भारत की CWG 2022 के बहिष्कार की धमकी, कॉमनवेल्थ फेडरेशन करेगा मनाने की कोशिश

भारतीय ओलंपिक संघ ने निशानेबाजी को बाहर किये जाने को लेकर 2022 बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के बहिष्कार का प्रस्ताव रखा और सरकार से मंजूरी मांगी है.

पीटीआई
Updated: July 28, 2019, 7:55 PM IST
भारत की CWG 2022 के बहिष्कार की धमकी, कॉमनवेल्थ फेडरेशन करेगा मनाने की कोशिश
नरिंदर बत्रा आईओए के अध्यक्ष है
पीटीआई
Updated: July 28, 2019, 7:55 PM IST
इंडिया ओलिंपिक एसोसिएशन ने बर्मिंघम में होने वाले 2022 कॉमनवेल्थ गेम्स का बहिष्कार करने को लेकर खेल मंत्रालय को पत्र लिखा है. कॉमनवेल्थ गेम्स फेडरेशन ने आईओए से बात करके मुद्दे को सुलझाने की बात की है. फेडरेशन चाहता है कि भारत 2022 बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले. इसके लिए वह आने वाले समय में आईओए आधिकारियों से मुलाकात करेंगे.

फेडरेशन के मीडिया मैनेजर टॉम डिगुन ने कहा, 'हमें यह जानकर बहुत निराशा हुई कि भारत खेलों में हिस्सा नहीं लेना चाहता है. हम चाहते हैं कि भारत कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले. हम आने वाले समय में भारत में आईओए के आधिकारियों से मिलेंगे और बात उनकी समस्या को सुलझाने की कोशिश करेंगे ताकि भविष्य के लिए चीजें सही रहे.'

भारत ने रवांडा में हुई सीजीएफ की जनरल एसेंबली में हिस्सा नहीं लिया था. टॉम डिगुन ने कहा, 'भारत मीटिंग का हिस्सा नहीं बना जिससे हमें निराशा हुई. रवांडा में हुई 2019 सीजीएफ जनरल एसेंबली में हमने कुछ महत्वपूर्ण फैसले लिए थे जिसका हिस्सा भारत नहीं था.'

आईओए ने खेल मंत्री को लिखा है पत्र

भारतीय ओलंपिक संघ ने निशानेबाजी को बाहर किये जाने को लेकर 2022 बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के बहिष्कार का प्रस्ताव रखा और सरकार से मंजूरी मांगी है. खेल मंत्री किरण रिजिजू को लिखे पत्र में आईओए अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने इस प्रस्ताव पर बातचीत के लिये उनसे मुलाकात का समय मांगा है. इससे पहले आईओए ने राष्ट्रमंडल खेल महासंघ की आमसभा से नाम वापिस ले लिया था जो सितंबर में रवांडा में होनी है. आईओए ने क्षेत्रीय उपाध्यक्ष पद के लिए राजीव मेहता और खेल समिति के सदस्य के रूप में नामदेव शिरगांवकर के नाम भी वापिस ले लिए थे.

बत्रा ने कहा कि आईओए इतना बड़ा फैसला नहीं ले सकता लिहाजा उन्होंने खेलमंत्री से मुलाकात का समय मांगा है. उन्होंने कहा,‘हम समझते हैं कि ऐसे फैसले राजनीतिक संवेदनशीलता को ध्यान में रखकर लेने चाहिए. आईओए इस मामले में विशेषज्ञ नहीं है और यही वजह है कि इस पत्र के जरिये हमने आपसे मुलाकात का समय मांगा है ताकि इस बारे में आपके समक्ष ब्यौरा रखा जा सके.’

President cup 2019: वर्ल्ड चैंपियनशिप से पहले मैरीकॉम ने जीता एक और गोल्ड
Loading...

Formula 1 : जर्मन ग्रां प्री में हैमिल्टन को पोल पोजिशन
First published: July 28, 2019, 6:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...