लाइव टीवी

Davis Cup: महेश भूपति के पीछे हटने के बाद रोहित राजपाल बने कप्तान, पाकिस्तान दौरे पर संभालेंगे भारतीय टीम की कमान

भाषा
Updated: November 4, 2019, 4:07 PM IST
Davis Cup: महेश भूपति के पीछे हटने के बाद रोहित राजपाल बने कप्तान, पाकिस्तान दौरे पर संभालेंगे भारतीय टीम की कमान
रोहित राजपाल को सिर्फ पाकिस्तान दौरे के लिए भारतीय टीम का गैर खिलाड़ी कप्तान बनाया गया है

पाकिस्तान दौरे के लिए शीर्ष खिलाड़ियों के और कप्तान महेश भूपति (Mahesh Bhupathi) के हटने के बाद रोहित राजपाल(Rohit Rajpal) को भारत का गैर खिलाड़ी कप्तान बनाया गया है

  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व भारतीय खिलाड़ी और अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) की चयन समिति के अध्यक्ष रोहित राजपाल (Rohit Rajpal) को सोमवार को पाकिस्तान के खिलाफ उसकी सरजमीं पर होने वाले आगामी डेविस कप (Davis Cup) मुकाबले के लिए भारत का गैर खिलाड़ी कप्तान बनाया गया. इस तरह की अटकलें थी कि अनुभवी लिएंडर पेस (Leander Paes) को इस पद के लिए चुना जा सकता है, क्योंकि शीर्ष खिलाड़ियों और कप्तान महेश भूपति (Mahesh Bhupathi) के हटने के बाद उन्होंने स्वयं को उपलब्ध रखा था.
भारत के सुरक्षा संबंधी चिंता जताने के बाद इस्लामाबाद में 29 और 30 नवंबर को होने वाले इस मुकाबले को पहले ही एक बार स्थगित किया जा चुका है. एआईटीए ने चंडीगढ़ में अपनी वार्षिक आम बैठक में राजपाल को नियुक्त करने का फैसला किया.
एआईटीए के एक सूत्र ने बताया कि पूर्व अध्यक्ष अनिल खन्ना और निवर्तमान प्रवीण महाजन ने रोहित राजपाल(Rohit Rajpal)  के नाम का प्रस्ताव रखा और सभी इस पर सहमत हो गए. राजपाल गैर खिलाड़ी कप्तान के रूप में पाकिस्तान (Pakistan) जाएंगे और फिलहाल यह इंतजाम सिर्फ इस मुकाबले के लिए किया गया है. एआईटीए ने अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) से इस मुकाबले को तटस्थ स्थान पर स्थानांतरित करने का आग्रह किया था और विश्व टेनिस की संचालन संस्था सोमवार को इस संदर्भ में फैसला कर सकती है.

davis cup, india vs pakistan, Leander Paes, mahesh Bhupathi,Rohit Rajpal, भारत बनाम पाकिस्तान, लिएंडर पेस, महेश भूपति,
लिएंडर पेस और महेश भूपति (फाइल फोटो)


सुरक्षा कारणों से किया गया था स्‍थगित
इस मुकाबले का आयोजन पहले सितंबर में होना था, लेकिन दोनों देशों के बीच राजनीतिक तनाव के कारण भारत के अपने खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताने के बाद इसे स्थगित कर दिया गया था. भारत के जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के विशेष दर्जे को खत्म करने और इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के फैसले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया. राजपाल ने 1990 में सियोल में कोरिया के खिलाफ डेविस कप (Davis Cup) में पदार्पण किया, जहां भारत को 0-5 से व्हाइटवाश का सामना करना पड़ा था. राजपाल ने सिर्फ इसी मुकाबले में भारत का प्रतिनिधित्व किया था. उन्हें महज औपचारिकता के चौथे मैच में जेई सिक किम के खिलाफ 1-6, 2-6 से हार का सामना करना पड़ा था.

क्‍या बतौर कप्तान भूपति कर पाएंगे वापसी
Loading...

पिछले साल नवंबर में पांच सदस्यीय चयन पैनल के अध्यक्ष बनाए गए 48 साल के राजपाल को यह दूसरी बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है. भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के सदस्य राजपाल दिल्ली लाॅन टेनिस संघ के अध्यक्ष भी हैं. सूत्रों के अनुसार भूपति के पूर्ववर्ती पूर्व कप्तान आनंद अमृतराज भी पाकिस्तान के खिलाफ टीम की अगुआई करने के लिए वापसी के इच्छुक थे. अमृतराज हालांकि आश्वासन चाहते थे कि अगर उनकी वापसी होती हो तो यह कम से कम एक या दो साल के लिए हो. सूत्र ने बताया कि इस पद के लिए किसी और नाम पर विचार नहीं हुआ. यह देखना रोचक होगा कि कप्तान के रूप में भूपति (Mahesh Bhupathi)  की वापसी होगी या किसी और नए नाम पर विचार होगा. भूपति का कार्यकाल खत्म हो गया है.

भारतीय हॉकी टीम को ओलिंपिक मेडल जीतते देखना चाहते हैं कोच

ISL 2019: जमशेदपुर एफसी और बेंगलुरु का मुकाबला ड्रॉ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टेनिस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 3:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...