लाइव टीवी
Elec-widget

Davis Cup 2019: पाकिस्तान से बाहर मुकाबला कराने का हुआ विरोध, मैच से हटे स्टार टेनिस खिलाड़ी

News18Hindi
Updated: November 18, 2019, 11:59 PM IST
Davis Cup 2019: पाकिस्तान से बाहर मुकाबला कराने का हुआ विरोध, मैच से हटे स्टार टेनिस खिलाड़ी
पाकिस्तानी टेनिस खिलाड़ी ऐसाम उल हक कुरैशी

ऐसाम उल हक कुरैशी (Aisam Ul Haq Qureshi) पाकिस्तान (Pakistan) के नंबर वन डबल्स खिलाड़ी हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 18, 2019, 11:59 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान (Pakistan) के शीर्ष डबल्स खिलाड़ी ऐसाम उल हक कुरैशी (Aisam Ul Haq Qureshi) ने भारत के खिलाफ आगामी डेविस कप (Davis Cup) मुकाबले को इस्लामाबाद (Islamabad) से तटस्थ स्थान पर स्थानांतरित करने के अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (ITF) के फैसले के विरोध में इस मैच में खेलने से इनकार कर दिया. पाकिस्तान (Pakistan) के सर्वश्रेष्ठ टेनिस खिलाड़ियों में से एक ऐसाम (Aisam Ul Haq Qureshi)  ने इंस्टाग्राम के जरिए अपने फैसले की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि अगर मुकाबले का आयोजन इस्लामाबाद में नहीं होता है तो वह इसमें नहीं खेलेंगे.

डेविस कप से हटे ऐसाम उल हक कुरैशी
उनकी इस पोस्ट से संकेत मिलते हैं कि आईटीएफ तटस्थ स्थान पर मुकाबले को स्थानांतरित करने के खिलाफ पाकिस्तान टेनिस महासंघ की अपील को खारिज कर सकता है. अपनी पोस्ट में पीटीएफ अध्यक्ष सलीम सैफुल्लाह को जानकारी देते हुए ऐसाम ने भारत और आईटीएफ की आलोचना की. ऐसाम ने लिखा, ‘अखिल भारतीय टेनिस संघ और आईटीएफ दोनों का पाकिस्तान के प्रति रवैया बेहद निंदनीय है. पाकिस्तान में भारतीय टेनिस टीम को कोई खतरा नहीं था.’

उन्होंने लिखा, ‘हालांकि अगर आईटीएफ अगर इस गलत फैसले को सही नहीं करता है तो इस अन्यायपूर्ण, अनुचित और भेदभाव से भरे फैसले के विरोध में मैं अपनी आवाज उठाना चाहता हूं और घोषणा करता हूं कि अगर यह मुकाबला पाकिस्तान के बाहर हुआ तो इसमें हिस्सा नहीं लूंगा.’ ऐसाम ने कहा कि उन्होंने गलत और अनुचित फैसले को स्वीकार करने से इनकार करके अपने देश के सम्मान और प्रतिष्ठा के लिए खड़े होने का फैसला किया है.

कुरैशी ने कहा पाकिस्तान सभी के लिए सुरक्षित
कुरैशी ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, 'आप सब जानते हैं कि कई भारतीय धार्मिक आस्था के कारण पाकिस्तान आते हैं चाहे वह करतारपुर हो या नाकाना साहिब. अब तक किसी भी तरह की हिंसक घचना नहीं हुई है ना ही बीते कुछ सालों में ऐसा हुआ है. हाल ही में ब्रिटिश रॉयल फैमिली ने पाकिस्तान का दौरा किया और वह इस्लामाबाद, लाहौर और चितराल गए थे. उनके बाद काका और फिगो जैसे फुटबॉल स्टार भी यहां आ चुके हैं. अगर वह सब पाकिस्तान आ सकते हैं तो कुछ भारतीय टेनिस खिलाड़ी क्यों नहीं आ सकते. पाकिस्तान उन्हें उच्चतम सुरक्षा देगा.' उन्होंने कहा, ‘पीटीएफ के अध्यक्ष और पाकिस्तान की जनता से आग्रह है कि वे मेरे रुख को समझें.’

Davis Cup 2019: भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबले के लिए तय हुआ तटस्थ स्थान
Loading...

जिसे KKR ने 3 दिन पहले निकाला, उसने 30 गेंद में उड़ाए 91 रन,बॉलर्स को खूब पीटा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टेनिस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2019, 11:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...