रोजर फेडरर ने कहा- एथलीट खुद फैसला करें ओलंपिक में उतरना है या नहीं

रोजर फेडरर ओलंपिक में एक गोल्ड सहित दो मेडल जीत चुके हैं (roger federer Instagram)

रोजर फेडरर ओलंपिक में एक गोल्ड सहित दो मेडल जीत चुके हैं (roger federer Instagram)

कोरोना के बीच टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) के आयोजन को लेकर संशय बना हुआ है. इस बीच टेनिस स्टार रोजर फेडरर (Roger Federer) ने भी अब तक फैसला नहीं किया है. वे ओलंपिक में एक गोल्ड सहित दो मेडल जीत चुके हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. टेनिस के दिग्गज खिलाड़ी रोजर फेडरर (Roger Federer) ने कोरोना महामारी के बीच टोक्यो ओलिंपिक  (Tokyo Olympic) को लेकर बड़ा बयान दिया है. उनका कहना है कि एथलीट को खुद यह फैसला करना है कि उन्हें ओलंपिक खेलना है या नहीं. 20 बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन स्विट्जरलैंड के फेडरर ने कहा कि कोरोना के बीच टोक्यो गेम्स होंगे या नहीं, यह तो अभी कोई नहीं बता सकता. फेडरर ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं.

रोजन फेडरर खुद ओलंपिक में उतरेंगे या नहीं, इसे लेकर वे भी स्पष्ट नहीं हैं. उनका कहना है कि उस समय के हालात देखने के बाद ही वे कुछ फैसला करेंगे. फेडरर ने 2008 बीजिंग ओलंपिक में डबल्स में गोल्ड जीता था जबकि 2012 के लंदन ओलंपिक में उन्होंने सिंगल्स में सिल्वर मेडल पर कब्जा किया था. पूर्व नंबर-1 खिलाड़ी रोजर फेडरर चोट से वापसी कर रहे हैं और सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैड टाइटल जीतने वाले खिलाड़ी हैं.

देश के लिए मेडल जीतना बड़ी बात

रोजर फेडरर ने स्विस चैनल से कहा कि ईमानदारी से कहूं तो मुझे भी नहीं पता कि क्या होने वाला है. ओलंपिक होंगे या नहीं, इन दोनों बातों के बीच ही मैं भी फंसा हूं. मैं देश के लिए ओलंपिक में मेडल जीतना चाहता हूं. यही मेरा सबसे बड़ा गौरव और सम्मान भी है. यदि मौजूदा हालात के चलते यह गेम्स नहीं होते हैं, तो मैं सबसे पहले स्थिति को समझूंगा और स्वीकर करूंगा.
टीका लगवा चुके हैं फेडरर

रोजन फेडरर ने कहा कि मेरा मानना है कि खिलाड़ियाें को प्राथमिकता को समझना चाहिए. उन्हें टोक्यो ओलिंपिक में शामिल होना है या नहीं. बतौर एथलीट आपको अपना फैसला लेना है. फेडरर कोरोना का टीका लगवा चुके हैं. उन्होंने कहा कि मैं खुश हूं कि मैंने टीका लगवाया लिया है. मुझे काफी यात्रा करनी पड़ती है. इसलिए यह जरूरी था. हमें अपने परिवार और दोस्तों के लिए सावधान रहना होगा. फेडरर चार बच्चों के पिता हैं.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान के वहाब रियाज ने कहा- आईपीएल दुनिया की सबसे बड़ी लीग, PSL से तुलना नहीं



याचिका पर 3.50 लाख लोगों ने हस्ताक्षर किए

टोक्यो ओलिंपिक के मुकाबले 23 जुलाई से 8 अगस्त के बीच होने हैं. टोक्यो में 31 मई तक कोरोना के कारण इमरजेंसी लगी हुई है. जापान में कई सर्वे हुए हैं और अधिकतर लोगों का मानना है कि ओलंपिक को रद्द कर दिया जाए या टाल दिया जाए. ओलंपिक रद्द करने को लेकर एक याचिका भी दायर की गई है, जिसके सपोर्ट में करीब 3.50 लाख से ज्यादा लोगों ने साइन किए हैं. इसे आयोजकों को सौंप भी दिया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज