Home /News /sports /

Tokyo Paralympics: PM मोदी की एक बात ने बदल दी थी नोएडा DM सुहास की सोच, फोन पर याद दिलाया किस्सा

Tokyo Paralympics: PM मोदी की एक बात ने बदल दी थी नोएडा DM सुहास की सोच, फोन पर याद दिलाया किस्सा

Tokyo Paralympics: नोएडा के डीएम सुहास यतिराज के बैडमिंटन में सिल्वर मेडल जीतने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें फोन कर बधाई दी. (PC- ANI Video grab)

Tokyo Paralympics: नोएडा के डीएम सुहास यतिराज के बैडमिंटन में सिल्वर मेडल जीतने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें फोन कर बधाई दी. (PC- ANI Video grab)

टोक्यो पैरालंपिक में गौतम बुद्ध नगर के डीएम सुहास यतिराज (Suhas Yathiraj) ने बैडमिंटन में सिल्वर मेडल जीत इतिहास रच दिया है. एसएल4 क्लास के फाइनल में सुहास फ्रांस के लुकास माजूर से हारकर गोल्ड मेडल से चूक गए. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने रविवार को आईएएस अफसर सुहास यतिराज को फोन कर पैरालंपिक खेलों में रजत पदक जीतने के लिए बधाई दी. प्रधानमंत्री ने उनसे करीब 3 मिनट बात की.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्ली. टोक्यो पैरालंपिक में गौतम बुद्ध नगर के डीएम सुहास यतिराज (Suhas Yathiraj) ने बैडमिंटन में सिल्वर मेडल जीत इतिहास रच दिया है. एसएल4 क्लास के फाइनल में सुहास फ्रांस के लुकास माजूर से हारकर गोल्ड मेडल से चूक गए. माजूर ने सुहास को 15-21, 21-17, 21-15 से शिकस्त दी. इस कामयाबी के साथ गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) के 38 साल के जिलाधिकारी (डीएम) सुहास पैरालंपिक खेलों में पदक जीतने वाले पहले आईएएस अधिकारी भी बन गए. उनकी इस कामयाबी पर पूरा देश खुश है. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने रविवार को आईएएस अफसर सुहास यतिराज को फोन कर पैरालंपिक खेलों में रजत पदक जीतने के लिए बधाई दी. प्रधानमंत्री ने उनसे करीब 3 मिनट बात की.

    प्रधानमंत्री ने फोन पर बात करते हुए गौतम बुद्ध नगर के डीएम सुहास यतिराज ने अपने बचपन को याद करते हुए कहा कि जब हम छोटे थे तो कभी नहीं सोचते थे कि आईएएस बनेंगे. जिला कलेक्टर बनेंगे या पैरालंपिक खेलों में जाएंगे. आपका आशीर्वाद रहा कि इस मुकाम तक पहुंचे. कई बार बचपन में मायूसी होती थी कि ईश्वर ने हमें दिव्यांग बना दिया. उनकी इस बात पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपने शारीरिक कमजोरी को शक्ति में बदल दिया. यही वजह है कि आज देश का प्रधानमंत्री आप से बात करने के लिए लालायित हो रहा है. यह आपका पराक्रम है. इस उपलब्धि के लिए आपको बधाई.

    प्रधानमंत्री की एक बात का सुहास यतिराज पर गहरा असर पड़ा
    प्रधानमंत्री मोदी का धन्यवाद करते हुए डीएम यतिराज ने जकार्ता एशियाई खेलों के बाद प्रधानमंत्री से हुई मुलाकात को याद किया, जिसमें उन्होंने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया था. दरअसल, तब प्रधानमंत्री ने यतिराज और बाकी पैरा एथलीट्स से कहा था कि आप तो पहले ही जिंदगी की जंग जीत चुके हैं. मेडल कोई बड़ी बात नहीं है. प्रधानमंत्री की इस बात का डीएम सुहास यतिराज पर गहरा असर पड़ा था.

    डीएम यतिराज ने प्रधानमंत्री मोदी का शुक्रिया अदा किया
    इस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सरकार से जुड़ा हर आदमी मेरा कलीग है और उस नाते मैं आपसे बात कर रहा हूं और मुझे बहुत खुशी है कि आपने देश का मान बढ़ाया. आईएएस अधिकारी ने टोक्यो के लिये रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री के संदेश को भी याद किया, जिसमें उन्होंने खिलाड़ियों से नतीजे के बजाय अपने खेल पर ध्यान लगाने को कहा था.यतिराज ने कहा कि उस सलाह से काफी मदद मिली और उन्होंने खिलाड़ियों के लगातार समर्थन के लिये प्रधानमंत्री को शुक्रिया भी कहा.

    Tokyo Paralympics: नोएडा के डीएम सुहास यतिराज ने सिल्वर जीत रचा इतिहास, भारत को मिला 18वां पदक

    यतिराज इंजीनियरिंग के बाद प्रशासनिक अफसर बने
    कर्नाटक के 38 साल के सुहास के टखनों में विकार है. बैडमिंटन कोर्ट के भीतर और बाहर कई उपलब्धियां हासिल कर चुके सुहास कम्प्यूटर इंजीनियर है और 2007 बैच के आईएसएस अधिकारी हैं. उन्हें पिछले साल नोएडा का डीएम बनाया गया था और कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में मोर्चे से अगुआई कर चुके हैं. सुहास इससे पहले प्रयागराज, आगरा, आजमगढ़, जौनपुर, सोनभद्र जिलों के जिलाधिकारी रह चुके है.

    Tags: Badminton, Pm narendra modi, Tokyo Paralympics, Tokyo Paralympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर