अब राजनीति में उतरेंगे नडाल-फेडरर, साथ मिलकर करेंगे काम

पिछले कुछ महीनों से कई मसलों पर विवाद देखे गए हैं जिनमें एटीपी परिषद अध्यक्ष नोवाक जोकोविच और नडाल तथा फेडरर की राय अलग अलग रही.

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 2:21 PM IST
अब राजनीति में उतरेंगे नडाल-फेडरर, साथ मिलकर करेंगे काम
रोजर फेडरर और राफेल नडाल
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 2:21 PM IST
दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी रफेल नडाल ने कहा कि वह और उनके चिर प्रतिद्वंद्वी रोजर फेडरर ने मिलकर एटीपी खिलाड़ियों की परिषद का चुनाव लड़ने का फैसला किया.

अठारह बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन स्पेन के 33 बरस के नडाल यहां अर्जेंटीना के गुइडो पेल्ला को 6-3, 6-4 से हराकर एटीपी मांट्रियल मास्टर्स में पहुंच गए हैं. वहीं बीस बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन फेडरर और नडाल को साथी खिलाड़ियों ने चुना है. राबिन हासे, जैमी मर्रे और सर्जेइ स्टाखोवस्की के इस्तीफे के बाद ये पद रिक्त हुए थे.

नडाल ने कहा ,‘हमने मिलकर जाने का फैसला किया है. ना वह अकेला होगा और ना ही मैं. हम मिलकर खेल की भलाई के लिये काम कर सकेंगे. पिछले एक साल में बहुत से उतार-चढाव आए थे जिसके बाद हमने यह फैसला किया ताकि हम बेहतर तरीके से समझ सकें कि आखिर क्या हो रहा है.’

जोकोविच पिछले कुछ समय से एटीपी का हिस्सा हैं
जोकोविच पिछले कुछ समय से एटीपी का हिस्सा हैं


पिछले कुछ महीनों से कई मसलों पर विवाद देखे गए हैं जिनमें एटीपी परिषद अध्यक्ष नोवाक जोकोविच और नडाल तथा फेडरर की राय अलग अलग रही. इनके अलावना केविन एंडरसन, जॉन इस्नर, सैम कुरै, ब्रुनु सोरर्स, लू ये हुन और वासेक पोसपिसिल भी पैनल का हिस्सा है. एटीपी ने गुरुवार को ऐलान किया कि एलीट खिलाड़ियों में शामिल रोजर फेडरर और राफेल नडाल ने 15 सालों तक इस खेल में अपना दम दिखाया है और वह तत्काल प्रभाव से अपना पद संभालेंगे.

नडाल ने कहा कि अपने 15 साल के अनुभव के दम पर काम करेंगे. उन्होंने कहा, 'पिछले कुछ समय में यह एहसास हुआ कि बहुत से जरूरी काम किए जाने हैं. मैं यहां रहकर खेल को बेहतर बनाने की कोशिश करूंगा और मुझे लगता है मैं ऐसा करने मैं मदद कर पाउंगा.' नडाल ने बताया कि उन्हें खुशी है कि बड़े खिलाड़ी इसका हिस्सा है. 12 बार के इस फेंच ओपन चैंपियन ने कहा, 'नोवाक पिछले कुछ समय से यहां मौजूद हैं. मैं और फेडरर पहले भी इसका हिस्सा रह चुके हैं. मुझे खुशी है कि बड़े खिलाड़ियों की इस बात में रुचि है कि हमारे खेल में क्या हो रहा है. अपने पूरे करियर में मैंने और फेडरर ने हमेशा टेनिस के बारे में सोचा है. हम इसका हिस्सा बनना चाहते थे इसलिए हम यहां हैं.'

गयाना वनडे रद्द होने से निराश कोहली, इसे बताया क्रिकेट की सबसे बुरी चीज
Loading...

कश्मीर में अपनों के लिए खिलाड़ियों ने भेजे ये संदेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टेनिस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2019, 2:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...