ऑस्ट्रेलियन ओपन: फाइनल में पहुंचे डोमिनिक थीम, नोवाक जोकोविच से होगी खिताबी टक्कर

ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में थीम

सेमीफाइनल में डोमिनिक थीम (Dominic Thiem) ने जर्मनी के अलेक्सांद्र जेवरेव को मात दी.

  • Share this:
    मेलबर्न. डोमिनिक थीम (Dominic Thiem) ने एक सेट से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए जर्मनी के अलेक्सांद्र जेवरेव को हराकर शुक्रवार को पहली बार ऑस्ट्रेलिया ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया जहां उनका सामना सात बार के चैंपियन नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) से होगा. ऑस्ट्रिया के 26 वर्षीय और यहां पांचवीं वरीयता प्राप्त थीम ने सातवीं रैंकिंग के जेवरेव को 3-6, 6-4, 7-6 (7/3), 7-6 (7/4) से पराजित किया. अब उन्हें जोकोविच की कड़ी चुनौती का सामना करना होगा जिन्होंने गुरुवार को दूसरी वरीयता प्राप्त रोजर फेडरर को सीधे सेटों में हराया था. थीम को सर्बियाई खिलाड़ी के खिलाफ बेहतरीन खेल दिखाना होगा. जोकोविच पिछले 12 मैचों से अजेय हैं और उन्होंने अब तक कभी ऑस्ट्रेलियाई ओपन का फाइनल नहीं गंवाया है.

    फाइनल में जोकोविच से भिड़ेंगे थीम


    थीम बोले- फाइनल में पहुंचना अविश्वसनीय
    थीम (Dominic Thiem) ने मैच के बाद कहा, 'यह अविश्वसनीय मैच था. दो टाईब्रेकर हुए. इसलिए यह कड़ा था और यह काफी करीबी मुकाबला था. उसकी सर्विस तोड़ना बेहद मुश्किल था. ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में पहुंचना अविश्वसनीय है. यह सत्र की शानदार शुरुआत है.' इससे पहले थीम दो बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंच चुके हैं लेकिन दोनों बार उन्हें राफेल नडाल ने हराया. थीम ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन के क्वार्टर फाइनल में स्पेनिश खिलाड़ी को हराकर बदला चुकता किया.

    नोवाक जोकोविच कभी ऑस्ट्रेलियन ओपन का फाइनल नहीं हारे


    महिला सिंगल्स के फाइनल में केनिन और मुगुरूजा की टक्कर
    ऑस्ट्रेलिया ओपन महिला एकल फाइनल में गैर वरीय गार्बाइन मुगुरूजा का सामना सोफिया केनिन से होगा और टूर्नामेंट से पहले सेरेना विलियम्स को प्रबल दावेदार मान रहे टेनिसप्रेमियों ने इस फाइनल की कल्पना भी नहीं की होगी. उलटफेरों से भरे टूर्नामेंट में 21 वर्ष की केनिन अगर स्पेन की मुगुरूजा को हरा देती है तो ‘जाइंट किलर ’ साबित होंगी. ऐसा करने पर वह सेरेना को पछाड़कर अमेरिका की नंबर एक खिलाड़ी भी बन जायेगी.

    सोफिया केनिन और मुगुरुजा के बीच होगा फाइनल


    अमेरिका की 38 वर्ष की सेरेना ऑस्ट्रेलिया की मार्गरेट कोर्ट के 24 ग्रैंडस्लैम के रिकार्ड की बराबरी से एक खिताब दूर है. उन्हें तीसरे दौर में चीन की वांग कियांग ने हराया. गत चैम्पियन नाओमी ओसाका भी तीसरे चरण में 15 वर्ष की कोको गॉ से हार गई थी. गॉ को अमेरिका की केनिन ने मात दी. शीर्ष दस में से छह खिलाड़ी तीसरे दौर में ही हार गए जिससे लग रहा था कि दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी एशले बार्टी की राह आसान हो गई है. मॉस्को में जन्मी 14वीं वरीयता प्राप्त केनिन ने सेमीफाइनल में उन्हें हराया.

    मुगुरूजा 2016 में फ्रेंच ओपन और 2017 में विम्बलडन जीत चुकी हैं


    बता दें मुगुरुजा और केनिन के बीच चाइना ओपन में टक्कर हुई थी जिसे केनिन ने जीता था.केनिन ने 12 महीने पहले ही होबार्ट में अपना पहला डब्ल्यूटीए खिताब जीता और सत्र के दौरान दो और खिताब अपने नाम किये. वहीं मुगुरूजा 2016 में फ्रेंच ओपन और 2017 में विम्बलडन जीत चुकी हैं. ऑस्ट्रेलिया ओपन में यह उनका पहला फाइनल है और पिछले डेढ़ साल की खराब फॉर्म की वजह से वो रैंकिंग में 32वें स्थान पर हैं.

    जाधव के बेटे का फूटा गुस्सा, कहा-एकता को पद्म श्री तो मेरे पिता को क्यों नहीं