ओलिंपिक से पहले अभ्यास न कर पाने से परेशान हैं खिलाड़ी, खेल मंत्री से मांगी मदद

ओलिंपिक से पहले अभ्यास न कर पाने से परेशान हैं खिलाड़ी, खेल मंत्री से मांगी मदद
मीरा बाई चानू पूर्व वर्ल्ड चैंपियन हैं

मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) समेत भारत के टॉप वेटलिफ्टर आइएस पाटियाला में लॉकडाउन में है

  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व विश्व चैंपियन मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) सहित देश के शीर्ष भारोत्तोलकों (वेटलिफ्टर) ने सोमवार को खेल मंत्री किरण रिजिजू से जल्द से जल्द अभ्यास शुरू करने की अनुमति देने का आग्रह किया और कहा कि अभ्यास हाल काफी बड़ा होने के कारण वहां सामाजिक दूरी सुनिश्चित की जा सकती है.

भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) के सभी केंद्रों पर कोविड-19 (Covid-19) महामारी को रोकने के लिये मार्च के मध्य से ही अभ्यास बंद है. इस बीमारी के कारण भारत में 65,000 से अधिक लोग संक्रमित पाये गये हैं जबकि 2,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है. लॉकडाउन 17 मई तक लगाया गया है.

भारतीय वेटलिफ्टर्स से वीडियो कॉल से की बात
रिजिजू (Kiren Rijiju) ने पटियाला के राष्ट्रीय खेल संस्थान में रह रहे भारोत्तोलकों (वेटलिफ्टर) से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये बात की और उनसे अभ्यास शुरू करने को लेकर फीडबैक मांगा. मीराबाई ने कहा, ‘हम सभी ने उनसे जितना जल्दी संभव हो सके अभ्यास शुरू करने की अनुमति देने का आग्रह किया क्योंकि हमें वजन उठाने का अभ्यास करने की सख्त जरूरत है. हम फिटनेस पर काम कर रहे हैं लेकिन भार उठाने का अभ्यास बहुत आवश्यक है. ’
राष्ट्रीय कोच विजय शर्मा ने भी मीराबाई की हां में हां मिलाते हुए कहा कि अभ्यास हॉल में सामाजिक दूरी का पालन किया जा सकता है. शर्मा ने कहा, ‘लगभग दो महीने से अभ्यास ठप्प पड़ा है. मांसपेशियां ढीली पड़ गयी हैं. परिसर सील किया हुआ है. कोई अंदर नहीं आ सकता और कोई बाहर नहीं जा सकता है, इसलिए हम अभ्यास शुरू कर सकते हैं. ’



सोशल डिस्टेंस बनाकर अभ्यास करना चाहते हैं खिलाड़ी
उन्होंने कहा, ‘हमारा अभ्यास हॉल बहुत बड़ा है और हम प्रत्येक भारोत्तोलक के बीच आसानी से पांच मीटर की दूरी बनाये रख सकते हैं. हमारे पास 16 प्लेटफार्म हैं और केवल नौ भारोत्तोलक हैं इसलिए हम अभ्यास के दौरान आसानी से सामाजिक दूरी बनाये रख सकते हैं. ’

रिजिजू ने कहा कि भारोत्तोलकों के विचारों का उपयोग अभ्यास के लिये मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार करने के लिये किया जाएगा. उन्होंने बैठक के बाद जारी बयान में कहा, ‘मैं समझता हूं कि आगामी ओलिंपिक को देखते हुए हमारे भारोत्तोलकों को सक्रिय अभ्यास में वापसी करने की जरूरत है. मैंने खिलाड़ियों और मुख्य कोच से आज जो फीडबैक लिया उसका उपयोग भारोत्तोलकों के लिये मानक संचालन प्रक्रिया का खाका तैयार करने में किया जाएगा. ’

बड़ी खबर: पाकिस्तान छोड़कर भारत के इस शहर में बसना चाहते हैं शोएब अख्तर, कहा-हिंदुओं की बहुत मदद की है

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज