• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • साउथ कोरिया में शुक्रवार से फुटबॉल लीग का आगाज, बात करने और गोल के जश्न मनाने को लेकर बने ये नियम

साउथ कोरिया में शुक्रवार से फुटबॉल लीग का आगाज, बात करने और गोल के जश्न मनाने को लेकर बने ये नियम

शुक्रवार से शुरू हो रही है कोरिया फुटबॉल लीग

शुक्रवार से शुरू हो रही है कोरिया फुटबॉल लीग

साउथ कोरिया (South Korea) की 'के लीग' (K League) दो महीने की देरी से शुरू हो रही है, कोरोना वायरस की वजह से इसमें कई बदलाव किए गए हैं

  • Share this:
    सियोल. कोरोना वायरस की वजह से सूने पड़े खेल के मैदान अब जल्द ही भरने वाले हैं. कोरोना वायरस के बाद पहली बार एक बड़ी फुटबॉल लीग का आगाज हो रहा है. शुक्रवार से साउथ कोरिया की के लीग (K League) शुरू हो रही है, जिसके मैच खाली मैदानों पर होने वाले हैं. खाली स्टेडियम में खेले जाने वाले मैचों के दौरान संक्रमण के खतरे से बचने के लिए नए सुरक्षा दिशानिर्देश जारी किए गए हैं जिसमें गोल का जश्न मनाने, हाथ मिलाने और यहां तक कि बात करने को लेकर भी कड़े नियम बनाए गए हैं.

    कोरिया में भी था कोरोना का प्रकोप
    बेलारूस, तुर्कमेनिस्तान और ताईवान जैसे देशों ने कोरोना वायरस के कारण फुटबॉल मुकाबले नहीं रोके थे लेकिन 2002 विश्व कप का सह मेजबान साउथ कोरिया फुटबॉल खेलने वाला पहला बड़ा देश है जो कोरोना वायरस के विलंब के बाद लीग शुरू कर रहा है. साउथ कोरिया उन देशों में शामिल था जिनमें चीन के बाहर शुरुआत में कोरोना वायरस का सबसे अधिक प्रकोप दिखा था जिसके बाद पेशेवर खेलों ने अपने सत्र निलंबित या स्थगित कर दिए थे और फिर बाद में दुनिया भर के देशों ने यही कदम उठाए थे.

    कोरिया ने हालांकि अपने मजबूत ‘पहचान, परीक्षण और उपचार’ कार्यक्रम से इस महामारी को नियंत्रित कर लिया है और मंगलवार को खाली स्टेडियम में बेसबाल की वापसी के बाद अब फुटबॉल की वापसी होगी. के-लीग (K League) एशिया की पहली बड़ी प्रतियोगिता है जिसमें मुकाबले खेले जाएंगे. यूरोप की बड़ी लीग अभी बंद हैं और सिर्फ जर्मनी की बुंदेसलीगा ने मैच दोबारा शुरू करने की ठोस योजना बनाई है.

    कड़े नियमों के साथ खेली जाएगी के लीग
    के लीग (K League) के अध्यक्ष क्वून ओह गैप ने बताया कि इस लीग के लिए उन्होंने कई कड़े नियम बनाए हैं. उन्होंने कहा, 'ये बेहद अच्छा मौका है कि दुनिया एशिया की सबसे बड़ी लीग को जाने. उम्मीद है कि के लीग देखने के बाद लोग कोरोना वायरस को भूल जाएंगे.' उन्होंने कहा, 'कोरोना वायरस शांत हुआ है लेकिन पूरी तरह से खत्म नहीं. अगर कोरोना वायरस का मामला किसी टीम के अंदर आता है तो उनके और विरोधी टीम के मैच दो हफ्ते के लिए स्थगित हो जाएंगे.'

    क्वून ओह गैप ने बताया कि मैच के बाद होने वाले इंटरव्यू पिच पर ही होंगे, उन्हें स्टेडियम कॉरिडोर में आयोजित नहीं किया जाएगा. साथ ही रिपोर्टर भी खिलाड़ियों से दो मीटर दूर रहेंगे. इस लीग में खिलाड़ी और कोच हाथ नहीं मिला सकेंगे और उन्हें मास्क पहने रखना होगा.

    खिलाड़ियों के थूकने पर रोक
    के लीग (K League) के अध्यक्ष ने कहा कि कोई भी खिलाड़ी मैदान पर थूक नहीं सकेगा. अगर वो जानबूझकर करता है तो उन्हें चेतावनी दी जाएगी. यही नहीं खिलाड़ी पास आकर आपस में बात भी नहीं कर सकते हैं.

    खत्म होने वाला था वीरेंद्र सहवाग का करियर, इस एक फैसले ने बदल दी जिंदगी

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज