सीमा बिस्ला और अर्जुन लाल के अलावा टेनिस खिलाड़ी अंकिता रैना को टॉप्स में मिली जगह

सीमा बिस्ला ने ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया है. (सीमा बिस्ला इंस्टाग्राम)

सीमा बिस्ला ने ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया है. (सीमा बिस्ला इंस्टाग्राम)

खेल मंत्रालय ने टारगेट ओलंपिक पोडियन स्कीम (TOPS) में रेसलर सीमा बिस्ला सहित कई खिलाड़ियों को जगह दी है. स्कीम में शामिल होने वाले खिलाड़ियों की तैयारियों का खर्चा मंत्रालय उठाता है.

  • Share this:

नई दिल्ली. ओलंपिक (Tokyo olympic) का टिकट हासिल करने वाले नौकायन खिलाड़ी अर्जुन लाल जाट, अरविंद सिंह के साथ पहलवान सीमा बिस्ला, सुमित मलिक को खेल मंत्रालय के टारगेट ओलंपिक पोडियन स्कीम (TOPS) में शामिल कर लिया गया है. मंत्रालय ने यह भी कहा कि पहलवान विनेश फोगाट टोक्यो खेलों तक विदेशों में प्रशिक्षण जारी रखेंगी, क्योंकि उनके प्रस्ताव को मिशन ओलंपिक प्रकोष्ठ ने मंजूरी दे दी थी.

खेल मंत्रालय के मुताबिक, ‘नौकायन खिलाड़ी अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह को विकास समूह से कोर समूह में शामिल किया गया है. हाल ही में वर्ल्ड ओलंपिक क्वालीफायर से कोटा हासिल करने वाले पहलवानों सीमा बिस्ला और सुमित मलिक को कोर समूह में जोड़ा गया है.’ उन्होंने बताया कि बिली जीन किंग कप में सानिया मिर्जा के साथ जोड़ी बनाने वाली टेनिस खिलाड़ी अंकिता रैना को भी टॉप्स के कोर समूह में शामिल किया गया है. उन्होंने हाल ही में महिला युगल में दुनिया के शीर्ष 100 रैंकिंग में में जगह बनाई है.’

खिलाड़ी ट्रेनिंग के लिए जाएंगे पुर्तगाल

टॉप्स ने ओलंपिक खेलों की तैयारी के लिए अर्जुन और अरविंद के पुर्तगाल में 5 सप्ताह के प्रशिक्षण के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है. इस महीने की शुरुआत में टोक्यो में ओलंपिक में जगह बनाने वाले युगल स्कलर 1 जून से पुर्तगाल के पोकिन्हो हाई परफॉर्मेंस केन्द्र में प्रशिक्षण लेंगे. उनके शिविर पर लगभग 21 लाख रुपए खर्च होंगे. विनेश ने 2019 वर्ल्ड चैम्पियनशिप के 53 किग्रा वर्ग में ओलंपिक कोटा हासिल किया था. वह नौ जून तक बुडापेस्ट में अभ्यास करेंगी. वह पोलैंड ओपन (9 से 13 जून) में भाग लेने के बाद बुडापेस्ट वापस आ जाएंगी और दो जुलाई तक वहीं रहेंगी. उनके कोच वोलर अकोस, कुश्ती अभ्यास साथी प्रियंका और फिजियोथेरेपिस्ट पूर्णिमा रमन न्गोमदिर उनके साथ रहेंगे.
विनेश फोगाट के प्रस्ताव को भी मिली मंजूरी

खेल मंत्रालय ने कहा, ‘मिशन ओलिंपिक प्रकोष्ठ ने भारतीय कुश्ती संघ के माध्यम से भेजे गए टाॅप्स के उस प्रस्ताव को आज मंजूरी दे दी, जिसमें बुल्गारिया के बाद विनेश फोगाट को अभ्यास के लिए हंगरी और पोलैंड भेजे जाने का प्रस्ताव था.’ उन्होंने बताया, ‘उनकी प्रशिक्षण और प्रतियोगिता के प्रस्ताव का खर्च लगभग 20.21 लाख रुपए है. उन्हें टॉप्स से अब 1.13 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद मिल चुकी है. टॉप्स ने टेनिस युगल खिलाड़ियों दिविज शरण और रोहन बोपन्ना की जनवरी से जून के बीच क्रमश: 14 और 11 टूर्नामेंटों में भागीदारी को भी मंजूरी दी.

दिविज शरण और रोहन बोपन्ना को भी मदद



उन्होंने बताया कि दिविज शरण के प्रस्ताव पर लगभग 30 लाख रुपए खर्च का अनुमान है. उन्हें वर्तमान ओलंपिक चक्र में टॉप्स से 80.59 लाख रुपये की मदद मिली है. मंत्रालय के अनुसार, रोहन बोपन्ना के प्रस्ताव में कोच स्कॉट डेविडॉफ और फिजियो गौरांग शुक्ला का खर्च भी शामिल हैं. उनका प्रस्तावित खर्च 27.61 लाख रुपए का है. वह मौजूदा ओलंपिक चक्र में पहले ही 1.24 करोड़ रुपए प्राप्त कर चुके हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज