लाइव टीवी

सुशील कुमार को लगा बड़ा झटका, फेडरेशन ने ट्रायल टालने से किया इनकार

भाषा
Updated: January 2, 2020, 6:24 PM IST
सुशील कुमार को लगा बड़ा झटका, फेडरेशन ने ट्रायल टालने से किया इनकार
सुशील कुमार भारत को दो बार ओलिंपिक में मेडल दिला चुके हैं

सुशील कुमार (Sushil Kumar) ने चोटिल होने के कारण भारतीय कुश्ती महासंघ (Wrestling Federation of India) से ट्रायल से टालने का आग्रह किया था

  • Share this:
चोटिल सुशील कुमार (Sushil Kumar) के पुरुषों के 74 किग्रा फ्रीस्टाइल के ट्रायल्स टालने के आग्रह के बावजूद भारतीय कुश्ती महासंघ (Indian Wrestling Federation) ने इस वर्ग के ट्रायल्स भी पूर्व कार्यक्रम के अनुसार करवाने का फैसला किया है.

इस स्टार पहलवान को हालांकि मार्च में टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympic) के लिए क्वालिफाई करने का मौका मिल सकता है. अपने करियर को पुनजीर्वित करने के लिये संघर्षरत सुशील हाथ में चोट के कारण शुक्रवार को होने वाले ट्रायल्स से हट गए हैं और उन्होंने अपने वर्ग के ट्रायल्स को टालने का आग्रह किया.

फेडरेशन नहीं टालेगा ट्रायल्स
ट्रायल्स का विजेता रोम (Rome) में 15 से 18 जनवरी के बीच होने वाले पहले रैकिंग सीरीज टूर्नामेंट, नयी दिल्ली में 18 से 23 फरवरी के बीच होने वाली एशियन चैंपियनशिप (Asian Championship) और चीन के झियान में 27 से 29 मार्च के बीच होने वाले एशियन ओलिंपिक क्वालिफायर (Asian Olympic Qualifier) के लिए भारतीय टीम में जगह मिलेगी.

sports, olympics, sushil kumar, tokyo olympics, wrestling, trials, स्पोर्ट्स न्यूज, सुशील कुमार, टोक्यो ओलिंपकि, ओल‌िंपिक, कुश्ती, पहलवान, कुश्ती ट्रायल्स
सुशील कुमार साल 2019 में वर्ल्ड चैंपियनशिप के बाद से कोई टूर्नामेंट नहीं खेले हैं. (फाइल फोटो)


डब्ल्यूएफआई के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि सभी वर्गों (पुरुष फ्रीस्टाइल में पांच और ग्रीको रोमन में छह) में आयोजित किये जाएंगे. सिंह ने पीटीआई से कहा, ‘निश्चित तौर पर ट्रायल्स टाले नहीं जाएंगे. हमारे पास 74 किग्रा में लड़ने वाले पहलवान हैं. सुशील अगर चोटिल हो गया तो हम क्या कर सकते हैं.’

सुशील कुमार के पास अब भी है मौकाडब्ल्यूएफआई अध्यक्ष से पूछा गया कि क्या सुशील को एशियाई क्वालिफायर्स में मौका दिया जाएगा, उन्होंने कहा, ‘हम रैंकिंग सीरीज में 74 किग्रा के विजेता का प्रदर्शन देखेंगे. इसके बाद ही हम अगले कदम पर फैसला करेंगे.’

पुरुष फ्रीस्टाइल में रवि दहिया (57 किग्रा), बजरंग (65 किग्रा) और दीपक पूनिया (86 किग्रा) जबकि महिला वर्ग में विनेश फोगाट (53 किग्रा) ने नूर सुल्तान में विश्व चैंपियनशिप में टोक्यो ओलिंपिक खेलों के लिये कोटा हासिल किया था. रवि, दीपक और विनेश को ट्रायल्स में भाग लेने के लिये कहा गया है. इन वर्गों के लिये मुकाबला केवल रोम और नयी दिल्ली प्रतियोगिताओं के लिये होगा.

sports, olympics, sushil kumar, tokyo olympics, wrestling, trials, स्पोर्ट्स न्यूज, सुशील कुमार, टोक्यो ओलिंपकि, ओल‌िंपिक, कुश्ती, पहलवान, कुश्ती ट्रायल्स
दो ओलिंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार फिलहाल चोट से उबरने में लगे हैं. (फाइल फोटो)


मार्च के एशियन क्वालिफायर में मिल सकता है सुशील को मौका
डब्ल्यूएफआई के सहायक सचिव विनोद तोमर (Vinod Tomar) ने कहा, ‘अगर डब्ल्यूएफआई को लगता है कि मार्च में एशियन क्वालिफायर (तोक्यो खेलों के लिये) के लिये दमदार उम्मीदवार नहीं है तो सुशील को ट्रायल्स में शामिल होने के लिये कहा जा सकता है.’

सुशील (Sushil Kumar) अपने करियर को फिर से ढर्रे पर लाने के लिये संघर्ष कर रहे हैं. वह अपने रूसी कोच कमाल मालिकोव के साथ अभ्यास कर रहे थे. सुशील ने पीटीआई से कहा, ‘मैं दो सप्ताह में फिट हो जाऊंगा. चिंता मत करो मैं वापसी करूंगा. विश्व चैंपियनशिप के बाद अभ्यास करते हुए मैं चोटिल हो गया था. डब्ल्यूएफआई इस बारे में जानता है. अगर वे ट्रायल्स करवाना चाहते हैं तो ठीक है.’ महिला ट्रायल्स शनिवार को लखनऊ में होंगे.

इस भारतीय हॉकी खिलाड़ी ने सिर्फ 28 साल की उम्र में ले लिया संन्यास!

कोच को याद कर भावुक हुए सचिन तेंदुलकर, सोशल मीडिया पर लिखा खास संदेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 2, 2020, 6:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर