• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympics: रूस की महिला तीरंदाज को टोक्यो की गर्मी बर्दाश्त नहीं हुई, रैंकिंग राउंड में बेहोश हुईं

Tokyo Olympics: रूस की महिला तीरंदाज को टोक्यो की गर्मी बर्दाश्त नहीं हुई, रैंकिंग राउंड में बेहोश हुईं

Tokyo Olympics: टोक्यो ओलंपिक में महिला तीरंदाजी में अच्छा रैंकिंग राउंड था. इसी दौरान रूसी तीरंदाज तेज गर्मी के कारण एरिना में ही बेहोश हो गईं.  (Twitter/World Archery)

Tokyo Olympics: टोक्यो ओलंपिक में महिला तीरंदाजी में अच्छा रैंकिंग राउंड था. इसी दौरान रूसी तीरंदाज तेज गर्मी के कारण एरिना में ही बेहोश हो गईं. (Twitter/World Archery)

Tokyo Olympics: रूस की महिला तीरंदाज स्वेतलाना गोमबोएवा (Svetlana Gomboeva) के लिए टोक्यो का गर्मी और उमस भरा मौसम भारी पड़ा. वो रैंकिंग राउंड में तेज गर्मी के कारण एरिना में ही बेहोश होकर गिर गईं. इसके बाद साथी खिलाड़ियों और मेडिकल स्टाफ ने उनके सिर पर आइस बैग रखा. इससे उनकी हालत में सुधार हुआ और वो होश में आईं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. रूस की महिला तीरंदाज स्वेतलाना गोमबोएवा (Svetlana Gomboeva) के लिए टोक्यो का गर्मी और उमस भरा मौसम भारी पड़ा. वो रैंकिंग राउंड में तेज गर्मी के कारण एरिना में ही बेहोश होकर गिर गईं. इसके बाद साथी खिलाड़ियों और मेडिकल स्टाफ ने उनके सिर पर आइस बैग रखा. इससे उनकी हालत में सुधार हुआ और वो होश में आईं. हालांकि, बाद में स्वास्थ्य जांच के लिए उन्हें स्ट्रेचर पर एरिना के बाहर ले जाया गया.

    कोच स्टानिस्लाव पोपोव ने कहा कि हमें उम्मीद है कि वो ठीक होंगी. यहां काफी गर्मी थी और मुझे लगता है कि उनके लिए दिन भर तेज धूप और गर्मी में खड़ा रहना मुश्किल था. ऐसा पहली बार हो रहा है, जब कोई खिलाड़ी तेज गर्मी के कारण मैदान पर गश खाकर गिर गया. हमने टोक्यो आने से पहले व्लादिवोस्तोक में ट्रेनिंग की थी. वहां भी मौसम टोक्यो जैसा ही था. लेकिन यहां उमस काफी ज्यादा है और इससे खिलाड़ियों की परेशानी बढ़ रही है.

    स्वेतलाना तीरंदाजी के मुख्य इवेंट में हिस्सा लेंगी
    साथी तीरंदाज सेनिया पेरोवा ने बताया कि स्वेतलाना की तबीयत में तेजी से सुधार हो रहा है और मुझे पूरी उम्मीद है कि वो मुख्य इवेंट में जरूर हिस्सा लेंगी. तीरंदाजी इवेंट के पहले दिन ही मौसम ने अपने तीखे तेवर दिखा दिए. आर्चरी डोम में तापमान 33 डिग्री सेल्सियस था. शरीर ठंडा रहे और पानी की कमी न हो. इसे लेकर एथलीट्स को खासी चुनौती का सामना करना पड़ा.

    कोरोना प्रोटोकॉल के पालन पर है सबसे ज्यादा जोर
    ओलंपिक तीरंदाजी स्थल पर दर्शकों के लिए बनाए गए स्टैंड खाली पड़े थे. क्योंकि जापान में कोरोना को लेकर इमरजेंसी लागू की गई है और दर्शकों को इवेंट में आने की मनाही है. इस बीच, पसीने में तरबतर वॉलेंटियर्स और वेन्यू का स्टाफ बार-बार प्रतियोगियों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही मास्क पहनने की हिदायत देता नजर आया.

    टोक्यो के मौसम ने खिलाड़ियों की परेशानी बढ़ाई
    तीरंदाजी के व्यक्तिगत रैंकिंग राउंड में तीसरे स्थान पर रहने वाली दक्षिण कोरिया की कांग चायॉन्ग ने कहा कि टोक्यो में काफी गर्मी पड़ रही है और मैंने यहां की हीटवेव जैसा कुछ भी अनुभव नहीं किया है. ऑस्ट्रेलिया की एलिस इंगले ने साथी खिलाड़ियों को गर्मी से बचने के लिए सलाह दी है. उन्होंने कहा कि इवेंट के अलावा खिलाड़ियों को गर्मी में रहने से बचना चाहिए. अगर निकलना भी पड़े तो छाता लेकर निकलें और शरीर को ठंडा रखने वाले कपड़े पहनें और सबसे जरूरी है कि ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज