अपना शहर चुनें

States

कांग्रेस का प्रचार करने पर कॉमनवेल्‍थ गोल्‍ड मेडलिस्‍ट पहलवान पर एफआईआर

संजय निरुपम और नरसिंह यादव.
संजय निरुपम और नरसिंह यादव.

नरसिंह यादव ने रविवार रात को संजय निरूपम के लिए अंधेरी-वेस्‍ट के यादवनगर में प्रचार किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2019, 4:30 PM IST
  • Share this:
मुंबई पुलिस ने पहलवान नरसिंह यादव पर कांग्रेस का प्रचार करने के लिए मामला दर्ज किया है. नरसिंह यादव पहलवान होने के साथ ही महाराष्‍ट्र पुलिस में असिस्‍टेंट कमिश्‍नर ऑफ पुलिस (एसीपी) के पद पर भी हैं और आर्म्‍स डिवीजन में तैनात हैं. उन पर आरोप है कि उन्‍होंने कांग्रेस उम्‍मीदवार संजय निरूपम के पक्ष में प्रचार किया और वोट मांगे. शिकायत आने के बाद अंबोली थाने में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. संजय निरूपम मुंबई उत्‍तर-पश्चिम सीट से चुनाव लड़ रहे हैं और उनके सामने शिवसेना के गजानंद कीर्तिकर खड़े हैं.

नरसिंह यादव ने रविवार रात को संजय निरूपम के लिए अंधेरी-वेस्‍ट के यादव नगर में प्रचार किया था. वह सरकारी नौकरी में हैं और ऐसे में किसी राजनीतिक दल के लिए काम नहीं कर सकते. पुलिस ने उन पर मामला दर्ज किया है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि न‍रसिंह यादव के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी शुरू की जाएगी.

Asian Athletics Championships 2019: गोमती के बाद शॉटपुट में तेजिंदर पाल ने भारत को दिलाया दूसरा गोल्ड



बता दें कि नरसिंह यादव कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स के गोल्‍ड मेडलिस्‍ट हैं. उन्‍होंने 74 किलो भारवर्ग में नई दिल्‍ली में हुए 2010 के कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में सोना जीता था. हालांकि बाद में 2016 के रियो ओलंपिक के समय उन्‍हें टीम में नहीं चुने जाने पर काफी विवाद हुआ था.
जानें विजेंदर से क्यों हैं कांग्रेस की नजदीकियां, क्या है टिकट मिलने की वजह

वह डोपिंग विवाद में भी फंस गए थे. इसके चलते उन पर चार साल का बैन लगा दिया गया था. वहीं नरसिंह का कहना था कि उनके सैंपल से उनके एक विरोधी ने छेड़छाड़ की. उनके इस दावे को भारत की एंटी डोपिंग एजेंसी ने मान लिया था, लेकिन वर्ल्‍ड डोपिंग एजेंसी ने इसे चुनौती दी थी. इसमें फैसला नरसिंह यादव के खिलाफ गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज