होम /न्यूज /खेल /

वर्ल्ड कप फुटबॉल: फाइनल के दौरान मैदान पर घुसने वाली महिलाओं को मिली ये सजा

वर्ल्ड कप फुटबॉल: फाइनल के दौरान मैदान पर घुसने वाली महिलाओं को मिली ये सजा

फाइनल मैच के दौरान मैदान पर अचानक चार लोग दौड़ते हुए घुस गए. इसके चलते मैच को कुछ देर के लिए रोकना पड़ा था.

फाइनल मैच के दौरान मैदान पर अचानक चार लोग दौड़ते हुए घुस गए. इसके चलते मैच को कुछ देर के लिए रोकना पड़ा था.

इस ग्रुप पर आरोप लगाया गया है कि इसने नियमों का उल्लंघन किया. इसके अलावा इन पर गैर कानूनी तरीके से पुलिस वर्दी पहनने का भी आरोप है.

    फीफा वर्ल्ड कप फुटबॉल के फाइनल मैच के दौरान मैदान पर घुसने वाले रूस की महिला संगठन Pussy Riot के चार सदस्यों को 15 दिनों की हिरासत में भेज दिया गया है.

    इसके अलावा इस संगठन पर किसी भी स्टेडयिम में मैच देखने को लेकर तीन साल का बैन लगाया गया है. इस ग्रुप पर आरोप लगाया गया है कि इसने नियमों का उल्लंघन किया. इसके अलावा इन पर गैर कानूनी तरीके से पुलिस वर्दी पहनने का भी आरोप है.



    आपको बता दें कि रविवार को फ्रांस और क्रोएशिया के बीच फाइनल मैच के दौरान मैदान पर अचानक चार लोग दौड़ते हुए घुस गए. इसके चलते मैच को कुछ देर के लिए रोकना पड़ा था.



    बाद में रूस की महिला संगठन पुसी रायट ने इसकी जिम्मेदारी ली. ट्विटर पर जारी एक पोस्ट में इस ग्रुप ने कहा कि उसने ये सब प्रदर्शन के दौरान अवैध गिरफ्तारी और राजनीतिक कैदियों के लिए किया है. इस प्रदर्शन को उन्होंने पुलिसमैन एंटर द गेम का नाम दिया था. साल 2011 से ही ये विरोधी समूह सक्रिय रहा है. ये राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रशासन के खिलाफ विशेष रूप से मुखर रहा है, जिन्हें ये ग्रुप एक तानाशाह मानता है.

    ये भी पढ़ें: 

    IND vs ENG: इंग्‍लैंड को हराकर लगातार 10वीं सीरीज अपने नाम करना चाहेगी टीम इंडिया
    बॉल टेंपरिंग मामले में श्रीलंकाई कप्तान, कोच और मैनेजर चार वनडे और दो टेस्ट से निलंबित

    Tags: 2018 FIFA WORLD CUP

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर