Home /News /sports /

World Tour Finals: पीवी सिंधु जापान की यामागुची को हराकर फाइनल में, 3 साल पहले जीता था खिताब

World Tour Finals: पीवी सिंधु जापान की यामागुची को हराकर फाइनल में, 3 साल पहले जीता था खिताब

पीवी सिंधु बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स के फाइनल में पहुंचीं. सेमीफाइनल में उन्होंने जापान की अकाने यामागुची को हराया. (AFP)

पीवी सिंधु बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स के फाइनल में पहुंचीं. सेमीफाइनल में उन्होंने जापान की अकाने यामागुची को हराया. (AFP)

World Tour Finals: भारतीय बैडमिंटन स्टार पी वी सिंधु (PV Sindhu) बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स के फाइनल में पहुंच गई हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में जापान की अकाने यामागुची (Akane Yamaguchi) को शिकस्त दी. वो इससे पहले 2018 में खिताब जीत चुकी हैं और ऐसा करने वाली इकलौती भारतीय हैं. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में कांस्य पदक जीतने के बाद सिंधु फ्रेंच ओपन, इंडोनेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन के सेमीफाइनल तक पहुंची थी.

अधिक पढ़ें ...

    बाली. भारतीय बैडमिंटन स्टार पी वी सिंधु ने शनिवार को एक कठिन मुकाबले में जापान की अकाने यामागुची को हराकर बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स के फाइनल में प्रवेश कर लिया. मौजूदा विश्व चैम्पियन और दो बार की ओलंपिक पदक विजेता सिंधु ने यह रोमांचक मुकाबला 21-15, 15-21, 21-19 से जीता. वह रविवार को फाइनल में कोरिया की एन सेयंग से भिड़ेंगी, जिन्होंने थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवोंग को दूसरे सेमीफाइनल में 25-23 21-17 से हराया. वह सत्र के इस आखिरी टूर्नामेंट के फाइनल में तीसरी बार पहुंची है. उन्होंने 2018 में यह खिताब जीता था और यह उपलब्धि अपने नाम करने वाली वह अकेली भारतीय हैं.

    दुनिया की सातवें नंबर की खिलाड़ी सिंधु का तीसरे नंबर की जापानी खिलाड़ी के खिलाफ रिकॉर्ड 12-8 का था. टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद सिंधु फ्रेंच ओपन, इंडोनेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन के सेमीफाइनल तक पहुंची थी. वह मार्च में स्विस ओपन फाइनल हार गईं थी. वो उप विजेता रही थीं. लेकिन सेयंग के खिलाफ फाइनल सिंधु के लिये आसान नहीं होगा. क्योंकि दुनिया की छठे नंबर की खिलाड़ी इंडोनेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन में लगातार खिताब जीतने के बाद सत्र के अंतिम टूर्नामेंट में पहुंची हैं. सेयंग ने अक्टूबर में डेनमार्क ओपन के क्वार्टरफाइनल में भी सिंधु को हराया था.

    यामागुची के खिलाफ सिंधु पहले गेम में 0-4 से पिछड़ रही थीं. लेकिन वह तेजी से 4-4 से बराबरी करने और फिर इसे 9-9 करने में सफल रहीं. दोनों बराबरी पर चल रही थीं पर सिंधु ने 15-14 की बढ़त को 18-15 कर दिया. इसके बाद उन्होंने लगातार तीन अंक जुटाकर पहला गेम अपने नाम किया. दूसरे गेम में कड़ी टक्कर रही जिसमें दोनों खिलाड़ी 10-10 से बराबरी पर थीं. पर यामागुची ने बिना किसी परेशानी के इसे जीत लिया. निर्णायक गेम में सिंधु और यामागुची 5-5 पर बराबरी पर थी. इसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने लगातार सात अंक जुटा लिये.

    CWG 2022 में भारतीय हॉकी टीमें खेलेंगी या नहीं ? इस पर हुआ बड़ा फैसला

    नीरज चोपड़ा अमेरिका में करेंगे ट्रेनिंग, 90 दिन के अभ्यास को SAI ने दी मंजूरी

    जापानी खिलाड़ी ने वापसी करने की कोशिश की और अंतर 11-13 कर दिया. पर सिंधु 17-12 से आगे हो गयीं. यामागुची भी आसानी से हार मानने वाली नहीं थीं, उन्होंने स्कोर 19-19 से बराबर कर दिया. वहीं सिंधु ने अपना सर्वश्रेष्ठ अंत के लिये बचा रखा था और उन्होंने लगातार दो अंक जुटाकर तीसरा गेम जीतकर मैच जीत लिया. युवा भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन पुरूष एकल के सेमीफाइनल में डेनमार्क के मौजूदा ओलंपिक चैम्पियन और दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी विक्टर एक्सेलसेन से भिड़ेंगे.

    Tags: Badminton, Badminton World Federation, Pv sindhu, Sports news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर