का महाकुंभ, लेकिन आज तक कोई भारतीय खिलाड़ी एथलेटिक्स में मेडल नहीं जीत सका है. क्या टोक्यो में यह सिलसिला खत्म होगा. आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं:

    एथलेटिक्स में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. गेम्स में हमें अब तक सिर्फ दो सिल्वर मेडल मिले हैं. वो भी किसी भारतीय ने नहीं बल्कि इंग्लिश खिलाड़ी ने दिलाया है. पेरिस में 1900 में हुए ओलंपिक के दौरान भारत में अंग्रेजों का शासन था. नॉर्मन प्रिचार्ड ब्रिटेन के थे. उन्होंने पेरिस ओलंपिक में 200 मीटर रेस और 200 मीटर हर्डल्स में सिल्वर मेडल जीता था. इसके बाद आज तक कोई भारतीय एथलेटिक्स में मेडल नहीं जीत सका है. 2016 तक 172 खिलाड़ी एथलेटिक्स में ओलंपिक में उतर चुके हैं. इसमें 119 पुरुष और 53 महिला खिलाड़ी हैं.

    मिल्खा सिंह और पीटी ऊषा मेडल के नजदीक तक पहुंचे

    मिल्खा सिंह 1960 रोम ओलंपिक (Rome Olympics) में 400 मीटर दौड़ में चौथे स्थान पर रहे थे.पिछले दिनों मिल्खा सिंह का निधन हुआ था. वे 0.1 सेकेंड से मेडल से चूक गए थे. इसके अलावा पीटी ऊषा ने 1984 लॉस एंजिल्स ओलंपिक में मेडल के करीब पहुंच गई थीं, लेकिन महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड़ में वे भी चौथे स्थान पर रही थीं. इसके अलावा कभी भी काेई भारतीय खिलाड़ी मेडल के नजदीक नहीं पहुंच सका.

    रियो में ललिता बाबर नेशनल रिकॉर्ड बनाकर भी 10वें स्थान पर रहीं

    2016 रियो ओलंपिक में एथलेटिक्स में 34 खिलाड़ी उतरे थे, लेकिन आधे से अधिक खिलाड़ी पहले ही राउंड में बाहर हो गए. महिलाओं के 3000 मीटर स्टीपलचेज में ललिता बाबर ने 9 मिनट 19.76 सेकेंड के साथ नेशनल रिकॉर्ड बनाया और फाइनल के लिए क्वालिफाई किया था. लेकिन वे ओवरऑल 10वें स्थान पर रही थीं. 2012 लंंदन ओलंपिक के डिस्कस थ्रो में विकास गौड़ा 8वें जबकि महिला वर्ग में कृष्णा पूनिया छठे नंबर पर रही थीं. 2004 एथेंस ओलंपिक महिला लॉन्ग जंपर अंजू बॉबी जॉर्ज ने 6.83 मीटर के साथ नेशनल रिकॉर्ड बनाया और वे ओवरऑल 5वें नंबर पर रहीं.

    नीरज चोपड़ा से इस बार उम्मीद

    टोक्यो ओलंपिक में जैवलिन थ्रो खिलाड़ी नीरज चोपड़ा पर सबसे अधिक निगाहें होंगी. पिछले महीने लिस्बन में हुए टूर्नामेंट में उन्हाेंने गोल्ड मेडल जीता था. हालांकि कोरोना के कारण नीरज एक साल से अधिक समय तक इंटरनेशनल इवेंट से दूर रहे थे. उन्होंने मार्च में पटियाला में हुई इंडियन ग्रांप्री में 88.07 मीटर का थ्रो किया था, जो उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. यह नेशनल रिकॉर्ड भी है. 2016 रियो में हुए ओलंपिक में जर्मनी के थॉमस रोहलर ने 90.30 मीटर के थ्रो के साथ गोल्ड मेडल जीता था. केन्या के जूलियस येगो ने 88.24 मीटर के साथ सिल्वर और त्रिनिदाद टोबैगो के केशोरन वाल्कॉट ने 85.38 मीटर के थ्रो के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता था. यानी नीरज का पर्सनल बेस्ट ब्रॉन्ज मेडल वाले खिलाड़ी से अच्छा है. इस कारण वे टोक्यो ओलंपिक के मेडल के दावेदार माने जा रहे हैं.

    मुरली श्रीशंकर और अविनाश साबले भी रेस में

    नीरज के अलावा टोक्यो ओलंपिक में 3000 मीटर स्टीपलचेज में उतरने वाले अविनाश साबले और लॉन्ग जंपर मुरली श्रीशंकर से भी मेडल की उम्मीद की जा रही है. श्रीशंकर ने नेशनल रिकॉर्ड के साथ टोक्यो के लिए क्वालिफाई किया है. वहीं अविनाश ने 2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप में नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया था. वे वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बने थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज