लाइव टीवी

World Para Athletics Championships: संदीप चौधरी और सुमित अंतिल ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, देश को दिलाया ओलिंपिक कोटा

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 11:14 AM IST
World Para Athletics Championships: संदीप चौधरी और सुमित अंतिल ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, देश को दिलाया ओलिंपिक कोटा
संदीप चौधरी ने 66.18 मीटर दूर भाला फेंककर अपने विश्व रिकॉर्ड को बेहतर किया

संदीप चौधरी (Sandeep Chaudhary) ने विश्व पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप (Para World Championships) में गोल्ड और सुमित अंतिल ने सिल्वर मेडल जीता

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 11:14 AM IST
  • Share this:
दुबई. भारत के संदीप चौधरी (Sandeep Chaudhary) और सुमित अंतिल ने यहां विश्व पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप (Para World Championships) की एफ 64 भाला फेंक स्पर्धा में विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए क्रमश: स्वर्ण और रजत पदक अपने नाम कर लिया है. इसी के साथ दोनों खिलाड़ियों ने देश के लिए टोक्यो पैरालिंपिक (Tokyo Paralympics 2020) का कोटा भी हासिल कर लिया है.
संदीप (Sandeep Chaudhary) ने 66.18 मीटर दूर भाला फेंककर एफ 44 वर्ग में 65.80 मीटर के अपने विश्व रिकॉर्ड को बेहतर करते हुए स्वर्ण पदक जीता. वहीं सुमित ने 60.45 मीटर के अपने एफ 64 विश्व रिकॉर्ड से अच्छा प्रदर्शन किया और 62.88 मीटर की दूरी से रजत पदक हासिल किया. इस विश्व चैंपियनशिप में एफ 44 और एफ 64 को एक संयुक्त स्पर्धा बनाया गया है. विश्व रिकॉर्ड हालांकि खिलाड़ियों के क्लासिफिकेशन के आधार पर ही दर्ज होंगे. यूक्रेन के रोमन नोवाक (Roman Novak ) (एफ 44 एथलीट) ने 57.36 मीटर के सर्वश्रेष्ठ थ्रो से कांस्य पदक हासिल किया.



पिछली बार जीता था सिर्फ एक गोल्ड
Loading...

खेल मंत्री किरेन रिजीजू (Kiren Rijiju) ने संदीप चौधरी (Sandeep Chaudhary)  और सुमित अंतिल इस उपलब्धि के लिए बधाई दी. भारत ने विश्व चैंपियन सुंदर सिंह गुर्जर की अगुआई में दुबई 2019 वर्ल्ड पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप के लिए  23 सदस्यीय टीम भेजी.  भारत को सबसे ज्यादा मेडल की उम्मीद  जेवलिन और हाई जंप में है. हालांकि पिछली  बार 2017 में लंदन में हुए वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत एक गोल्ड सहित कुल पांच मेडल के साथ 34वें स्‍थान पर रहा था. टीम इंडिया (Team India) के कोच नवल सिंह का मानना है कि पिछली बार की तुलना में इस बार की भारतीय टीम ज्यादा मजबूत है. टीम में छह जेवलिन थ्रोअर हैं, जो पदक में प्रबल दावेदार हैं. कोच को संदीप और सुंदर जैसे अनुभवी खिलाड़ियों से काफी उम्मीद है और इनमें से संदीप खरे उतर गए. कोच का मानना है कि टीम को अपने प्रदर्शन पर पूरा भरोसा है.

भारत को मिली 2023 पुरुष हॉकी वर्ल्‍ड कप की मेजबानी

इलेक्ट्रीशियन की शूटर बेटी का कमाल, भारत को दिलवाया ओलिंपिक कोटा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 11:09 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...