टॉटनहम हॉटस्पर के फुटबॉलर ह्युंग-मिन के खिलाफ रंगभेदी टिप्पणी करने के मामले में 12 गिरफ्तार

दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी ह्यूंग-मिन सोन को मैनचेस्टर यूनाइटेड के एक गोल को विवादास्पद रूप से खारिज किए जाने के बाद निशाना बनाया गया था. (Tottenham  Hotspur Twitter)

दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी ह्यूंग-मिन सोन को मैनचेस्टर यूनाइटेड के एक गोल को विवादास्पद रूप से खारिज किए जाने के बाद निशाना बनाया गया था. (Tottenham Hotspur Twitter)

इंग्लिश फुटबॉल क्लब टॉटनहम हॉटस्पर(Tottenham Hotspur) क्लब के लिए खेलने वाले दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी ह्यूंग-मिन सोन (Heung-min Son) पर नस्लीय टिप्पणी (Racial Abuse) करने के संदेह में 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. लंदन पुलिस ने शुक्रवार को ये जानकारी दी.

  • Share this:

नई दिल्ली. प्रीमियर लीग क्लब टॉटनहम हॉटस्पर (Tottenham Hotspur) के लिए खेलने वाले दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी ह्यूंग-मिन सोन (Heung-min Son) पर नस्लीय टिप्पणी (Racial Abuse) करने के संदेह में 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. लंदन पुलिस ने शुक्रवार को ये जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि ह्यूंग-मिन सोन के खिलाफ नस्लीय टिप्पणी की गई थी. इस संदेह में शुक्रवार को आठ और लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

11 अप्रैल को मैनचेस्टर यूनाइटेड के खिलाफ टॉटनहम की 3-1 से हार हुई थी. इस मैच के बाद पुलिस ने चार लोगों से इस मामले में पूछताछ की थी. इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया था. मेट्रोपोलिटन पुलिस ने बताया कि अब तक एहतियातन 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इन्हें पुलिस ने नस्लीय घृणा को भड़काने के इरादे से पकड़ा है.


मैनचेस्टर यूनाइडेट ने पुलिस को इसकी जानकारी दी
दक्षिण कोरिया के इस 28 साल के फुटबॉल खिलाड़ी के फुटबॉल खिलाड़ी को मैनचेस्टर यूनाइटेड के एक गोल को विवादास्पद रूप से खारिज किए जाने के बाद निशाना बनाया गया था. मैनचेस्टर यूनाइटेड के ऑनलाइन रिपोर्टिंग टूल के जरिए खिलाड़ी के साथ हुए दुर्व्यवहार का पता चला. इसके बाद क्लब ने स्थानीय पुलिस को इसकी जानकारी दी. पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद अनजान सोशल मीडिया यूजर्स की पहचान की और फिर उन्हें धर दबोचा.

डिटेक्टिव सर्जेंट मैट सिम्पसन ने कहा कि इस कार्रवाई से साफ है है कि पुलिस नस्लवादी टिप्पणी करने वालों को नहीं छोड़ेगी. फिर भले ही किसी ने सोशल मीडिया का सहारा लेकर ऐसा किया हो. पुलिस ने साफ किया कि किसी के भी खिलाफ इस तरह की स्तरहीन टिप्पणी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. पुलिस ने जिन 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, वो सब इंग्लैंड के ही रहने वाले हैं.

टॉटनहम हॉटस्पर ने भी पुलिस की कार्रवाई की तारीफ की है. क्लब ने एक बयान जारी कर रहा कि खेल और समाज में रंगभेद की कोई जगह नहीं है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज