रियो ओलंपिक में पी वी सिंधु का रजत पक्का, ऐसा करने वाली भारत की पहली महिला एथलीट

रियोसेंटर पवेलियन-4 में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में सिंधु ने छठी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी जापान की निजोमी ओकुहारा को सीधे गेमों में 21-19, 21-10 से हराते हुए फाइनल का टिकट पक्का कर लिया।

News18India.com
Updated: August 19, 2016, 6:15 PM IST
News18india.com
News18India.com
Updated: August 19, 2016, 6:15 PM IST
रियो डी जेनेरियो। भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पी. वी. सिंधु ने ब्राजील की मेजबानी में खेले जा रहे ओलंपिक खेलों में गुरुवार को महिला एकल वर्ग के फाइनल में प्रवेश कर लिया और भारत को बैडमिंटन में पहला ओलंपिक स्वर्ण हासिल करने की उम्मीद जगा दी। रियोसेंटर पवेलियन-4 में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में सिंधु ने छठी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी जापान की निजोमी ओकुहारा को सीधे गेमों में 21-19, 21-10 से हराते हुए फाइनल का टिकट पक्का कर लिया।

फाइनल में सिंधु का सामना शीर्ष वरीयता प्राप्त स्पेन की कैरोलिना मारिन से होगा। सिंधु अब अगर फाइनल मैच हार भी जाती हैं तो उनका रजत पदक पक्का है, जो भारत का ओलंपिक में बैडमिंटन का पहला रजत पदक होगा। साथ ही वो पहली महिला एथलीट बन जाएंगी जो भारत के लिए रजत जीतेंगी।

सिंधु ने पहले गेम में जबरदस्त प्रदर्शन किया और 10-6 की बढ़त ले ली। ओकुहारा की लाख कोशिशों के बावजूद भी सिंधु ने उन्हें आगे नहीं निकलने दिया और 27 मिनट में गेम 21-19 से अपने नाम किया।सिंधु ने दूसरे गेम की शुरुआत अच्छी नहीं की और वह 0-3 से पीछे थीं। 10वीं विश्व वरियता प्राप्त सिंधु ने इसके बाद 5-5 से और 10-10 से बराबरी की। सिंधु ने इसके बाद चौंकाने वाली वापसी की और लगातार 11 अंक हासिल कर 21-10 से मैच जीत लिया। यह गेम 22 मिनट चला।



गौरतलब है इस ओलंपिक में भारत की बीजिंग ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल शुरुआती दौर में ही हारकर बाहर हो गईं लेकिन पी वी सिंधू सेमीफाइनल में और किदांबी श्रीकांत क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने में कामयाब हो गए। किदांबी तो कल क्वार्टरफाइनल हारकर स्पर्धा से बाहर हो गए लेकिन सिंधू ने भारत की पदक की उम्मीदों को पूरा कर दिया।
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर