Home /News /sports /

पैरालंपिक मेडल विजेता का जुनूनः दिवाली मनाने के बजाये प्रैक्टिस करने जाते हैं नोएडा DM सुहास एलवाई

पैरालंपिक मेडल विजेता का जुनूनः दिवाली मनाने के बजाये प्रैक्टिस करने जाते हैं नोएडा DM सुहास एलवाई

सुहास एलवाई की पत्‍नी ऋतु सुहास ने बताया कि वो प्रैक्टिस कमी मिस नहीं करते हैं.

सुहास एलवाई की पत्‍नी ऋतु सुहास ने बताया कि वो प्रैक्टिस कमी मिस नहीं करते हैं.

Tokyo Paralympic में मेडल जीतने वाले नोएडा के जिलाधिकारी सुहास एलवाई की पत्‍नी और गाजियाबाद की एडीएम प्रशासन ऋतु सुहास ने बताया कि उनके पति को ऐसा जुनून है कि वे दिवाली सेलेब्रेट करने के बजाये प्रैक्टिस करने जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्‍ली. गाजियाबाद की एडीएम प्रशासन और सुहास एलवाई (Suhas LY) की पत्‍नी ऋतु सुहास (Ritu Suhas) ने बताया कि सुहास एलवाई का जुनून ही है, जिसकी वजह से आज वो पदक (Medal) जीत पाए हैं. वे बताती हैं कि कुछ साल पहले दिवाली की पूजा में पूरा परिवार एक साथ था, लेकिन सुहास पूजा करते ही किट उठाकर प्रैक्टिस के लिए निकल गए, सभी लोग चौंक गए. सबको उम्मीद थी कि एक साथ दिवाली सेलिब्रेट करेंगे. वे कभी भी प्रैक्टिस मिस नहीं करते हैं. किट उनकी गाड़ी में होती है, मौका मिलते ही प्रैक्टिस कर लेते हैं.

    ऋतु सुहास ने कहा देश के लिए पैरालंपिक खेलना सुहास एलवाई का सपना था. यहां तक पहुंचने के लिए सुहास ने जिंदगी के कई साल समर्पित किए हैं. उनकी कड़ी मेहतन और और समर्पण का फल है. उन्‍होंने बताया कि जब वे पैरालंपिक के लिए रवाना हो रहे थे, तो हमने यही कहा था, कि नतीजे की चिंता किए बिना अपना श्रेष्‍ट खेल खेलें. सुहास ने यही किया. इस सफलता का श्रेय सुहास की मेहनत को जाता है. सरकारी सेवा और महत्‍वपूर्ण पद में तैनात रहने के बावजूद वे रोजाना प्रेक्टिस के लिए समय निकालते हैं. अपनी जिम्‍मेदारी निभाते हुए रोजाना रात 12 बजे तक प्रैक्टिस करते हैं. उन्‍होंने बताया कि यहां तक पहुंचने में कोच ने भी बहुत मदद की है.

    ऋतु सुहास के अनुसार उनकी इस जीत में उनके साथ पूरे परिवार का भी त्याग है. ऑफिस के बाद लोग बाहर खाना खाने, मूवी देखने और घूमने के लिए जाते हैं. लेकिन हम लोगों ने काफी लंबे समय से बाहर घूमना बंद कर रखा है. हम लोग चाहते थे कि ऑफिस के बाद शाम के समय में वो केवल खेल पर ही फोकस करें. वो खानपान को लेकर अलर्ट रहते हैं. सुहास बाहर कुछ भी तला नहीं खाते हैं. घर पर भी तला भुना बनाना बंद कर रखा है.

    Tags: Badminton, Paralympics, Tokyo Paralympics 2021

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर