लाइव टीवी

नाेवाक जोकोविच: गोला- बारूद के बीच जन्म, सूखे पूल में अभ्यास, अब अंजीर के पेड़ पर जीत का जश्न

भाषा
Updated: February 3, 2020, 12:54 PM IST
नाेवाक जोकोविच: गोला- बारूद के बीच जन्म, सूखे पूल में अभ्यास, अब अंजीर के पेड़ पर जीत का जश्न
नोवाक जोकोविच ने डोमिनिक थीम को हराकर आठवीं बार ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीता.

17वां ग्रैंड स्लैम जीतकर नंबर एक का ताज हासिल करने वाले नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) बाकी खिलाड़ियों से काफी अलग हैं. जोकोविच पूरी तरह से शाकाहारी हैं. उन्होंने करियर के मुश्किल दौर में ध्यान और योग का सहारा लिया.

  • Share this:
मेलबर्न. करियर में आठवीं बार ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) जीतकर नंबर एक का ताज हासिल करने वाले सर्बिया के नोवाक जोकोविच की नजर रोजर फेडरर के 20 ग्रैंड स्लैम के रिकॉर्ड  को तोड़ने पर है. जोकोविच के अलावा सिर्फ राफेल नडाल और रोजर फेडरर ही ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने किसी एक ग्रैंडस्लैम को आठ या उससे अधिक बार जीता हो.

जोकोविच ने खिताबी मुकाबले में डोमिनिक थीम को पांच सेट तक चले कड़े मुकाबले में 6-4, 4-6,2-6, 6-3, 6-4  से मात दी थी. जीत के बाद जोकोविच ने कहा  कि अपने करियर के इस चरण में मेरे लिये सबसे अहम ग्रैंडस्लैम है, क्योंकि ग्रैंडस्लैम की वजह से ही मैं खेल रहा हूं.  जोकोविच का सफर सूखे स्वीमिंग पूल से शुरू हुआ, जिसे वह रिकॉर्ड ग्रैंडस्लैम तक लेकर जाना चाहते हैं.

Novak Djokovic, australian open, tennis, sports news, नोवाक जोकोविच, ऑस्ट्रेलियन ओपन, टेनिस, स्पोर्ट्स न्यूज
नोवाक जोकोविच पूरी तरह से शाकाहारी है.


सूखे स्वीमिंग पूल में करते थे अभ्यास

जोकोविच का जन्म जिस शहर में हुआ, वहां युद्ध से प्रभावित रहा. सर्बिया की राजधानी बेलग्राद में जन्में जोकोविच ने सूखे स्वीमिंग पूल में अभ्यास करके टेनिस का रैकेट पकड़ना सीखा. अपने करियर में कई उतार चढाव झेल चुके जोकोविच अब पहले से अधिक परिपक्व और मंझे हुए नजर आते हैं् पिछले साल करीब पांच घंटे चला विंबलडप फाइनल और 2012 में पांच घंटे 53 मिनट तक चला ऑस्ट्रेलियन ओपन फाइनल उन्होंने जीता.

नोवाक जोकोविच ने करियर के मुश्किल दौर में अध्यात्म और लंबे ध्यान सत्रों का सहारा लिया.


सुबह उठते ही परिवार को लगाते हैं गलेजोकोविच की दिनचर्या काफी अनोखी है. वह सूर्योदय से पहले अपने परिवार के साथ उठ जाते हैं. सूर्योदय देखते हैं और उसके बाद परिवार को गले लगाते हैं, साथ में गाते हैं और योग करते हैं. दो बच्चों के पिता जोकोविच पूरी तरह से शाकाहारी हैं. नेटफ्लिक्स की डाक्यूमेंट्री ‘द गेम चेंजर्स’ में उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि मैं दूसरे खिलाड़ियों को शाकाहार अपनाने के लिए प्रेरित कर सकूंगा.

Novak Djokovic
जोकोविच को अंजीर के पेड़ पर चढ़ने का काफी शौक है.


अंजीर के पेड़ पर चढ़कर मनाया जीत का जश्न
आठवां ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने का जश्न जोकोविच ने पार्टी करके नहीं, बल्कि शहर के बोटेनिकल गार्डन में अंजीर के पेड़ पर चढकर मनाया. उन्होंने कहा कि यह ब्राजीली अंजीर का पेड़ मेरा दोस्त है जिस पर चढ़ना मुझे पसंद है. यह मेरा सबसे मनपसंद काम है. पहली बार 2008 में ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने वाले जोकोविच ने 2011 से 2016 के बीच 24 में से 11 ग्रैंडस्लैम जीते और सात के फाइनल में पहुंचे. इसके बाद वह खराब दौर और कोहनी की चोट से जूझते रहे लेकिन 2017 विंबलडन के बाद लय में लौटे. इस बीच उन्होंने अध्यात्म की शरण ली और लंबे ध्यान सत्रों में भाग लिया.

Olympic CountDown: ध्यानचंद ने भारत को दिला दिया था पहला गोल्ड

नोवाक जोकोविच ने जीता ऑस्ट्रेलियन ओपन, फाइनल में डोमिनिक थीम को दी मात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टेनिस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 12:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर