• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • इन पहलवानों से हौसला हारीं साक्षी? कहा- उन्हें हराने लेना होगा दूसरा जन्म

इन पहलवानों से हौसला हारीं साक्षी? कहा- उन्हें हराने लेना होगा दूसरा जन्म

साक्षी मलिक(Facebook)

साक्षी मलिक(Facebook)

ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडल विजेता साक्षी मलिक का भी मानना है कि कम से कम इस जिंदगी में तो उनको हराना नामुमकिन है.

  • Share this:
    भारतीय महिला पहलवान एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में जापानी खिलाड़ियों से पार पाने में नाकाम रहीं. ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडल विजेता साक्षी मलिक का भी मानना है कि कम से कम इस जिंदगी में तो उनको हराना नामुमकिन है. साक्षी, विनेश फोगाट और दिव्या ककरान एशियाई चैंपियनशिप में अपने अपने भार वर्ग के फाइनल में जापानी पहलवानों से हार गई थीं और उन्हें सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा था.

    रियो ओलिंपिक में 63 किग्रा में गोल्ड मेडल जीतने वालीं रिसाको कवाई ने साक्षी को 60 किग्रा के फाइनल में आसानी से हराया. रियो खेलों की एक और चैंपियन सारा दोशो ने दिव्या ककरान को 69 किग्रा भार वर्ग में हराया. साक्षी और दिव्या कोई भी छह मिनट तक नहीं टिक पाईं. विनेश ने साई नांजो का कुछ देर मुकाबला किया लेकिन आखिर में उन्हें भी हार ही मिली.

    साक्षी ने कहा कि जापानी खिलाड़ियों को हराना बहुत मुश्किल है. इस पूरी जिंदगी में उनकी बराबरी करना बहुत मुश्किल है. हमें उन्हें हराने के लिए अगला जन्म लेना होगा. उन्होंने कहा कि इसके अलावा कौशल और तकनीक के मामले में हमसे कहीं बेहतर हैं. वे बेहद चुस्त और मैट पर काफी तेज होती है. अधिकतर समय हम उनकी तेजी की बराबरी नहीं कर पाते हैं. हमें उन्हें चुनौती देने के लिए अपनी तेजी बढ़ानी होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज