Home /News /sports /

लक्ष्य सेन ने इंडिया ओपन जीतने के एक दिन बाद किया बड़ा फैसला, इस टूर्नामेंट में नहीं उतरेंगे

लक्ष्य सेन ने इंडिया ओपन जीतने के एक दिन बाद किया बड़ा फैसला, इस टूर्नामेंट में नहीं उतरेंगे

Syed Modi International Tournament: लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) सैयद मोदी टूर्नामेंट से हट गए हैं. (AFP)

Syed Modi International Tournament: लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) सैयद मोदी टूर्नामेंट से हट गए हैं. (AFP)

Syed Modi International Tournament: लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ने रविवार को इंडिया ओपन का खिताब जीता. उन्होंने पहली बार खिताब पर कब्जा किया. वे अक्टूबर से लगातार इवेंट में उतर रहे हैं. इस कारण आराम करने के लिए उन्होंने टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. इंडिया ओपन चैंपियन लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ने सोमवार को थकान के कारण सैयद मोदी इंटरनेशनल सुपर-300 बैडमिंटन टूर्नामेंट (Syed Modi International Tournament) से नाम वापस ले लिया. सेन पिछले साल अक्टूबर से लगातार खेल रहे हैं. उत्तराखंड के 20 वर्ष के सेन ने वर्ल्ड चैम्पियन सिंगापुर के लो कीन यू को हराकर इंडिया ओपन खिताब जीता. उन्होंने आयोजकों को भेजे पत्र में लिखा, ‘पिछली रात इंडिया ओपन 2022 खेलने के बाद मैं बहुत थक गया हूं. इन हालात में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर सकूंगा.’

उन्होंने कहा, ‘इसलिए अपने कोचों, फिजियो और परिवार से मशविरे के बाद मैंने फैसला किया है कि इस साल सैयद मोदी इंटरनेशनल 2022 टूर्नामेंट नहीं खेलूंगा, ताकि जरूरी आराम कर सकूं. इसके बाद मार्च से आगामी टूर्नामेंटों की तैयारी करूंगा.’ वर्ल्ड चैम्पियनशिप के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट सेन ने अक्टूबर से अब तक 9 टूर्नामेंट खेले हैं. उन्होंने कहा कि मैं इतने कम समय में यह जानकारी देने के लिए माफी चाहता हूं. उम्मीद है कि आप मेरी स्थिति समझेंगे. उम्मीद करता हूं कि टूर्नामेंट अच्छा रहेग. सभी प्रतियोगियों को शुभकामनाएं.

पूरे मैच में नियंत्रण बनाए रखा

इस बीच भारत के पूर्व कोच विमल कुमार (Vimal Kumar) ने कहा कि इस युवा बैडमिंटन खिलाड़ी को इंटरनेशनल लेवल पर लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के लिए सहनशक्ति और रणनीतिक कौशल पर काम करने की जरूरत है. विमल ने कहा, ‘लक्ष्य का रणनीतिक खेल काफी बेहतर था. मैच पर उसका नियंत्रण था और उसने लोह को आक्रामक होने का मौका नहीं दिया. उसके जवाबी हमले और नेट ड्रिबल बेहतरीन थे. वह सामान्य एक्शन में सहजता से शटल को कोर्ट के पीछे की तरफ फ्लिक कर रहा था. कुल मिलाकर, उसने बहुत परिपक्व खेल खेला.’

आगे की राह आसान नहीं

पूर्व ओलंपियन विमल कुमार ने कहा कि वह किसी भी दूसरे खिलाड़ी के भी बराबर है, लेकिन उसे अभी भी अपने रणनीतिक पक्ष, ताकत और कंडीशनिंग पर काम करने की जरूरत है. वह नेट के आस-पास स्थिरता बनाए रखने पर काम कर सकते हैं, उसकी सहनशक्ति और बेहतर हो सकती है. इसलिए, तकनीकी रूप से ऐसे सभी क्षेत्र हैं, जहां वह सुधार कर सकता है.

यह भी पढ़ें: IPL 2022: बेन स्टोक्स और पैट कमिंस आईपीएल से हट सकते हैं, बड़ी वजह आई सामने

उन्होंने कहा कि वह अब यूरोप, थाईलैंड और जापान के कई युवा खिलाड़ियों के निशाने पर होगा. मैं 2024 ओलंपिक के बारे में बात करके उन पर दबाव नहीं बनाना चाहता, लेकिन उसके लिए आगे की डगर मुश्किल होगी. यह इस पर निर्भर करेगा कि वह कितना अच्छा खेल सकता है, वह अपने शरीर की कितनी अच्छी देखभाल कर सकता है.

Tags: Badminton, India Open, Lakshya Sen, Sports news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर