Tokyo Olympics: सुशील कुमार को लगा करियर का सबसे बड़ा झटका, टोक्यो जाने की उम्मीद खत्म

सुशील कुमार 2008 और 2012 ओलंपिक में मेडल जीत चुके हैं. (Sushil Kumar Twitter)

सुशील कुमार 2008 और 2012 ओलंपिक में मेडल जीत चुके हैं. (Sushil Kumar Twitter)

ओलंपिक में दो मेडल जीतने वाले रेसलर सुशील कुमार (Sushil Kumar) के टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) में उतरने की उम्मीद खत्म हो गई है. अंतिम क्वालिफायर (Olympic qualifier) टूर्नामेंट में भारतीय टीम में उन्हें जगह नहीं मिली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 7:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व एशियाई चैंपियन अमित धनखड़ (74 किग्रा) ने विश्व ओलंपिक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट में भारत की कुश्ती टीम में राष्ट्रीय चैंपियनशिप के स्वर्ण पदक विजेता संदीप मान की जगह ली. इससे अनुभवी सुशील कुमार (Sushil Kumar) के लिए टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) के रास्ते बंद हो गए हैं. बुल्गारिया के सोफिया में 6 से 9 मई तक होने वाला यह टूर्नामेंट टोक्यो खेलों से पहले अंतिम क्वालिफाइंग टूर्नामेंट है.

बीजिंग ओलंपिक 2008 में ब्रॉन्ज मेडल और लंदन ओलंपिक 2012 में सिल्वर मेडल जीतने वाले सुशील देश के सबसे बड़े खिलाड़ियों में शामिल हैं. चयन के लिए नाम पर विचार नहीं होने के बाद 37 साल के सुशील ने कहा, ‘इस समय जीवित रहना अधिक महत्वपूर्ण है. मैंने अब तक भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) से बात नहीं की है, मैं उनसे बात करूंगा.’ सहायक सचिव विनोद तोमर के हस्ताक्षर वाली विज्ञप्ति में डब्ल्यूएफआई ने कहा कि चयन समिति की बैठक के बाद टीम का चयन किया गया.

सत्यव्रत और सुमित को भी जगह मिली

अमित धनखड़ के अलावा फ्रीस्टाइल वर्ग में टीम में सत्यव्रत कादियान (97 किग्रा) और सुमित (125 किग्रा) को जगह दी गई है. डब्ल्यूएफआई ने विज्ञप्ति में कहा, ‘फ्रीस्टाइल में समिति ने 74 किग्रा वर्ग में बदलाव किया है. एशियाई क्वालिफायर और एशियाई चैंपियनशिप के लिए चुने गए संदीप मान ने संतोषजनक प्रदर्शन नहीं किया. इसलिए समिति ने अमित धनखड़ को मौका देने का फैसला किया, जो 16 मार्च को हुए चयन ट्रायल में दूसरे स्थान पर रहे थे.’
ग्रीको में सचिन राणा और दीपांशु जगह बनाने में सफल रहे

ग्रीको रोमन टीम में सचिन राणा (60 किग्रा), आशु (67 किग्रा), गुरप्रीत सिंह (77 किग्रा), सुनील (87 किग्रा), दीपांशु (97 किग्रा) और नवीन कुमार (130 किग्रा) को जगह दी गई है. उन्होंने कहा, ‘ग्रीको रोमन में समिति ने 60 किग्रा और 97 किग्रा में बदलाव किया है. इन वजन वर्गों में चुने गए पहलवानों जानेंद्र और रवि ने दोनों प्रतियोगिताओं (एशियाई क्वालीफायर और एशियाई चैंपियनशिप) में खराब प्रदर्शन किया. इसलिए समिति ने सचिन राणा और दीपांशु को मौका देने का फैसला किया जो चयन ट्रायल में दूसरे स्थान पर रहे थे.’ भारतीय महिला टीम में सीमा (50 किग्रा), निशा (68 किग्रा) और पूजा (76 किग्रा) को जगह मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज