Home /News /sports /

Tokyo Olympics: मीराबाई चानू की सिल्वर जीतने के बाद पूरी होगी मनचाही मुराद, मिला लाइफटाइम ऑफर

Tokyo Olympics: मीराबाई चानू की सिल्वर जीतने के बाद पूरी होगी मनचाही मुराद, मिला लाइफटाइम ऑफर

Tokyo Olympics: मीराबाई ने वेटलिफ्टिंग में सिल्वर मेडल जीतने के बाद पिज्जा खाने की ख्वाहिश जताई थी. जो अब जिंदगी भर के लिए पूरी होगी. (AP)

Tokyo Olympics: मीराबाई ने वेटलिफ्टिंग में सिल्वर मेडल जीतने के बाद पिज्जा खाने की ख्वाहिश जताई थी. जो अब जिंदगी भर के लिए पूरी होगी. (AP)

Tokyo Olympics: वेटलिफ्टर मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने टोक्यो ओलंपिक(Tokyo Olympics) में सिल्वर मेडल जीतने के बाद पिज्जा खाने की इच्छा जताई थी और देश की बेटी की यह ख्वाहिश अब जिंदगी भर पूरी होती रहेगी. क्योंकि एक पिज्जा कंपनी ने उन्हें लाइफटाइम तक पिज्जा देने की घोषणा की है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. वेटलिफ्टर मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में सिल्वर मेडल जीतकर देश को मुस्कुराने और गर्व करने का मौका दिया. इस ऐतिहासिक सफलता के बाद उन्होंने पिज्जा खाने की ख्वाहिश जताई थी. उन्होंने कहा था कि ओलंपिक के लिए मैंने बहुत त्याग किया और पिज्जा को हाथ तक नहीं लगाया. मैं सिर्फ सादा खाना खा रही थी. लेकिन अब मेरा सपना पूरा हो गया तो मैं पिज्जा खाना चाहती हूं. देश की बेटी की यह ख्वाहिश अब जिंदगी भर पूरी होती रहेगी. क्योंकि डोमिनोज ने उन्हें लाइफटाइम तक पिज्जा देने की घोषणा की है.

    इस बारे में अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए डॉमिनोज ने लिखा कि उन्होंने कहा और हमने इसे सुन लिया. हम कभी नहीं चाहते कि मीराबाई चानू को पिज्जा खाने के लिए इंतजार करना पड़े. इसलिए हम उन्हें जीवन भर के लिए मुफ़्त पिज्जा दे रहे हैं. सोशल मीडिया पर भी लोगों ने ओलंपियन के लिए ऐसी पहल करने का स्वागत किया और कंपनी को भी बधाई दी है. लोगों का कहना है कि यह एक चैम्पियन खिलाड़ी की छोटी सी ख्वाहिश पूरी करने की नेक कोशिश है, जिसने 135 करोड़ भारतीयों को खुश होने का मौका दिया.

    बता दें कि मीराबाई ने शनिवार को वेटलिफ्टिंग (Weightlifting) में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था. उन्होंने 49 किग्रा वर्ग में यह मेडल जीता. यह भारतीय वेटलिफ्टिंग इतिहास में ओलंपिक में भारत का दूसरा पदक है. भारत ने इससे पहले सिडनी ओलंपिक (2000) में वेटलिफ्टिंग में पदक जीता था. यह पदक कर्णम मल्लेश्वरी ने दिलाया था. मीराबाई चानू पहली भारतीय वेटलिफ्टर हैं, जिन्होंने ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने का कारनामा किया है.

    पिज्जा कंपनी ने टोक्यो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट मीराबाई चानू को लाइफटाइम ऑफर दिया है. (Dominos Twitter)


    मीराबाई स्नैच राउंड में दूसरे स्थान पर रही थीं
    मीराबाई ने स्नैच में अपने पहले प्रयास में ही 84 किलो और दूसरे में 87 किलो वजन उठाया था. हालांकि, तीसरे प्रयास में वो 89 किलो वजन उठाने में नाकाम रहीं. वो स्नैच राउंड में दूसरे स्थान पर रहीं. इसके बाद क्लीन एंड जर्क के अपने दूसरे प्रयास में मीराबाई चानू ने 115 किग्रा वजन उठाकर नया ओलंपिक रिकॉर्ड कायम किया लेकिन चीन की होऊ झीहुई ने अगले ही प्रयास में 116 किलो वजन उठाकर ये रिकॉर्ड भी अपने नाम किया. चानू ने इसके बाद चीन की वेटलिफ्टर को पछाड़ने के लिए 117 किलो वजन उठाने की कोशिश की लेकिन वो इसमें नाकाम रही.

    मीराबाई ने टोक्यो में मेडल जीतने का वादा किया था
    मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने का वादा किया था. मीराबाई चानू ने एक इंटरव्यू में कहा था कि रियो ओलंपिक में उनका खराब प्रदर्शन वो भूल चुकी हैं. मीराबाई ने बताया था कि वो स्टेडियम से अपने कमरे तक रोते हुए गई थीं. लेकिन टोक्यो ओलंपिक के लिए मीराबाई ने जमकर मेहनत की और इसका नतीजा सबके सामने है.

    Tags: Mirabai Chanu, Olympics, Olympics 2020, Tokyo 2020, Tokyo Olympics 2020, Tokyo Olympics 2021

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर