Home /News /sports /

World Archery Youth Championships: भारत ने मिश्रित स्पर्धाओं में जीते 3 गोल्ड मेडल

World Archery Youth Championships: भारत ने मिश्रित स्पर्धाओं में जीते 3 गोल्ड मेडल

विश्व तीरंदाजी युवा चैंपियनशिप में भारत को गोल्ड मेडल (SAI Media/Twitter)

विश्व तीरंदाजी युवा चैंपियनशिप में भारत को गोल्ड मेडल (SAI Media/Twitter)

भारत ने व्रोकला में शनिवार को चल रही विश्व तीरंदाजी युवा चैंपियनशिप में कंपाउंड कैडेट महिला और पुरुष और मिक्स्ड टीम इवेंट्स में गोल्ड मेडल जीते.

    नई दिल्ली. भारत ने व्रोकला में शनिवार को चल रही विश्व तीरंदाजी युवा चैंपियनशिप में कंपाउंड कैडेट महिला और पुरुष और मिक्स्ड टीम इवेंट्स में गोल्ड मेडल जीते. महिलाओं ने फाइनल में तुर्की को 228-216 से हराकर चल रही प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता, जबकि कैडेट पुरुष टीम ने फाइनल में यूएसए से बेहतर प्रदर्शन किया.

    भारतीय टीम में परनीत कौर, प्रिया गुर्जर और ऋद्धि वार्शिनी शामिल थीं और उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी तुर्की को अपनी छाप छोड़ते हुए शानदार प्रदर्शन किया. भारत की कैडेट पुरुष टीम में कुशाल दलाल, साहिल चौधरी और नितिन शामिल थे, जिन्होंने रोमांचक फाइनल में शीर्ष वरीयता प्राप्त यूएसए को 233-231 से हराकर उलटफेर किया.

    क्वॉलिफिकेशन दौर में विश्व रिकॉर्ड के साथ शीर्ष पर रहने वाली प्रिया गुर्जर को व्यक्तिगत स्पर्धा में सेलीन रोड्रिग्ज से तीन अंकों (136-139) से हार के साथ सिल्वर से संतोष करना पड़ा. परनीत कौर ने ग्रेट ब्रिटेन की हैली बोल्टन को 140-135 से हराकर ब्रॉन्ज जीता.

    10 अगस्त को भारतीय कंपाउंड तीरंदाजी लड़कियों और मिश्रित टीम ने चल रहे विश्व तीरंदाजी युवा चैम्पियनशिप के क्वॉलिफिकेशन चरणों के दौरान दो जूनियर (अंडर -18) विश्व रिकॉर्ड तोड़े थे. प्रिया गुर्जर, जिन्होंने व्यक्तिगत पोल के लिए 696 का स्कोर किया, परनीत कौर और रिधु सेंथिलकुमार ने 2067/2160 अंकों के साथ संयुक्त रूप से महिला टीम के विश्व रिकॉर्ड को 22 अंकों से तोड़ा.

    पुराना रिकॉर्ड यूएसए के पास 2045/2160 अंकों पर था.

    Tags: Gold Medal, Indian Shooting Team, World Archery Youth Championships

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर